Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / June 27.
Homeन्यूजAssembly Elections 2022: 5 राज्यों की चुनावी तारीखों का ऐलान, जानें इस बार चुनावों में क्या होगा नया

Assembly Elections 2022: 5 राज्यों की चुनावी तारीखों का ऐलान, जानें इस बार चुनावों में क्या होगा नया

assembly election 2022 date
Share Now

Assembly Elections 2022: चुनाव आयोग पांच राज्यों उत्तर प्रदेश(UP), उत्तराखंड(Uttarakhand), पंजाब(Punjab), मणिपुर (Manipur) और गोवा(Goa) में होने वाले विधानसभा चुनाव के तारीखों का ऐलान कर दिया है. चुनाव के ऐलान के साथ ही आदर्श आचार संहिता लागू हो गई है. इन 5 राज्यों में कुल मिलाकर 690 विधानसभा सीटें हैं, जिनमें से उत्तर प्रदेश में अकेले 403 विधानसभा सीटे हैं. जबकि पंजाब में 117, उत्तराखंड में 70, मणिपुर में 60 और गोवा में 40 विधानसभा सीटें हैं. 

यूपी में सात चरण में होंगे चुनाव 

पांच राज्यों में 7 चरणों में चुनाव संपन्न होंगे. इन पांच राज्यों में 18.3 करोड़ मतदाता वोट करेंगे, जिनमें से 24.9 लाख मतदाता पहली बार वोट(First Time Voter) करेंगे. उत्तर प्रदेश में पहले चरण के चुनाव के लिए 14 जनवरी को अधिसूचना जारी होगी और 10 फरवरी को पहले चरण का चुनाव होगा. दूसरे चरण में उत्तर प्रदेश, पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में चुनाव होंगे.

पंजाब, उत्तराखंड, गोवा में एक चरण में होंगे चुनाव 

पंजाब, उत्तराखंड और गोवा में एक ही चरण में 14 फरवरी को होंगे. तीसरे चरण में 20 फरवरी को सिर्फ उत्तर प्रदेश में चुनाव होंगे. चौथे चरण का चुनाव उत्तर प्रदेश में 23 फरवरी को होगा. मणिपुर में दो चरणों में चुनाव होंगे, पांचवें और छठे चरण का चुनाव क्रमश: 27 फरवरी और 3 मार्च को  मणिपुर में चुनाव होगा. उत्तर प्रदेश में अंतिम और सातवें चरण का चुनाव 7 मार्च को होगा. साथ ही मतगणना 10 मार्च को होगी. 

मुख्य चुनाव आयुक्त सुशील चंद्रा(CEC Sushil Chandra) ने प्रेस कॉन्फ्रेंस कर बताया कि इन 4 राज्यों में मार्च के महीने में विधानसभा का कार्यकाल खत्म होने वाला है. बीते दो सालों से कोरोना के मामलों की वजह से काफी परेशानियां आईं हैं. मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि कोरोना के बढ़ते केस के मद्देनजर चुनाव(Assembly Elections 2022)करवाना चुनौतीपूर्ण है लेकिन चुनाव करवाना हमारा कर्तव्य है.

इस बार के चुनाव में ये होगा नया 

हर विधानसभा क्षेत्र में एक ऐसा बूथ होगा जिसका प्रबंधन महिलाएं करेंगी, जो महिला सशक्तिकरण को अच्छा उदाहरण होगा और महिलाएं निश्चिंत होकर वोट डाल सकेंगी. हर बूथ पर 1250 मतदाता वोट डाल सकेंगे. Know Your Candidate ऐप पर कई जानकारी उपलब्ध होगी, उम्मीदवारों को अपने आपराधिक इतिहास(Criminal Record) की जानकारी देनी होगी. सुविधा ऐप के जरिए ऑनलाइन नामांकन(Online Nomination) हो सकेगा.

पोलिंग टाइम में एक घंटे की बढ़ोत्तरी 

कोरोना के मद्देनजर पोलिंग टाइम में एक घंटे की बढ़ोत्तरी की गई है. उम्मीदवारों की खर्च की सीमा 28 लाख से बढ़ाकर 40 लाख कर दी गई है.  ज्यादा से ज्यादा डिजिटल और वर्चुअल तरीके से पार्टियां प्रचार करें, 15 जनवरी तक पदयात्रा या रोड शो या साइकिल-बाइक रैली और जनसभा की अनुमति नहीं होगी. रात 8 बजे से सुबह 8 बजे तक एक तरह से कैंपेन कर्फ्यू होगा. साथ ही जीत के बाद जश्न पर भी रोक रहेगी. 

उन्होंने कहा कि हमारा इन तीन बातों पर फोकस रहेगा. पहला कोविड सेफ इलेक्शन(Covid Safe Election), दूसरा कंफर्टेबल वोटिंग एक्सपीरियंस(Comfortable Voting Experience) और तीसरा मैक्सिम वोटर पार्टिसिपेशन(Maximum Voter Participation). बीते दिनों हुई बैठक में आयोग ने चुनावी तैयारियों की जायजा लिया. केन्द्र सरकार और राज्य सरकारों के साथ चर्चा की गई, जिसके बाद तय हुआ कोरोना नियमों के मुताबिक चुनाव करवाए जाएंगे. 

ये भी पढ़ें: चुनाव सिर पर हैं फिर भी बहनजी रैलियों से आखिर दूर क्यों हैं, जवाब जानकर आप उनकी ‘दूरदर्शिता’ समझ जाएंगे

मुख्य चुनाव आयुक्त ने कहा कि पोलिंग बूथ(Polling Booth) ग्राउंड फ्लोर पर बनाए जाएंगे, जिसमें कोविड गाइडलाइन के हिसाब से सैनिटाइजर और थर्मल स्कैनिंग करने की व्यवस्था होगी. चुनाव में ड्यूटी करने वाले सभी कर्मचारी पूरी तरह से वैक्सीनेटेड होंगे. पहले की तुलना में पोलिंग स्टेशन में 17 फीसदी का इजाफा किया गया है. 2 लाख 15 हजार से ज्यादा पोलिंग स्टेशन पर चुनाव करवाए जाएंगे.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment