Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / August 10.
HomeकहानियांJob ना मिलने पर हाथ में विज्ञापन पत्र लेकर लंदन के स्टेशन पर खड़ा हुआ यह आदमी, कुछ ही दिनों में मिली नौकरी

Job ना मिलने पर हाथ में विज्ञापन पत्र लेकर लंदन के स्टेशन पर खड़ा हुआ यह आदमी, कुछ ही दिनों में मिली नौकरी

Job
Share Now

कोरोना महामारी के बाद न केवल भारत बल्कि पूरी दुनिया में बेरोजगारी बढ़ती हुई देखी जा रही है. ऐसे में फ्रेशर्स को नौकरी (Job) मिलने में और ज्यादा दिक्कत आ रही है. तभी नौकरी खोजकर थक जाने वाले ब्रिटेन के लंदन के एक व्यक्ति ने रेल्वे स्टेशन पर अपने रेज्यूमे का पॉप-अप स्टैंड लगा दिया. व्यक्ति का नाम हैदर मलिक है. 24 वर्षीय हैदर मलिक ने कई इंटरव्यु दिये लेकिन जब जॉब नहीं मिली तो उन्होंने लंदन के रेल्वे स्टेशन पर पॉप-अप स्टैंड एड दिया. ऐसा करने के कुछ ही घंटों बाद, मलिक को नौकरी का ऑफर आया.

Job

COURTESY: GOOGLE.COM

कहां से मिला आइडिया

द मिरर की एक रिपोर्ट के अनुसार, लंदन में रहने वाले हैदर मलिक मूल रूप से पाकिस्तान के रहने वाले हैं. वे मिडिलसेक्स यूनिवर्सिटी से बैंकिंग और फाइनेंस में फर्स्ट डिविजन से पास हुए हैं. हैदर मलिक ने बताया कि उन्हें ये पॉप-अप स्टैंड का आइडिया उनके पिता ने दिया था. विज्ञापन पत्र जैसा स्टैंड लगाने के तीन घंटे में उन्हें एक इंटरव्यु मिल गया और उनका दूसरे राउंड के लिए सिलेक्शन भी हो गया.

Job

COURTESY: GOOGLE.COM

24 साल के हैदर मलिक ने 2 नवंबर की सुबह पूर्वी लंदन में कैनरी व्हार्फ जाने का फैसला किया, ताकि बैंकिंग और फाइनेंस में एक नौकरी मिल सके. मलिक 2020 में कोविड-19 महामारी की शुरुआत के बाद से एक नौकरी की तलाश कर रहे थे. लेकिन उन्होंने कहा कि वह जूम पर इंटरव्युज देकर थक चुके थे.

अपने पिता महमूद मलिक, 67, एक कैब ड्राइवर, जो एक किशोर के रूप में पाकिस्तान से लंदन आए थे, उनसे प्रेरित होकर, मलिक ने एक रिस्क लिया था. पॉप-अप स्टैंड लगाने के कुछ ही दिनों में उन्हें प्रोपर्टी कंपनी द कैनरी व्हार्फ ग्रुप में ट्रेजरी एनालिस्ट के रूप में नौकरी मिली.

पॉप-अप स्टैंड लेकर खड़े रहना

कैनरी व्हार्फ रेल्वे स्टेशन के बाहर पॉप-स्टैंड लेकर खड़े रहने पर उन्होंने कहा: ‘पहले पांच मिनट या 10 मिनट मुझे घबराहट महसूस हुई क्योंकि मैं वहां खाली हाथ खड़ा था. मुझे यह वाकई अटपटा लगा. मुझे नहीं पता था कि मैं क्या कर रहा था. ‘मेरे बैग में मेरे सारे सीवी थे. लोगों को देखने की कोशिश कर रहा था और लोगों से मिलने की उम्मीद कर रहा था बजाय इसके कि मैं आगे से चलके उनसे बात करूं.’

देखें ये वीडियो: पहली बार पुरुषों के मुकाबले महिलाओं की संख्या ज्यादा

कैनरी व्हार्फ रेल्वे स्टेशन पहुंचने से पहले, मलिक ने रोमफोर्ड में एक स्टेशनरी की दुकान से एक बोर्ड खरीदा और उसमें क्यूआर कोड संलग्न किए ताकि लोग आसानी से उनका सीवी डाउनलोड कर सकें और उनकी लिंक्डइन प्रोफाइल देख सकें. वे कैनरी व्हार्फ स्टेशन पर जल्दी पहुंचने वाले यात्रियों से बात करने के लिए सुबह 7 बजे स्टेशन पहुंच गए. मलिक ने कहा: ‘मैंने अपना सीवी अपने हाथ में रखा था और मैं सिर्फ लोगों को गुड मॉर्निंग कह रहा था, बस लोगों को बातचीत में शामिल करने की कोशिश कर रहा था. बहुत से लोगों ने मुझे अपने कार्ड दिए, उन्होंने मुझे अपने फोन नंबर दिए, और मुझसे बात करने लगे.’

कैसे हुए वायरल

जबकि कुछ लोगों ने प्रोत्साहन के शब्द दिए, काम पर जाने वाले एक व्यक्ति ने जीवन बदलने वाली मदद की. मलिक ने कहा: ‘इमैनुएल नाम का एक व्यक्ति था जिसने वास्तव में मेरी एक तस्वीर ऑनलाइन पोस्ट की थी’. वह मेरे पास आया, उसने अपना हाथ बाहर निकाला और कहा: “मैं तुम्हारे साथ अच्छा होने की कामना करता हूं”. उन्होंने कहा कि वह भी दो साल पहले कुछ ऐसा ही करना चाहते थे लेकिन उनमें ऐसा करने की हिम्मत नहीं थी. वह खुश थे कि मैंने इसे करने के लिए खुद को आगे रखा और वह लिंक्डइन पर मेरी एक तस्वीर साझा करना चाहते थे.’

Job

COURTESY: GOOGLE.COM

मलिक ने स्टेशन पर पहुंचने के एक घंटे के भीतर अपने सभी सीवी दे दिए थे और सुबह 9.30 बजे तक, उन्हें एक मैसेज मिला जिसमें उन्हें कैनरी व्हार्फ ग्रुप में एक ट्रेजरी एनालिस्ट के रूप में नौकरी के लिए एक इंटरव्यु में आने के लिए कहा गया था.

मलिक ने कहा: ‘मुझे डिपार्टमेंट के डायरेक्टर से लगभग 9.30 बजे एक टेक्स्ट मैसेज मिला, जिसमें कहा गया था: ‘सुबह 10.30 बजे इंटरव्यु के लिए आओ’. मेरी कार पार्किंग में थी इसलिए मैंने बोर्ड लिया और अपना सारा सामान ले लिया. और मेने सोचा “वाह, यह पागल है”. ‘उन्होंने एक इमारत की 30वीं मंजिल पर मेरा इंटरव्यु लिया और मैं कैनरी व्हार्फ को यह सोचकर देख रहा था: “वाह, मुझे कभी भी यहां इंटरव्यु देने की उम्मीद नहीं थी, नौकरी पाने की संभावना को तो छोड़ दें.”

Job

COURTESY: GOOGLE.COM

इंटरनेट पर वायरल होने के बाद हुआ ये

इंटरव्यु के बाद, मलिक अपनी कार से घर वापस गए, लेकिन जल्दी ही उन्हें एहसास हुआ कि उनकी कहानी सोशल मीडिया पर वायरल हो गई है. मलिक ने कहा: ‘उसी दिन मेरी जिंदगी बदल गई क्योंकि जब मैं इंटरव्यु के बाद घर जाने के लिए कार में वापस आया, तो मैंने अपना फोन चेक किया और मेरे पास अलग-अलग नंबरों से लगभग 10 मिस्ड कॉल आए. मुझे नहीं पता था कि लिंक्डइन पोस्ट सीधे वायरल हो गई थी और मेरा नंबर मेरे सीवी पर था इसलिए लोग इसे स्कैन कर रहे थे और मुझे कॉल कर रहे थे. पहले तीन दिनों तक मेरा फोन नॉन-स्टॉप बज रहा था, यह कभी भी बजना बंद नहीं हुआ और लिंक्डइन पर वास्तव में बहुत मैसेज थे. यह क्रेजी हो रहा था और मुझे अपने परिवार से सारे डीएम को जवाब देने और लोगों से संपर्क करने में मदद लेनी पड़ी.’

Job

COURTESY: GOOGLE.COM

मलिक ने शुक्रवार 5 नवंबर को कैनरी व्हार्फ ग्रुप में इंटरव्यु के दूसरे पार्ट में भाग लिया और उसी शाम उन्हें नौकरी ऑफर की गई. मलिक ने कहा: ‘पहला इंटरव्यु उसी दिन मंगलवार को सुबह था, और फिर मुझे शुक्रवार को दूसरा इंटरव्यु मिला. और फिर शुक्रवार की शाम तक वे मुझसे खुश थे और मैंने जॉब ऑफर स्वीकार कर ली.’

ये भी पढ़ें: International Children’s Day बोलें तो 20 नवंबर, इस वजह से चुनी गई ये तारीख

बहुत दृढ़ संकल्प, थोड़ी किस्मत और एक अजनबी की मदद के साथ, मलिक की योजना काम कर गई और उन्होंने उस व्यक्ति को धन्यवाद देने का फैसला किया. मलिक ने कहा: ‘मैं उन्हें धन्यवाद कहने के लिए कुछ दोपहर के भोजन की ट्रीट देना चाहता था. जिस तरह से यह सब हुआ वह वास्तव में अच्छा था – मैंने एक चांस लिया था.’

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment