Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / January 17.
Homeभक्तिइस शुभ दिन भगवान भोलेनाथ धरती पर पुण्य आत्मा को देते हैं दर्शन! जाने क्या है वजह?

इस शुभ दिन भगवान भोलेनाथ धरती पर पुण्य आत्मा को देते हैं दर्शन! जाने क्या है वजह?

Bhavnath ka mela
Share Now

भवनाथ महादेव का मेला (Bhavnath Fair): जूनागढ़ जिले के गिरनार पर्वत पर स्थित भवनाथ महादेव मंदिर के प्रांगण में भव्य मेले का आयोजन किया जाता है। पहली बार इस मेले की शुरुआत माघ महीने के कृष्णपक्ष की एकादशी तिथि से हुई थी। प्राचीन भव्य मेला एकादशी से अमावस्या तिथि तक चलता है। माघ महीने की त्रयोदशी के दिन मेले का अधिक महत्व होता है। महाशिवरात्रि के अवसर पर महादेव मंदिर में भव्य त्यौहार का आयोजन किया जाता है। स्वयंभू महादेव के दर्शन के लिए अघोरी, साधु, संतों और संन्यासियों की भीड़ उमड़ पड़ती है। 

nagasadhus

nagasadhus

इन दिनों नागा बाबा के अखाड़े की पूजा की जाती है, अखाड़े में भगवान दत्तात्रेय की मूर्ति (Bhavnath Mela) को सुसज्जित कर भव्य शोभायात्रा निकाली जाती है। ढोल-नगाड़ों के साथ नृत्य करते हुए हाथ में ध्वजा लेकर शोभायात्रा में भक्त शामिल होते हैं। जूनागढ़ से ही नहीं बल्कि अनेक राज्यों से लोग मेले में आते हैं। 

junagarh, Bhavnath mela

junagarh, Bhavnath mela

मध्यरात्रि में मंदिर में पहुंचकर कुंडस्नान करने की मान्यता है, ऐसा कहा जाता है कि इस शुभ दिन भगवान भोलेनाथ धरती पर पुण्य आत्मा को दर्शन देते हैं। मेले में आने वाले सभी भक्तजनों के लिए प्रसाद ग्रहण करने की और ठहरने की सुविधाएं उपलब्ध कराई जाती हैं। मेले में कई प्रकार के स्टाल लगाए जाते हैं, जिनमें भगवान की पूजा सामग्री समेत पवित्र मोती, कीमती रत्नों और आकर्षित वस्तुओं की बिक्री होती है।

यहां पढ़ें: जानिए पूर्णिमा के दिन बहुचर माँ के दर्शन को अधिक महत्व क्यों दिया जाता है?

Bhavnath-Fair-Gujarat

Bhavnath-Fair-Gujarat

भवनाथ मंदिर के निकट से सुवर्णरेखा नदी की गुजरती है, सभी भक्त नदी में स्नान करते हैं। इसके अलावा पवित्र स्थान पर मुचकुंड, भर्तृहरि और गुरुदत्त की गुफ़ाएं स्थित हैं। भवनाथ महादेव मंदिर अहीर और मेर समुदाय के लोगों की आस्था का केंद्र माना जाता है। अद्भुत, अलौकिक भवनाथ मेले में चार दिनों तक भक्तों समेत साधु-संतों का तांता नजर आता है। मेले के दौरान रात्रि के समय भजन-कीर्तन और रास-गरबा का भक्तिमय वातावरण देखने को मिलता है।

देखें यह वीडियो: काल का जुलूस 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment