Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeन्यूजATL Space Challenge 2021: विद्यार्थियों के इनोवेटिव आईडियाज को मिलेगा इसरो का सहयोग!

ATL Space Challenge 2021: विद्यार्थियों के इनोवेटिव आईडियाज को मिलेगा इसरो का सहयोग!

ATL Mission
Share Now

PIB Delhi: अटल इनोवेशन मिशन (Atal Innovation Mission/AIM), नीति आयोग ने भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) और केन्द्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (Central Board of Secondary Education/CBSE) के साथ मिलकर देश के सभी स्कूलों के विद्यार्थियों के लिए एटीएल स्पेस चैलेंज 2021 लॉन्च किया है। इस चैलेंज को देश के सभी स्कूलों के विद्यार्थियों, मेंटर और शिक्षकों के लिए तैयार किया गया है, जो न सिर्फ ATL labs वाले स्कूलों के साथ, बल्कि non ATL schools स्कूलों से जुड़े हैं।

इसमें यह सुनिश्चित किया जाना है कि कक्षा 6 से 12 के विद्यार्थियों को एक खुला मंच उपलब्ध कराया जाए, जहां विद्यार्थी कुछ इनोवेटिव (innovate and enable) और खुद डिजिटल युग की अंतरिक्ष तकनीक से जुड़ी समस्याओं के समाधान में सक्षम हो सकें।

World Space Week 2021:-

एटीएल स्पेस चैलेंज (ATL Space Challenge 2021) को World Space Week 2021 के साथ जोड़ा गया है, जो अंतरिक्ष विज्ञान और प्रौद्योगिकी क्षेत्र के योगदान को मनाने के क्रम में वैश्विक स्तर पर हर साल 4 से 10 अक्टूबर के दौरान मनाया जाता है।

AIM Dr Chintan Vaishnav

Mission Director AIM Dr Chintan Vaishnav, Image: Twitter

एआईएम के मिशन निदेशक डॉ. चिंतन वैष्णव ने कहा, “हम उम्मीद कर रहे हैं कि देश भर के युवा इनोवेटर इससे शिक्षा लेंगे और अंतरिक्ष क्षेत्र के लिए कुछ नया तैयार करने के काम से जुड़ेंगे, साथ ही ऐसे समाधान विकसित करेंगे जो खासे फायदेमंद हो सकते हैं। हम इसरो और सीबीएसई के आभारी हैं, जिन्होंने बड़ी सफलता दिलाने के लिए हमारे साथ भागीदारी की है। शीर्ष पर रहने वाले छात्रों को चैलेंज के समापन के अवसर पर आकर्षक पुरस्कार दिए जाएंगे।”

ATL Space Challenge 2021 है आजादी का अमृत महोत्सव का हिस्सा 

एटीएल स्पेस चैलेंज 2021 को भारत की स्वतंत्रता के 75वें साल के आयोजन “आजादी का अमृत महोत्सव” के साथ श्रेणीबद्ध किया गया है। स्पेस चैलेंज को राष्ट्रव्यापी महोत्सव और युवा इनोवेटर्स को समर्थन देने, साथ ही उन्होंने नई तकनीकों और कौशलों से परिचित करने के लिए तैयार किया गया है।

प्रत्येक वर्ष इस चैलेंज के लॉन्च होने की उम्मीद: डॉ. सुधीर कुमार 

कैपेसिटी बिल्डिंग प्रोग्राम ऑफिस (इसरो) के निदेशक डॉ. सुधीर कुमार ने छात्रों के लिए इस तरह का चैलेंज शुरू करने पर खुशी व्यक्त की। उन्होंने कहा, “हम इस चैलेंज को लॉन्च करने के लिए एआईएम और सीबीएसई के साथ भागीदारी करके गौरवान्वित हैं, जहां छात्र रचनात्मक स्वतंत्रता के साथ अंतरिक्ष में खोज कर सकते हैं। हम प्रत्येक वर्ष इस चैलेंज के लॉन्च होने की उम्मीद कर रहे हैं।”

इसके अलावा, विद्यार्थी  तीन सदस्यों की एक टीम के रूप में एक समाधान या innovative idea पेश कर सकते हैं। 

छात्रों को मिलेगा इन तकनीकों का लाभ:-

1. एक्सप्लोर स्पेस (Explore Space)

2. रीच स्पेस (Reach Space)

3. इनहैबिट स्पेस (Inhabit Space)

4. लीवरेज स्पेस (Leverage Space)

यहां पढ़ें: Blue straggler: जानिए विशाल और नीला तारा बनने की प्रक्रिया

ATL Space Challenge 2021 के लिए आवेदन की प्रक्रिया 

  • स्पेस चैलेंज के लिए आवेदन एआईएम ऑनलाइन पोर्टल पर जमा किया जा सकता है। हर टीम को अपनी दिलचस्पी और समझ के आधार पर एक समस्या का चयन करना है,
  • हर विशेष समाधान को एक ही विषयवस्तु के तहत जमा करना अनिवार्य,
  • एक ही समाधान/ नवाचार को कई विषयवस्तुओं के अंतर्गत जमा करने पर तत्काल अपात्र घोषित कर दिया जाएगा। 
  • ऑनलाइन आवेदन पत्र जमा करने में- दस्तावेज जमा करना (description of the innovation/ solution) और वीडियो प्रस्तुतीकरण (capturing a 360-degree view of the working prototype/ solution) शामिल होगा। 
  • स्कूल शिक्षकों, एटीएल प्रभारियों और मेंटर्स को छात्रों की टीमों को सहयोग करने की सलाह दी गई है।
  • व्यक्तिगत प्रविष्टि के लिए अनुमति नहीं है, इसके साथ ही, यदि टीम में 3 से ज्यादा सदस्य हैं, तो प्रविष्टि/ प्रस्तुतीकरण को तत्काल अपात्र घोषित कर दिया जाएगा।

देखें यह वीडियो: पृथ्वी के रोचक तथ्य 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment