Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 29.
Homeन्यूजTokyo Paralympics 2020: भाविना पटेल ने रचा इतिहास, पैरालंपिक में जीता सिल्वर मेडल

Tokyo Paralympics 2020: भाविना पटेल ने रचा इतिहास, पैरालंपिक में जीता सिल्वर मेडल

Bhavina Patel
Share Now

टोक्यो पैरालंपिक (Tokyo Paralympics 2020) में भाविना पटेल (Bhavina Patel) ने महिला एकल टेबल टेनिस की कक्षा -4 श्रेणी में भारत का पहला पदक जीता है.  गुजरात की रहने वाली भाविना पटेल के फाइनल में दुनिया की नंबर एक चीनी खिलाड़ी झोउ यिंग के खिलाफ मैच खेला. झोउ यिंग ने भाविना पटेल को 11-7, 11-5 और 11-6 से हराकर स्वर्ण पदक जीता, जबकि भावना को सिल्वर पदक मिला है. रजत पदक जीतकर भाविना पटेल ने इतिहास रच दिया है. वह टेबल टेनिस में एक भारतीय पदक विजेता भी हैं. 

भाविना पटेल ने शनिवार को टोक्यो पैरालंपिक में महिला एकल वर्ग 4 वर्ग के सेमीफाइनल में चीन की झांग मियाओ को 7-11, 11-7, 11-4, 9-11, 11-8 से हराया. सेमीफाइनल जीतने के बाद 34 वर्षीय भावना ने कहा, ‘मैंने सेमीफाइनल में चीनी खिलाड़ी को हराया था. आप चाहें तो कुछ भी असंभव नहीं है. ‘

गुजरात के मेहसाणा की भावना पटेल 12 साल की उम्र में पोलियो की शिकार हो गईं थी. उन्होंने कहा, ‘जब मैं यहां आई तो मैंने बस अपना 100 फीसदी देने के बारे में सोचा. अगर आप ऐसा कर पाते हैं तो आपको मेडल अपने आप मिल जाएगा. मेरी एक जैसी ही सोच है. 

भावना पटेल पैरालंपिक सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बनीं. उन्होंने टेबल टेनिस में भारत के लिए पदक जीतने के लिए क्वार्टर फाइनल में सर्बिया के बोरिसलावा पेरीच रैंकोविक को 11-5, 11-6, 11-7 से हराया. शुक्रवार को भाविना ने अंतिम 16 में ब्राजील की जॉयस डी ओलिवेरा को 12-10, 13-11, 11-6 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई. 

इसी कड़ी में पीएम नरेंद्र मोदी ने भाविना पटेल के सिल्वर मेडल जीतने पर बधाई दी. पीएम मोदी ने सराहना करते हुए कहा कि भाविना पटेल ने इतिहास रच दिया है. 

ये भी पढ़े: Tokyo Paralympics 2020: पावरलिफ्टर सकीना खातून ने मेडल नहीं जीता, लेकिन रिकॉर्ड बना दिया

सेमीफाइनल मैच

सेमीफ़ाइनल मैच में भाविना पटेल ने शानदार प्रदर्शन किया. पहले-दूसरे राउंड में भले ही पीछे रही लेकिन तीसरा गेम जीतने में सिर्फ चार मिनट लगे और  चौथे गेम में चीनी खिलाड़ी हैरत में पड़ गए, लेकिन भावना पटेल ने महत्वपूर्ण पांचवां गेम जीतकर फाइनल में प्रवेश किया.  दुनिया के पूर्व नंबर एक झांग के खिलाफ भाविना की यह पहली जीत थी. दोनों इससे पहले 11 बार एक-दूसरे से खेल चुके हैं. 

भाविना को पहले ग्रुप मैच में झोउ ने आसानी से हरा दिया था. उनके खिलाफ फाइनल जीतना आसान नहीं था. भाविना पटेल ने क्वार्टर फाइनल में 2016 रियो पैरालंपिक स्वर्ण पदक विजेता बोरिसलावा पेरीच रैंकोविक को हराया है. 

भाविना पटेल का सफर 
भाविना पटेल ने 13 साल पहले अहमदाबाद के वस्त्रपुर इलाके में एक नेत्रहीन संगठन में खेलना शुरू किया था, जहां वह दिव्यांगों के लिए आईटीआई की छात्रा थी. बाद में उन्होंने दृष्टिबाधित बच्चों को टेबल टेनिस खेलते हुए देखा और इस खेल में भाग लेने का फैसला किया. उन्होंने अहमदाबाद में रोटरी क्लब के लिए पहला पदक जीता. उन्होंने निकुंज पटेल से शादी की है, जिन्होंने गुजरात के लिए जूनियर क्रिकेट खेला है.

भाविना पटेल 2011 में नंबर दो खिलाड़ी बनीं जब उन्होंने पीटीटी थाईलैंड टेबल टेनिस चैंपियनशिप में भारत के लिए रजत पदक जीता था.  अक्टूबर 2013 में, उसने बीजिंग में एशियाई पैरा टेनिस चैंपियनशिप में रजत पदक जीता. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment