Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / September 29.
Homeन्यूजयोगी सरकार बनाएगी अंबेडकर स्मारक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रखी आधारशिला

योगी सरकार बनाएगी अंबेडकर स्मारक, राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने रखी आधारशिला

Ambedkar Smarak Lucknow
Share Now

Ambedkar Smarak Lucknow: यूपी में दिन प्रति दिन सियासी पारा बढ़ता ही जा रहा है। जैसे-जैसे चुनाव का समय नजदीक आ रहा है, वैसे-वैसे बयानबाज़ी और वार पलटवार की राजनीति (Ambedkar Smarak Lucknow) देखने को मिल रही है। पिछले कुछ दिनों से बसपा सुप्रीमों मायावती ने अपने तेवर दिखाने शुरू कर दिए है। पहले ओवैशी के साथ चल रही गठबंधन की चर्चा का खंडन किया। अब मंगलवार को योगी सरकार पर भी जमकर हमला बोला।

रामनाथ कोविंद ने रखी अंबेडकर स्मारक की आधारशिला:

आपको बात दें उत्तर प्रदेश में योगी सरकार लखनऊ में अंबेडकर स्मारक और सांस्कृतिक केंद्र बनाएगी। सीएम योगी आदित्यनाथ की मौजूदगी में राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने इस अंबेडकर स्मारक की आधारशिला रखी। इसके तुरंत बाद मायावती ने ट्वीट कर कहा कि चुनाव के मौके पर यह भाजपा की नाटकबाजी है।

मायावती ने साधा भाजपा पर निशाना:

मायावती ने ट्वीट करते हुए लिखा ”बाबा साहेब डा. भीमराव अम्बेडकर व उनके करोड़ों शोषित-पीड़ित अनुयाइयों का सत्ता के लगभग पूरे समय उपेक्षा व उत्पीड़न करते रहने के बाद अब विधानसभा चुनाव के नजदीक यूपी भाजपा सरकार द्वारा बाबा साहेब के नाम पर ’सांस्कृतिक केन्द्र’ का शिलान्यास करना यह सब नाटकबाजी नहीं तो और क्या है?।”

यहाँ पढ़ें: राहुल और प्रियंका से सिद्धू की मुलाकात!, दूर होगा पंजाब कांग्रेस का संकट

कुछ ऐसा होगा अम्बेडकर स्मारक:

योगी सरकार ने जिस अम्बेडकर स्मारक की आधारशिला राष्ट्रपति कोविंद से रखवाई है, वह लखनऊ के ऐशबाग इलाके में बनेगा। स्मारक में डॉ आंबेडकर की 25 फ़ीट की मूर्ति लगेगी और इसमें 750 लोगों के लिए ऑडिटोरियम,लाइब्रेरी,म्यूजियम और रिसर्च सेंटर भी बनाया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में क़रीब 22 फीसदी दलित वोट:

गौरतलब है कि उत्तर प्रदेश में क़रीब 22 फीसदी दलित वोट है। मायावती की यूपी में दलित वोटों पर अच्छी खासी पकड़ है। चुनाव में चाहे सीट मायावती को कम मिलें लेकिन उनका वोट प्रतिशत बहुत कम नहीं होता।

यहाँ पढ़ें: 19 जुलाई से शुरू हो सकता है संसद का मानसून सत्र

पिछले चुनाव में भाजपा ने लगाई थी मायावती के वोटों में सेंध:

लेकिन पिछली बार 2017 के विधान सभा चुनाव में उत्तर प्रदेश में भाजपा ने मायावती के वोटों में जोरदार सेंध लगते हुए प्रदेश की 86 आरक्षित सीटों में से 68 सीट पर जीत दर्ज की जबकि मायावती को सिर्फ 2 सीटें मिली थी। देखना है कि क्या इस बार मायावती अपना खोया हुआ विश्वास वापस प्राप्त कर पाती है या नहीं..?

यहाँ पढ़ें: पेट्रोल और डीजल के बढ़ते दामों से मिलेगा छुटकारा! जानिए क्या है नए ऐलान!

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें OTT INDIA App पर…. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment