Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / September 24.
Homeन्यूजअहमदाबाद: बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने ‘कामसूत्र’ किताब में लगाई आग, जानिए वजह

अहमदाबाद: बजरंग दल के कार्यकर्ताओं ने ‘कामसूत्र’ किताब में लगाई आग, जानिए वजह

kamsutra
Share Now

अहमदाबाद में बजरंग दल ने ‘कामसूत्र’ नाम की किताब जलाने की घटना का विरोध किया है. बजरंग दल के समन्वयक जवलीत मेहता और अन्य कार्यकर्ताओं ने अहमदाबाद में एसजी हाईवे पर एक दुकान के बाहर ‘कामसूत्र’ नामक किताब में आग लगा दी. बजरंग दल का आरोप है कि किताब में देवी-देवताओं की सही छवि नहीं दिखाई गई है.

किताब बेचने वाले को धमकी

बजरंग दल के समन्वयक जवालिट मेहता ने भी किताब के साथ एक वीडियो बनाया है. वहीं किताब बेचने वाले को धमकी दी गई कि इस बार दुकान के बाहर किताब जला दी गई है, अगर भविष्य में इस किताब की बिक्री जारी रही तो किताबों को दुकान के साथ ही जला दिया जाएगा.

कामसूत्र क्या है?

गौरतलब है कि कामसूत्र आचार्य वात्स्यायन द्वारा लिखित एक ग्रंथ है. राजस्थान के दुर्लभ यौन चित्रों के साथ-साथ खजुराहो, कोणार्क की मूर्तियां भी कामसूत्र से प्रेरित है. कहा जाता है कि वात्स्यायन ने ब्रह्मचर्य और परम समाधि की सहायता से गृहस्थ जीवन निर्वाह के लिए कामसूत्र की रचना की थी. इस किताब का दुनिया की कई भाषाओं में अनुवाद हो चुका है.

बता दें कि इससे पहले इसी महीने बजरंग दल के बजरंग दल के कार्यकर्ता पर कानपुर में एक मुस्लिम व्यक्ति की पिटाई करने और उसे जय श्री राम बोलने के लिए मजबूर करने का आरोप लगाया गया था.

बजरंग दल के बारे में जानिए

बता दें कि बजरंग दल भारत में संचालित एक हिंदू संगठन है. यह विश्व हिंदू परिषद (VHP) की युवा शाखा है और हिंदुत्व की विचारधारा पर आधारित है. इसकी स्थापना 1 अक्टूबर, 19 को उत्तर प्रदेश, भारत में हुई थी. तब से बजरंग दल पूरे देश में फैल गया है. समूह के 1.3 मिलियन से अधिक सदस्य होने का दावा है, लेकिन इसमें 8 मिलियन से अधिक कर्मचारी हैं और लगभग 2,500 एरेनास चलाते हैं. बजरंग शब्द हिंदू संस्कृति के देवता हनुमान को संदर्भित करता है.

ये भी पढ़ें: उज्जैन में दो युवकों ने मुस्लिम कबाड़ी से जबरन लगवाए जय श्री राम के नारे, वीडियो वायरल

बजरंग दल का आदर्श वाक्य सेवा, सुरक्षा और संस्कृति है. इसके एजेंडे का एक महत्वपूर्ण हिस्सा गोहत्या को रोकना है. इसके अन्य लक्ष्यों में साम्यवाद के खतरे से भारत में हिंदू संस्कृति या पहचान की सुरक्षा, मुस्लिम आबादी की वृद्धि और ईसाई धर्म में धर्मांतरण शामिल हैं.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment