Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
Homeभक्तिगंगा दशहरा का दिन है बडा पवित्र, समृद्धि पाने के लिये करे खास उपाय

गंगा दशहरा का दिन है बडा पवित्र, समृद्धि पाने के लिये करे खास उपाय

Share Now

गंगा को हिंदू धर्म और भारतीय संस्कृति में पवित्र माना गया है। उसे पापनाशनी और मोक्षदायिनी भी कहा गया है। एसा माना जाता है की गंगा में स्नान करने से मोक्ष की प्राप्ति होती है। एसी मान्यता है की गंगा नदी ब्रह्मा के कमंडल से निकलती है, भगवान विष्णु के पेरो से होकर भगवान शिव की जटाओं से होकर धरती पर अवतरित हुइ है। गंगाजी के अवतरण दिन को ही गंगा दशहरा कहा जाता है। इस वर्ष 20 जून, रविवार को गंगा दशहरा है।

image : flickr

गंगा दशहरा की तिथि व मुहूर्त

शास्त्रों के अनुसार गंगा दशहरा ज्येष्ठ मास के शुक्ल पक्ष की दशमी तिथि को मनाया जाता है। इस वर्ष ये तिथि 20 जून दिन रविवार को पड़ रही है। हालांकि दशमी तिथि 19 जून को सांयकाल 6 बजकर 50 मिनट से प्रारम्भ हो कर 20 जून शाम को 4 बजकर 25 मिनट पर समाप्त होगी। परन्तु उदया तिथि होने के कारण गंगा दशहरा 20 जून को मनाया जाएगा। मान्यता है कि इस दिन प्रातः काल गंगा स्नान करने से व्यक्ति पाप मुक्त हो जाता है तथा मोक्ष का अधिकारी बनता है। कोरोना के कारण गंगा नदी में स्नान संभव न होने की स्थिति में घर पर ही गंगा जल में पानी मिलाकर नहाने से भी गंगा स्नान का पुण्य मिलता है।

गंगा दशहरा का महात्म

शास्त्रो के अनुसार गंगा जिस दिन धरती लोक पर अवतरित हुई उस दिन एक साथ दस शुभ योग बने थे। माना जाता है कि गंगा दशहरा के दिन जो व्यक्ति गंगा स्नान करता है वो दस प्रकार के पापों से मुक्त हो जाता है। ये पाप हैं परस्त्री गमन, हिंसा, असत् भाषण, चोरी, चुगली करना, सम्पत्ति हड़पना, दूसरों को हानि पहुंचाना, किसी की बुराई करना, गाली देना तथा झूठा आरोप लगाना आदि। गंगा दशहरा के दिन स्नान के बाद यथाशक्ति दान अवश्य करना चाहिए, गंगा स्नान तभी पूर्ण माना जाता है।

वक्री गुरू का प्रभाव

image : google

गंगा दशहरा 20 जून को है और इसी गुरू शनि की राशि कुंभ में उल्टी चाल चलने लगेंगे। गुरू का प्रभाव शुभ होता है। लेकिन आपको बता दें कि गुरु के वक्री होने पर कर्क राशि और मकर राशि पर भी खास प्रभाव पड़ता है। एक राशि पर अच्छा तो दूसरी पर विपरीत प्रभाव होता है। गुरु कुंभ राशि में ही वक्री हो रहा हैं इसलिए इस राशि के लोगों को खास ध्यान देने की आवश्यकता है। इस राशि के लोगों को सेहत का खास ध्यान रखना होगा।

ज्योतिष ने बताया है कि गुरु ग्रह के कुंभ में वक्री होने से मेष, सिंह, वृश्चिक, धनु और मीन राशि के लोगों का खासा लाभ होगा। हालांकि कुछ चीजों में इन्हें भी परेशानी होगी, लेकिन धन के मामले में इन्हें फायदा होगा। कन्या राशि के लोगों को सेहत और वैवाहिक जीवन में कुछ विपरीत प्रभाव देखने को मिलेंगे।  तुला वालों को भी कुछ बात बिना सोचे समझे नहीं बोलनी है।

ये भी पढें : एक ऐसा मंदिर जहाँ मौजूद है चुंबकिय शक्तियां !

समृद्धि बढाने के उपाय

गंगा दशहरा पर गुरू के वक्री होने से इस दिन धन वृध्धि के उपाय विशेष फलदायी सिध्ध हो सकते है। आइये जानते है समृध्धि बढाने के उपाय।

गंगा स्नान

image : google

इस दिन गंगा स्नान का विशेष महत्व है। अगर आप गंगा में स्नान करने नही जा सकते तो घर पर पानी में गंगाजल डालकर स्नान करे। घर मे गंगाजल छिडके और घर को पवित्र करे। गंगाजल से भगवान शिव का अभिषेक करे। ये करने से अशुभ प्रभाव दूर होते है और धन-वैभव मे वृध्धि होती है।

मटके का दान

image : google

अगर आप बिजनेस या नोकरी मे सफल होना चाहते है तो इस दिन मटके का दान करना चाहिये। इसके लिये एक मिट्टी का मटका ले। उसको पूरा भर लिजिये। उसमे थोडा गंगाजल और शक्कर डाले, उपर ढक्कन लगाकर उसका दान करे। ये दान से आपको काम मे सफलता और संतुष्टि मिलेंगे।

पेड लगाये

image : google

इस दिन घर में अनार का पेड लगाने से घर मे कभी धन की कमी नहीं आती। मां लक्ष्मी की कृपा बनी रहेती है। लेकिन ये पेड घर के अंदर नही लगाना चाहिये। एसा करने से नुकसान हो सकता है।

बुरी नजर से बचाये

अगर आपके काम को या बिझनेस को किसी की नजर लग गइ है तो गंगा दशहरा के दिन एक सफेद कागज लिजिये और उसमे लाल पेन से गंगा स्त्रोत लिखे। फिर इस कागज को पीपल के पेड के नीचे गाड दिजिये। ये करने से काम पर कोई अशुभ प्रभाव हो तो दूर होता है।

image : google

कर्ज मुक्ति के लिये उपाय

अगर आपके उपर कर्ज है और उतर नही पा रहा तो आप अपने कद जितना लंबा धागा लिजिये। और उसको एक नारियेल पे लपेट ले। नारियेल को पूजा मे रखे फिर शाम को बहेते जल मे उसको प्रवाहित कर ले और पीछे मुड के न देखे। एसा करने से कर्ज से मुक्ति मिलेगी।

अधिक रोचक जानकारी के लिए OTT INDIA App डाउनलोड करें

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjT

No comments

leave a comment