Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 7.
Homeहेल्थतनाव और बालों की सफेदी का कनेक्शन!

तनाव और बालों की सफेदी का कनेक्शन!

Hair
Share Now

बालों के सफेद होने की एक वजह तनाव भी, स्ट्रेस कम करते हैं तो बालों का पुराना रंग वापस लौट सकता है| अमेरिकी वैज्ञानिकों ने किया दावा| 

Image Source: Google

अमेरिकी वैज्ञानिकों ने की रिसर्च

अगर आपके बाल तेजी से सफेद हो रहे हैं तो तनाव से बचिए। अमेरिकी वैज्ञानिकों की नई रिसर्च कहती है, बालों के सफेद होने का एक कारण तनाव भी है। वैज्ञानिकों का दावा है, अगर तनाव लेना छोड़ देते हैं तो सफेद हुए बाल वापस काले हो सकते हैं।

Stress

(Photo credit: Michael Clesle)

तनाव के कारण होते है सफ़ेद बाल 

रिसर्च करने वाले कोलम्बिया यूनिवर्सिटी इरविंग मेडिकल सेंटर ने दावा किया है, पहली बार यह साबित हुआ है इंसानों में तनाव के कारण भी बाल सफेद होते हैं।

रेचर्स का कहना है, शरीर में मौजूद माइटोकॉन्ड्रिया (Mitochondria) को कोशिकाओं (cells) का पावर हाउस कहा जाता है। तनाव लेने पर इनमें बदलाव होता है और बालों से जुड़े सैकड़ों प्रोटीन भी बदलने लगते हैं। और फिर नतीजा यह होता है की, बाल सफेद हो जाते हैं।

यहाँ पढ़ें: सुन चुयांग: सबसे कम उम्र का योगा ट्रेनर! 

उम्र के साथ क्यों होते है बाल सफ़ेद?

वहीं कई लोगों को ये सवाल होता है की उम्र के साथ बाल सफेद क्यों होते हैं? उम्र के साथ इसलिए सफेद हो जाते हैं बाल बालों के अंतिम सिरे को हेयर फॉलिकल कहते हैं, यह सिर की स्किन से जुड़ा होता है। जब इंसान युवा होता है तो शरीर की Cells बालों में खास तरह के पिंगमेंट का निर्माण करती हैं। इन पिगमेंट की वजह से बाल काले रहते हैं। इस पिगमेंट को मिलेनोसायट्स(Millenosites) कहते हैं। जैसे-जैसे इंसान बूढ़ा होता है, मिलेनोसायट्स कम हो जाते हैं। इसलिए धीरे-धीरे बालों का रंग सफेद होने लगता है।

White Hair

Image Source: Google

सफ़ेद बाल का उम्र से लेना देना नहीं 

तनाव और बालों का कनेक्शन समझने के लिए शोधकर्ताओं ने 14 लोगों के हेयर सैम्पल लिए। इनमें 4 महिला और 7 पुरुष शामिल थे। इनकी औसतन उम्र 35 साल थी। इनके बालों की गहराई से तस्वीर से लेकर जांच की गई। जांच के दौरान यह जानने की कोशिश की गई कि इनमें बालों को रंग देने वाला पिंगमेंट कितना कम हुआ है। रिसर्च में शामिल लोगों से तनाव के बारे में सवाल-जवाब किए गए। रोज लिखी जाने वाली डायरी से समझा गया कि कौन शख्स अधिक तनाव में रहा और किसने कम तनाव लिया। जांच करने पर तनाव और सफेद होते बालों के बीच कनेक्शन मिला। वैज्ञानिकों का कहना है, कुछ लोगों में तनाव कम होने पर बाल वापस काले होने शुरू हो गए। रिसर्च के मुताबिक, अगर इंसान उम्र में काफी छोटा है या बुजुर्ग है तो जरूरी नहीं है, हर मामले में स्ट्रेस खत्म होने के बाद बाल वापस काले हो जाएं।

यहाँ पढ़ें: अयोध्‍या ऐसी हो जहां भारत की संस्‍कृति की झलक दिखे: PM Modi

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment