Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeन्यूजमायावती की ये चाल पड़ सकती है भाजपा और सपा पर भारी, जानिए…

मायावती की ये चाल पड़ सकती है भाजपा और सपा पर भारी, जानिए…

BSP Sammelan in Ayodhya
Share Now

BSP Sammelan in Ayodhya: उत्तर प्रदेश चुनाव में अभी कई महीने बाकी है। लेकिन सियासी गलियारों में वोटों की राजनीति अभी से शुरू हो चुकी है। भाजपा और सपा के बाद प्रदेश की तीसरी बड़ी पार्टी बसपा भी इस बार 2007 वाला कमाल दोहराना चाहती है। चुनाव से पहले (BSP Sammelan in Ayodhya) बसपा सुप्रीमों मायावती ने यूपी में ब्राह्मण कार्ड खेला है। वे पूरे राज्य में ब्राह्मण सम्मेलन का आयोजन करने जा रही हैं। लेकिन अब पार्टी की तरफ से एक बड़ा बदलाव किया गया है। उन्होंने अपने ब्राह्मण सम्मेलन का नाम बदलकर ‘प्रबुद्ध वर्ग संवाद’ कर दिया है।

BSP

अयोध्या से शुरू हुआ बसपा का अभियान:

बहुजन समाज पार्टी के महासचिव सतीशचंद्र मिश्रा आज अयोध्या पहुंचे हैं। यहां सबसे पहले वह रामजन्मभूमि परिसर पहुंचकर रामलला के दर्शन किए। इसके बाद वह सीधे हनुमानगढ़ी पहुंचकर दर्शन करने के उपरान्त वह यहां आयोजित विचार संगोष्ठी में हिस्सा लेने पहुंचे। इसके आलावा 24-25 जुलाई को अंबेडकरनगर, 26 जुलाई को प्रयागराज, 27 जुलाई को कौशाम्बी, 28 को प्रतापगढ़ और 29 को सुल्तानपुर में गोष्ठी आयोजित होनी है।

MAYAWATI

यहाँ पढ़ें: पंजाब, उत्तराखंड के बाद राजस्थान में कांग्रेस हाईकमान कर सकता है बड़ा बदलाव!

पांच चरणों में होंगे बसपा के प्रबुद्ध वर्ग सम्मेलन:

गौरतलब है कि बसपा ने प्रदेशभर में ब्राह्मण सम्मलेन करने का ऐलान किया था। जिसकी शुरुआत अयोध्या जनपद से होनी थी। जिसकी शुरुआत आज से हो गई। हालांकि, अयोध्या में आयोजित इस सम्मलेन का नाम बदलकर प्रबुद्ध वर्ग के सम्मान में विचार गोष्ठी रख दिया गया है। इस मौके पर सतीश चंद्र मिश्रा ने कहा कि अगर 13 प्रतिशत ब्राह्मण और 23 प्रतिशत दलित मिलकर भाईचारा कायम कर लें तो बसपा की सरकार बनने से कोई रोक नहीं सकता।

MAYAWATI NEWS

2007 में बसपा सुप्रीमो मायावती का ये फॉर्मला काफी कारगार:

2007 में बसपा सुप्रीमो मायावती का ये फॉर्मला काफी कारगार साबित हुआ और उन्होंने अकेले सरकार बनाकर पुरे 5 साल का कार्यकाल पूरा किया। ये यूपी के इतिहास में पहली बार ही था जब किसी सीएम ने 5 साल का अपना कार्यकाल पूरा किया था। अब ये बदलाव बसपा को यूपी चुनाव में कितना फायदा पहुंचा सकता है, ये आने वाला समय ही बताएगा लेकिन बसपा का अगर ये बदलाव कामयाब हो जाता है तो आने वाले चुनाव में भाजपा के वोट बैंक में भारी सेंध लग सकती है।

यहाँ पढ़ें: कल्याण सिंह वो नेता जिनके कारण आज यूपी में बजता है भाजपा का डंका!

अधिक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment