Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / May 16.
Homeडिफेंसगुजरात में ‘ताऊ ते’ का सामना करने के लिए भारतीय सेना मदद के लिए तैयार

गुजरात में ‘ताऊ ते’ का सामना करने के लिए भारतीय सेना मदद के लिए तैयार

Share Now

अरब सागर से आया ‘ताऊ ते’ चक्रवात गुजरात के पोरबंदर तट से अब केवल 150 किलोमीटर दूर है। तूफान तेज हवाओं की गति से 165 किमी प्रतिघंटे की रफ्तार से आगे बढ़ रहा है। गुजरात राज्य में तूफान के मद्देनजर सूरत एयरपोर्ट को शाम 6 बजे तक के लिए बंद कर दिया गया है। गुजरात के कच्छ में तूफान से तबाही की आशंका को देखते हुए प्रशासन यलो अलर्ट पर है। गुजरात की ओर तूफान की गति तेजी से बढ़ रही है। भारतीय सेना मदद के लिए पूरी तरह से तैनात हो चुकी है। 

NDRF की 50 से ज्यादा टीमें तैनात 

गुजरात में बढ़ते खतरे को देखते हुए NDRF की 50 से ज्यादा टीमें तैनात की जा चुकी है। आज शाम तक अपनी-अपनी जगह पर 24 टीमें तैनात हो चुकी हैं। तूफान ‘ताऊ ते’ को देखते हुए NDRF की 13 टीमें बाहर से मंगाई गई है। बता दें, कि  ‘ताऊ ते’ से गुजरात के तटीय जिलों में भारी बारिश होने की संभावना है। हाँलकी तटीय जिलों में रहने वाले डेढ़ लाख लोगों का स्थलांतरण कराया जा चुका है। ‘ताऊ ते’  का सामना करने के लिए गुजरात में NDRF सेना हर तरह की मदद के लिए पूरी तरह तैयार है।  

भारतीय सेना ने देश के विभिन्न हिस्सों में पश्चिमी तट के साथ अपने कॉलम और इंजीनियर्स टास्क फोर्स (ETF) को अग्रिमता देकर  चक्रवात ‘ताऊ ते’ के मद्देनजर रखते हुए बचाव और राहत कार्यों के लिए पहले से तैयारियां शुरू कर दी गई हैं। 

भारतीय सेना तूफान का सामना करने के लिए तैयार

भारतीय सेना तूफान का सामना करने के लिए तैयार

गुजरात के तटीय क्षेत्रों में भीषण चक्रवाती तूफान के पूर्वानुमान के कारण, बड़ी संख्या में भारतीय सेना की इकाइयों और संरचनाओं ने बड़ी संख्या में टीमों को तैयार कर दिया गया है। बड़ी संख्या में संचार उपकरणों और इंजीनियर टास्क फोर्स की मदद से राहत प्रदान करने के लिए तैयार है। 

मौसम विभाग द्वारा अनुमानित अत्यंत गंभीर चक्रवाती तूफान के आसन्न भूस्खलन के साथ, गुजरात में सेना संचार के तत्वों के साथ-साथ लगभग 180 टीमों के साथ पूरी तरह से तैयार है। केंद्र शासित प्रदेश दीव (DIU) सहित सौराष्ट्र में सबसे अधिक प्रभाव पड़ने की संभावना है। इसके अनुसार लगभग 60 एकीकृत टीमें कार्यरत हैं। 

लगभग 60 एकीकृत टीमें कार्यरत होने की ओर अग्रसर हैं।

जामनगर सैन्य स्टेशन से दीव और पोरबंदर को सहायता प्रदान

जामनगर सैन्य स्टेशन से दीव और पोरबंदर को सहायता प्रदान करने के लिए 12 टीमें राहत कार्यों को पूरा करने के लिए तैयार हैं। राज्य प्रशासन की सहायता के लिए अहमदाबाद छावनी से सौराष्ट्र के रास्ते पर इंजीनियर टास्क फोर्स की मदद से तैयारी की जा चुकी है। कोविड के प्रोटोकॉल को ध्यान में रखते हुए, इसका पालन करते हुए सहायता दी जा रही है। 

क्यूंकी सौराष्ट्र के सबसे अधिक प्रभावित होने की संभावनायेँ है, जिसमें केंद्र शासित प्रदेश दीव भी शामिल है, दीव में नागरिक प्रशासन की सहायता के उद्देश्य से 10 एकीकृत टीमों का गठन किया गया है। वहीं जूनागढ़ क्षेत्र की ओर  10-10 टीमों को रवाना किया गया है। किसी भी समय पर स्थिति उत्पन्न होने पर राज्य प्रशासन द्वारा विश्लेषण के बाद दिए गए आदेश के अनुसार दूसरी टीम कम समय में पहुंचने के लिए तैयार है। सभी इकाइयों को तूफान के प्रभाव के लिए तैयार कर लिया गया है और नागरिक प्रशासन के साथ आवश्यक समन्वय किया गया है।  

गुजरात में तूफान के कहर का सामना करने के लिए हमारी भारतीय सेना NDRF की टीम पूरी तरह से तैयार है।

देश और दुनिया की खबरों के लिए बने रहें हमारे साथ OTT INDIA पर.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4
iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment