Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / December 1.
HomeडिफेंसDRDO ने कोरोना जंग को मात देने के लिए तैयार की 2-DG

DRDO ने कोरोना जंग को मात देने के लिए तैयार की 2-DG

Share Now

DRDO (Defence Research and Development Organisation) रक्षा अनुसंधान एवं विकास संगठन ने कोरोना के विरुद्ध इस जंग को मात देने के लिए एक नई दवा तैयार कर दी है। डीआरडीओ द्वारा तैयार की गई दवा को  ‘2-डीजी’ (2-DG ) नाम दिया गया है। डीआरडीओ के वैज्ञानिकों का कहना है कि एंटी-कोविड दवा 2-डीऑक्सी-डी-ग्लूकोज (2-डीजी) पूरी तरह से सुरक्षित है। और रोगियों को तेजी से ठीक होने में मदद रूप रहेगी। 

DRDO की प्रयोगशाला में INMAS द्वारा विकसित  

2-deoxy-D-glucose (2-DG). 2-DG को डॉ रेड्डीज लेबोरेटरीज (DRL), हैदराबाद के सहयोग से Institute of Nuclear Medicine and Allied Sciences (INMAS) आईएनएमएएस, रक्षा अनुसंधान और विकास संगठन (DRDO)(Defence Research and Development Organisation) की एक प्रयोगशाला द्वारा विकसित किया गया है। 

 चीफ साइंटिस्ट  डॉ. सुधीर चंदाना एडिशनल डायरेक्टर (INMAS), DRDO 

चीफ साइंटिस्ट  डॉ. सुधीर चंदाना चिकित्सा ने बताया है कि, इसे बेहद आसानी से उत्पादित किया जा सकता है, इसलिए देशभर में जल्दी ही आसानी से उपलब्ध भी कराया जाएगा। इसके फेज 2 और 3 के रिसर्च करने के लिए कई कंपनियों ने साथ दिया है। यह दवा कोरोना मरीजों को रिकवर होने में काफी मदद करेगी और ऑक्सीजन की कमी को पूरा करेगी। उन्होंने यह भी बताया की ट्रायल के दौरान पाया गया कि कोरोना के मरीजों को यह दवा देने से जल्दी रिकवरी पाई गई।

यहाँ भी पढ़ें: बालाकोट एयर स्ट्राइक के दौरान दो दुर्भाग्यपूर्ण घटनाएं

इस दवा को ग्लूकोज का एक बदला हुआ रूप है। जो कि बॉडी के सभी सेल्स तक पहुँचता है। 2-DG कोशिकाओं के साथ शरीर के अंदर पहुंचकर इकटठा होता है, और वायरस जिस जगह पर है उससे लड़ता है। जिससे वायरस ज्यादा स्प्रेड नहीं होता है। इस दवा को लेने से शरीर में अत्यधिक मात्रा में प्रोटीन बनेगा, जिससे कोरोना वायरस से लड़ने की शरीर को ताकत मिलेगी। कोरोना से संक्रमण होने का खतरा कम रहेगा।   

अप्रैल 2020 से चल रहा था 2-DG का रिसर्च

अप्रैल 2020 से इस दवा का रिसर्च चल रहा था। जिसमें  में देश के सभी राज्यों में से 27 हॉस्पिटल्स शामिल थे फेज 2में ,और फेज 3 में 17 हॉस्पिटल्स  शामिल थे।  DRDO ने बताया कि कोशिश यही की जा रही है कि दवा का मूल्य कम रखा जाए। और दवा को देशभर में जल्दी ही  जल्द ही मार्केट में आसानी से उपलब्ध कराई जाएगी। इस दवा की 10 हजार डोज का पहला बैच जल्द ही उपलब्ध होगा। 

2-DG दवा को लेने का तरीका 

  • 2-DG दवा का कोर्स 5 दिनो का रहेगा। 
  • यह दवा पाउडर फ़ोम में रहेगी। 
  • इसे सुबह शाम दोनों वक्त लेना है।  
  • पानी में घोलकर दवा का सेवन करना है। 

ध्यान दें: वैक्सीनेटेड होने के बाद भी यदि संक्रमण होता है तो 2-DG दवा का सेवन कर सकते हैं। इससे किसी भी तरह की शारीरिक तकलीफ नहीं होगी: चीफ साइंटिस्ट  डॉ. सुधीर चंदाना   

देश और दुनिया की खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ OTT INDIA पर.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App
Android: http://bit.ly/3ajxBk4
iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment