Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / January 29.
Homeन्यूजबहू ऐश्वर्या राय से पूछताछ पर भड़की सपा सांसद जया बच्चन, बीजेपी को लेकर कही बड़ी बात

बहू ऐश्वर्या राय से पूछताछ पर भड़की सपा सांसद जया बच्चन, बीजेपी को लेकर कही बड़ी बात

Aishwarya Rai Bachchan: SP MP Jaya Bachchan furious over questioning of daughter-in-law Aishwarya Rai, said big thing about BJP
Share Now

पनामा पेपर्स को लेकर ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai Bachchan) बच्चन की मुश्किलें बढ़ सकती हैं. ऐश्वर्या राय बच्चन से पूछताछ के बाद इस मामले पर अब सियासत गरमा गई है. पनामा पेपर्स से बच्चन परिवार का नाम जुड़ा रहा है. लेकिन उत्तर प्रदेश में चुनाव से पहले ये मुद्दा कई मायनों में सुर्खियां बटौर सकता है. बहु ऐश्वर्या राय बच्चन को पूछताछ के लिए बुलाए जाने पर अब जया बच्चन की प्रतिक्रिया सामने आई है. समाजवादी पार्टी की सांसद जया बच्चन ने बहू ऐश्वर्या से पूछताछ पर प्रतिक्रिया जाहिर की है.

इस मामले पर सपा सांसद जया बच्चन ने कहा ‘कि चुनाव नजदीक हैं. इसलिए ये लोग टारगेट कर रहे हैं. बहु ऐश्वर्या से पूछताछ पर जया बच्चन ने ज्यादा कुछ तो नहीं कहा लेकिन जया बच्चन ने आगामी चुनाव का जिक्र करते हुए कहा कि ये लोग यूपी से डरे हुए हैं’.  

साथ ही समाजवादी पार्टी के नेताओं पर छापेमारी के सवाल पर जया बच्चन ने कहा कि ‘ये लोग लाल टोपियों से घबरा रहे हैं. जया बच्चन ने आगे कहा कि ये लाल टोपियां ही इन लोगों को कटघरे में खड़ा करेगी.

इसे भी पढ़े: बच्चन खानदान की बहू ऐश्वर्या राय को लेकर आई बड़ी खबर, इस हरकत पर लगा झटका

साथ ही राज्यसभा से निलंबित हुए सदस्यों का जिक्र करते हुए जया बच्चन ने कहा कि इन सदस्यों में 5 महिलाएं और बाकी पुरुष हैं. इन लोगों ने ऐसा क्या कर दिया कि लोग पिछले 1 महीने से ठंड में बाहर बैठकर प्रदर्शन कर रहे हैं. जया बच्चन ने पार्टी के पक्ष में बोलते हुए अपना तर्क रखा. साथ ही सरकार पर भी जमकर निशाना साधा.

बहू ऐश्वर्या से चली 5 घंटे पूछताछ

  • सोमवार को प्रवर्तन निदेशालय ने बच्चन परिवार की बहू ऐश्वर्या राय (Aishwarya Rai Bachchan) बच्चन को पनामा पेपर्स से जुड़े मामले में तलब किया था.
  • इस मामले में ऐश्वर्या राय बच्चन से करीब 5 घंटे तक लंबी पूछताछ चली
  • ऐश्वर्या राय बच्चन पर विदेशी मुद्रा प्रबंधन अधिनियम (फेमा) का उल्लंघन करने का आरोप लगा है.
  • साल 1016 में जर्मन के न्यूजपेपर Suddeutsche Zeitung ने पनामा पेपर्स के नाम से जुड़ा एक डेटा रिलीज किया था. जिसमें भारत समेत कई राजनेताओं, बिजनेसमैन, और बी टाउन से जुड़ी कुछ बड़ी हस्तियों का नाम शामिल थे. इस मामले से जुड़े लोगों पर मनी लॉन्ड्रिंग के आरोप लगाए थे.  

No comments

leave a comment