Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / December 1.
Homeन्यूज2013 के गांधी मैदान ब्लास्ट में NIA कोर्ट पटना ने सुनाया फैसला, 4 को फांसी, बाकी दोषियों को यह सजा

2013 के गांधी मैदान ब्लास्ट में NIA कोर्ट पटना ने सुनाया फैसला, 4 को फांसी, बाकी दोषियों को यह सजा

Maidan Blast
Share Now

पटना में नरेंद्र मोदी के 2013 के रैली सीरियल ब्लास्ट मामले में आज बड़ा फैसला सुनाया गया. पटना की NIA कोर्ट ने गांधी मैदान सीरियल ब्लास्ट मामले में 4 दोषियों को फांसी की सजा, 2 दोषियों को आजीवन कारावास, 2 दोषियों को 10 साल और एक दोषी को 7 साल की सजा सुनाई है.

क्या था पूरा मामला?

27 अक्टूबर 2013 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की हुंकार रैली से पहले गांधी मैदान और जंक्शन पर हुई एक घटना में छह लोगों की जान चली गई थी. 85 लोग घायल हुए थे. जेल में बंद दस आरोपियों को पिछले महीने की 27 तारीख को कोर्ट में पेश किया गया था. NIA कोर्ट ने उमर सिद्दीकी, अहमद हुसैन, अजहरुद्दीन कुरैशी, हैदर अली, इम्तियाज अंसारी, मोजीबुल्लाह अंसारी, फिरोज अहमद और नुमान अंसारी को आईपीसी अधिनियम की विभिन्न धाराओं, विस्फोटक अधिनियम की विभिन्न धाराओं और यूए (पी) के तहत दोषी ठहराया है. 2014 में सभी आरोपियों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल होने के बाद से अब तक कुल 187 लोगों ने कोर्ट में गवाही दी है.

गांधी मैदान सीरियल ब्लास्ट मामले में 27 अक्टूबर 2013 को पटना के गांधी मैदान थाने में FIR दर्ज की गई थी. इसके बाद NIA ने 21 अक्टूबर 2013 को इस मामले को उठाया और 1 नवंबर को दिल्ली के NIA स्टेशन में फिर से दर्ज किया. इसमें नाबालिग समेत 12 लोगों के खिलाफ चार्जशीट दाखिल की गई थी. इनमें से एक की इलाज के दौरान मौत हो गई थी. नाबालिग आरोपी को जुवेनाइल बोर्ड पहले ही तीन साल कैद की सजा सुना चुका है.

वकील ललन प्रसाद सिन्हा ने कहा कि मामले में दस में से नौ आरोपियों को दोषी ठहराया गया, एक आरोपी को संदेह के आधार पर बरी कर दिया गया. छह व्यक्तियों को 302/120 के तहत दोषी ठहराया गया है और बाकी धारा के तहत दोषी ठहराया गया है. NIA ने इसमें बहुत अच्छा काम किया है. उन्होंने साइंटिफिक साक्ष्यों के आधार पर सभी को दोषी ठहराया है. इस मामले की साजिश छत्तीसगढ़ (रायपुर) में रची गई थी. सामान झारखंड से लाया गया था और फिर घटना को पटना में अंजाम दिया गया था.

देखें ये वीडियो: कश्मीर में बढ़ रही आंतकी घटनाओं के बीच गृह मंत्री Amit Shah की पीएम Narendra Modi से मुलाकात

पांच को अन्य मामलों में हो चुकी है उम्रकैद की सजा

मामले के पांचों आतंकियों को पहले ही एक अन्य मामले में उम्रकैद की सजा सुनाई जा चुकी है. इनमें उमर सिद्दीकी, अजहरुद्दीन, अहमद हुसैन, फकरुद्दीन, फिरोज आलम उर्फ ​​पप्पू, नुमान अंसारी, इफ्तिखार आलम, हैदर अली उर अब्दुल्ला उर्फ ​​ब्लैक ब्यूटी, मो. मोजिबुल्लाह अंसारी और इंपियास अंसारी उर्फ ​​आलम शामिल हैं. इनमें से इम्तियाज, उमर, अजहर, मोजीबुल्लाह और हैदर को बोधगया सीरियल बम ब्लास्ट में उम्रकैद की सजा सुनाई गई है.

आपको बता दें कि पटना में नरेंद्र मोदी की हुंकार रैली थी. उस समय नरेंद्र मोदी बीजेपी और एनडीए से प्रधानमंत्री पद के उम्मीदवार थे.

ये भी पढ़ें: आज से शुरु हुआ कांग्रेस का सदस्यता अभियान, माननी होंगी ये शर्तें

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment