Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
HomeUnknown फैक्ट्सक्या इंसान हमेशा के लिए जिंदा रह सकता है?

क्या इंसान हमेशा के लिए जिंदा रह सकता है?

live forever
Share Now

जो इस दुनिया में आया है उसे एक दिन यहाँ से जाना भी पड़ता है| जन्म के साथ मृत्यु भी इस दुनिया का शाश्वत सत्य है, जिसे झुठलाया नही जा सकता| पर क्या इंसान मरने के बाद भी जिंदा रह सकता है| क्या किसी के मरने के बाद भी उसका परिवार हमेशा उसे देख सकता है, उससे बात कर सकता है?  हाँ  ऐसा  “Capsula Mundi”  द्वारा सम्भव है| 

इटली के दो डिज़ाइनर ने पेश किया कांसेप्ट

capsula mundi Designers

Image Source: Google

2003 में इटली के दो डिज़ाइनर “Anna Citelli ” और “Raoul Bretze”  ने एक कांसेप्ट पेश किया जिसका नाम है “Capsula Mundi”|  इस प्रोजेक्ट के द्वारा मरने के बाद इंसान को पेड़ में बदल दिया जाता है|अब आपके मन में कई सवाल उठ रहे होंगे की ऐसा भला कैसे किया जा सकता है? तो चलिए आपको बताते है की कैसे इंसानी शरीर को एक पेड़ में तब्दील किया जाता है| 

यहाँ पढे: “विक्की कौशल और मानुषी छिल्लर अब एक साथ

क्या है “Capsula Mundi” ?

केप्सुला मुंडी एक लैटिन वर्ल्ड है जिसका अर्थ है “world’s  capsule”| यह केप्सुला मुंडी एक अंडे के आकर का पोड है जो की Biodegradable Material से बना है, जिसे लोगो की बॉडी को दफनाने के लिए बनाया गया है| मरने के बाद आप स्वयं को कौनसे पेड़ में बदलना चाहते है, इसका चुनाव पहले से ही करके रखा जा सकता है, या फिर किसी के मरने के बाद उनके परिवार जन भी इसका चुनाव कर सकते है| 

कैसे इंसानी शरीर को पेड़ में बदल दिया जाता है ?

capsula mundi

Image Source: Google

इस अंडाकार पोड में  लोगो के शवो को फेटल पोजीशन में रखा जाता है| उसके बाद उसे बीज के रूप में ज़मीन में गाड दिया जाता है| फिर उसके उपर उस पेड़ को उगाया जाता है, जिसको चुना गया था| मान लीजिये की किसी ने आम का पेड़ चुना होगा तो वहाँ आम का पेड़ उगाया जायेगा| कुछ समय बाद पोड का बाहरी शैल टूट जाता है, और इंसानी शरीर से निकले सारे पोषक तत्व उस पेड़ को मिलने लगते है| पेड़ के बड़े होने तक परिवार और दोस्तों  को उसका ध्यान रखना होता है| पेड़ को गले लगाकर परिवार और दोस्त अपने मरे हुए सदस्य को गले लगाने का एहसास कर सकते है| 

यहाँ पढे: “क्या है शैतानी ट्राएंगल का राज”

केप्सुला मुंडी का स्लोगन है लाइफ नेवर स्टॉप्स| वे कब्रिस्तान को एक नया रूप देना चाहते है, जहाँ मकबरे नही पेड़ हो| जहाँ परिवार और बच्चो के साथ टहल सके उन्हें अलग – अलग पेड़ो के बारे सिखा सके| उनका कहना है की आओ हम सब एक पेड़ लगाये और कब्रिस्तान को जंगल बनाये| उनका यह भी कहना है की एक जंगल को पवित्र जंगल बनाते है|

 “प्रक्रति के हित में अपना योगदान” :-

इसके साथ और भी कई कम्पनिया है जो ऐसे प्रोजेक्ट्स पर काम कर रही है| धीरे -धीरे लोग इसे चुन तो रहे है पर अभी यह हर जगह लीगल नही हुआ है| एक ओर जहाँ इसका उपयोग कर हम अपने मृतक परिवारजनों के करीब रह सकते है, वही दूसरी ओर प्रकृति को और सुंदर बना सकते है| साथ ही दुनिया में हो रहे प्रदुषण और ग्लोबल वार्मिंग को कम करने में मदद कर सकते है|

अधिक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment