Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
HomeबिजनेसAmazon पर लगा भारत में सरकारी अधिकारियों को रिश्वत देने का आरोप, मामले की हो रही जांच

Amazon पर लगा भारत में सरकारी अधिकारियों को रिश्वत देने का आरोप, मामले की हो रही जांच

Amazon
Share Now

दुनिया की सबसे बड़ी ऑनलाइन रिटेलर कंपनी Amazon पर गंभीर आरोप लगे हैं. जानकारी के मुताबिक  इसके तीन पदाधिकारियों ने व्हिसलब्लोअर बनकर  कंपनी के खिलाफ बड़े आरोप लगाए हैं. बता दें कि Amazon पर अपने कानूनी प्रतिनिधियों के जरिए भारत सरकार के अधिकारियों को घूस देने का आरोप लगा है. इसके लिए उन्हेंने कंपनी के कानूनी शुल्क भुगतान का इस्तेमाल किया है.  फिलहाल Amazon ने भारत सरकार के अधिकारियों को कथित रूप से रिश्वत देने वाले अपने कानूनी प्रतिनिधियों के खिलाफ जांच कर रही है. 

जानकारी के मुताबिक आरोप है कि अमेजन संबंधित अधिकारियों को रिश्वत देता है. साथ ही कंपनी ने 8,500 करोड़ रुपये लीगल फीस के रूप में भरा है. CAIT के राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने वाणिज्य मंत्री पीयूष गोयल को लिखित रूप में लेटर लिख कर शिकायत के रूप में कहा कि कानूनी पेशेवर शुल्क के तहत खर्च की गई बड़ी राशि ये दिखाती है कि  कैसे अमेजान और उसकी सहायक कंपनियां भारत सरकार के अधिकारियों को रिश्वत देने और हेरफेर करने के लिए अपनी वित्तीय ताकत का दुरुपयोग कर रही हैं.” इसके अलावा भारतीय व्यापारी महासंघ की ओर से मामले में सीबीआई जांच की मांग भी की गई है.

CAIT के राष्ट्रीय महासचिव प्रवीण खंडेलवाल ने कहा कि दुनिया भर में कौन सी कंपनी वकीलों को भुगतान करने पर अपने अर्जित राजस्व का 20 प्रतिशत से अधिक खर्च करते हुए व्यवसाय में टिके रहने में सक्षम है और वह भी साल-दर-साल घाटे में चल रही है, लेकिन  भारत में वैश्विक ई-टेलर अमेज़न कंपनी इसका जीता जागता उदाहरण है. 

ये भी पढ़ें: स्विगी और जोमैटो पर क्या ऑर्डर देना होगा महंगा? सरकार ने दिया ये जवाब

खंडेलवाल ने ये भी दावा किया कि अमेज़न ने दो साल यानि 2018-20 वित्त वर्ष  में लगभग 45,000 करोड़ रुपये के कारोबार के मुकाबले कानूनी और पेशेवर शुल्क पर लगभग 8,500 करोड़ रुपये खर्च किए है. 

वहीं दूसरी तरफ अमेज़न के प्रवक्ता का कहना है कि हम भ्रष्टाचार को बिल्कुल भी बर्दाश्त नहीं करते हैं, हम कंपनी के खिलाफ अनुचित आचरण के आरोपों को गंभीरता से लेकर इसके खिलाफ उचित कार्रवाई कर रहे हैं. फिलहाल हम किसी जांच स्थिति पर टिप्पणी नहीं कर सकते. 

जानकारी के लिए बता दें कि सोमवार को मॉर्निंग कॉन्टेक्स्ट की एक रिपोर्ट में कहा गया है कि अमेज़ॅन ने भारत सरकार के अधिकारियों को कथित रूप से रिश्वत देने के लिए अपने कुछ कानूनी प्रतिनिधियों के खिलाफ जांच शुरू की है. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment