Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
Homeन्यूजबड़ा खुलासा: उत्तराखंड में हुई थी चीनी सैनिकों की घुसपैठ, पुल तोड़कर भागे

बड़ा खुलासा: उत्तराखंड में हुई थी चीनी सैनिकों की घुसपैठ, पुल तोड़कर भागे

Chinese PLA Barahoti
Share Now

Chinese PLA Barahoti: पाकिस्तान की तरह चीन भी बॉर्डर पर अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आ रहा है। बीते साल जून के महीने में चीन के सैनिकों ने भारतीय सीमा में घुसपैठ (Chinese PLA Barahoti) की कोशिश की थी। लेकिन भारतीय सैनिकों उस समय उनको वापस खदेड़ दिया था। उस घटना में भारतीय सेना के 20 जवान शहीद हो गए थे। अब एक बार फिर बड़ी संख्या में चीनी सैनिकों के घुसपैठ का खुलासा हुआ है। चीन के सैनिकों ने उत्तराखंड के बाराहोती इलाके में घुसपैठ की। रिपोर्ट के मुताबिक 100 से ज्यादा चीन के सैनिक भारतीय सीमा में घुस आए थे।

Chinese PLA Barahoti

उत्तराखंड में चीन की घुसपैठ:

मीडिया रिपोर्ट के मुताबिक 100 के करीब चीनी सैनिकों ने पिछले महीने की 30 तारीख को बाराहोती इलाके में घुसपैठ कर उपद्रव मचाया। चीनी सैनिकों ने नापाक हरकत करते हुए कई भारतीय इन्फ्रास्ट्रक्चर को तोड़ डाला। करीब तीन घंटे तक वो यहां रूके। लेकिन भारतीय गश्ती दल के पहुंचने से पहले ही चीनी सैनिक वहां से भाग खड़े हुए। रिपोर्ट्स के अनुसार जब स्थानीय लोगों ने इस घुसपैठ की जानकारी दी जिसके बाद ITBP और सेना की टीम इसकी पुष्टि के लिए फौरन वहां पहुंच गई।

तीसरी बार उत्तराखंड से घुसपैठ:

गौरतलब है कि पूर्वी लद्दाख में चीन के सैनिक बार-बार घुसपैठ की कोशिश करते रहते हैं। लेकिन इस बार ये घुसपैठ उत्तराखंड की तरफ से की गई है। भारतीय सीमा में उत्तराखंड की तरफ तरफ से घुसने की अब तक की तीसरी कोशिश बताई जा रही है। इससे पहले 1954 में पहली बाद चीनी सैनिक द्वारा उत्तराखंड की तरफ से घुसपैठ की गई थी। उसके बाद 1962 में भारत और चीन के युद्ध के दौरान भी ऐसी हरकत सामने आई थी। लेकिन उसके कई सालों बाद अब एक बार फिर चीनी सैनिकों ने उत्तराखंड की तरफ से घुसपैठ की हिमाकत की है। रिपोर्ट्स के मुताबिक चीनी सैनिक भारतीय सेना के पहुंचने से पहले ही वहां से निकल गए।

ये भी पढ़ें: राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में सी-130 विमान का किया गया सफल परीक्षण

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment