Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / November 26.
Homeन्यूज26/11 Mumbai terror Attack: मुंबई आतंकी हमले के 13 साल, जब गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठी थी मुंबई

26/11 Mumbai terror Attack: मुंबई आतंकी हमले के 13 साल, जब गोलियों की तड़तड़ाहट से थर्रा उठी थी मुंबई

mumbai terror attack 2611
Share Now

वर्ष 2008 में मुंबई में हुए आतंकी हमले के आज 13 साल बीत चुके हैं, 26/11 अटैक सुनते ही हर हिन्दुस्तानी का दिल सहम जाता है, उस दिन को याद करते ही आज भी सारे जख्म ताजा हो जाते हैं। इस दिन समुद्री रास्ते से आए 10 आतंकियों ने मुंबई की ताज होटल में  हमला किया था और इस हमले में 160 से ज्यादा लोग मारे गए थे और 600 से ज्यादा लोग गंभीर रूप से घायल हुए थे। मुंबईकरों को बचाने के लिए मुंबई पुलिस अधिकारियों, सिपाहियों, डॉक्टरों का महत्वपूर्ण योगदान रहा। 

26/11 Mumbai terror Attack

आंतकवादियों ने मुंबई की दो फाइव स्टार होटलों, एक अस्पताल, रेलवे स्टेशनों और एक यहूदी केंद्र को निशाना बनाया था। लश्कर-ए-तैयबा के प्रशिक्षित और भारी हथियारों से लैस दस चरमपंथियों ने मुंबई में हमले किये यह चार दिन तक लगातार चला। इस हमले के दौरान ताज होटल में फसे 157 लोगों की जान बचाई गई थी। किसी को अंदाजा नहीं था कि इतना बड़ा हमला हुआ है इस हमले से दिन रात चलने वाली मुंबईनगरी चार दिनों तक सहम गई थी।  

 

शिवाजी रेलवे टर्मिनल, ताज होटल, ओबेरॉय ट्राइडेंट पर साधा निशाना 

सबसे पहले आतंकियों ने शिवाजी रेलवे टर्मिनल पर गोलीबारी शुरू कर दी थी, अचानक से भगदड़ मच गई थी। मुंबई की कई बड़ी जगहों पर जिनमें ताज होटल, ओबेरॉय ट्राइडेंट और नरीमन हाउस पर हमले हुए थे। इसके अलावा विले पारले में दो टैक्सियों को बम से उड़ा दिया था। लगातार तीन दिनों तक सुरक्षा बलों की कार्रवाई चली थी। बचाव कार्य के दौरान नरीमन हाउस में एनएसजी कमांडो शहीद हुये थे। 

Mumbai Police

Mumbai Terror attack में शहीद शूरवीर को नमन। 

यहां पढ़ें: PM मोदी ने दी संविधान दिवस की बधाई, 14 विपक्षी पार्टियों ने किया कार्यक्रम का बहिष्कार

हेमंत करकरे समेत मुंबई पुलिस के कई बड़े अधिकारी हमले में शहीद 

29 नवंबर की सुबह तक नौ हमलावर आतंकियों को गिरफ्तार कर लिया गया था। 26 नवंबर 2008 की रात में ही आतंकवाद निरोधक दस्ते के प्रमुख हेमंत करकरे समेत मुंबई पुलिस के कई बड़े अधिकारी भी इस हमले में अपनी जान गंवाई थी। 

आतंकियों ने रब्बी गैव्रिएल होल्ट्जबर्ग और छह महीने की उनकी गर्भवती पत्नी रिवकाह होल्ट्जबर्ग समेत कई मासूमों की जान ले ली थी। जांच के दौरान सुरक्षा बलों को उस जगह से कुल छह बंधकों की लाशें मिली। चार दिनों के ऑपरेशन के बाद आतंकवादी कसाब के कई साथीयों को मुंबई पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया था। 

देखें यह वीडियो: Farm Laws Repealed 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment