Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 15.
Homeन्यूजऑस्ट्रेलिया के लोग खाएंगे केरल के कटहल से बने प्रोडक्ट, आने वाले समय में बढ़ सकती है डिमांड

ऑस्ट्रेलिया के लोग खाएंगे केरल के कटहल से बने प्रोडक्ट, आने वाले समय में बढ़ सकती है डिमांड

Jackfruit Product
Share Now

ऑस्ट्रेलिया के लोग अब केरल के कटहल से बना प्रोडक्ट (Jackfruit Product) खाएंगे. इसके लिए बकायदा एपीडा ने पहली खेप रवाना कर दी है. एपीडा का मतलब कृषि और प्रसंस्कृत खाद्य उत्पाद निर्यात विकास प्राधिकरण से है. जिसने केरल के त्रिशूर के किसानों से मिले कटहल और पैशन फ्रूट से बने प्रोडक्ट (Jackfruit Product) को ऑस्ट्रेलिया (Australia) के मेलबर्न के लिए रवाना किया.

बता दें कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी का लक्ष्य 2021-22 तक 400 बिलियन डॉलर के वस्तु को निर्यात करने का है. इस दिशा में एपीडा का ये अच्छा कदम है, एपीडा की ओर से लगातार उत्पादों के निर्यात को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसके अध्यक्ष डॉ. एम अंगमुथु और केरल के कृषि निदेशक टीवी सुभाष समेत एपीडा के कई अन्य अधिकारियों ने वर्चुअली खेप को हरी झंडी दिखाई.

केरल का राज्य फल है कटहल 

बड़ी बात ये है कि कटहल केरल का राज्य फल है. मार्च 2018 में इसे राज्य फल घोषित किया गया था. इसकी खासियत ये है कि इसमें फाइबर, प्रोटीन, विटामिन और खनिज प्रचुर मात्रा में होते हैं. इसमें प्रोटीन पर्याप्त मात्रा में होने की वजह से शाकाहारी लोगों में ये काफी प्रचलित है. कटहल के फल और बीज का इस्तेमाल जहां खाने में होता तो वहीं इसके छाल का इस्तेमाल पारंपरिक दवाओं को बनाने में किया जाता है.

आने वाले समय में बढ़ सकती है डिमांड 

ऑस्ट्रेलिया के अलावा सिंगापुर, नेपाल, कतर और जर्मनी में भी भारत कटहल से बने प्रोडक्ट (Jackfruit Product) और कटहल का निर्यात करता है. देशभर में कटहल का उत्पादन करने वाले किसानों की मेहनत और इससे होने वाले फायदे को देखते हुए ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है कि कटहल सबसे ज्यादा मांग वाला फल बन जाएगा.

ये भी पढ़ें: इन वजहों से हमारे शरीर में विटामिन का है अत्यधिक महत्व!

पैशन फ्रूट से मिलती है मजबूती

वहीं पैशन फ्रूट की बात करें तो यह एंटीऑक्सीडेंट, विटामिन और फाइबर से भरपूर होता है. इससे भी शरीर को मजबूती मिलती है. कुल मिलाकर केरल का कटहल आने वाले दिनों में दुनिया में काफी प्रसिद्ध होने वाला, ऐसा अनुमान लगाया जा रहा है.

No comments

leave a comment