Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 15.
Homeन्यूजCyclone Shaheen के भीषण रूप में तब्दील होने की आशंका, इन राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट

Cyclone Shaheen के भीषण रूप में तब्दील होने की आशंका, इन राज्यों में भारी बारिश का अलर्ट

Cyclone Shaheen
Share Now

चक्रवात शाहीन (Cyclone Shaheen) को लेकर मौसम विभाग ने कई राज्यों को अलर्ट जारी किया है. अगले 12 घंटों में चक्रवात शाहीन (Cyclone Shaheen) भीषण रूप ले सकता है. बता दें कि मौसम विभाग ने आशंका जताई थी कि 1 अक्टूबर को चक्रवाती तूफान शाहीन  समुद्री तट से टकराएगा, जिसके बाद ये भीषण रूप ले सकता है.

वहीं चक्रवाती तूफान शाहीन (Cyclone Shaheen) के मद्देनजर मौसम विभाग ने खासकर महाराष्ट्र और गुजरात के लिए अलर्ट जारी किया है. समुद्री इलाकों में मछुआरों को न जाने की सलाह दी गई है.

मौसम विभाग ने चक्रवात शाहीन (Cyclone Shaheen) को लेकर कुछ दिशा निर्देश जारी किए हैं, जिसके मुताबिक किसी पेड़ के नीचे शरण न लें. तालाब, झील या किसी भी पानी वाले इलाके से दूर रहें. यात्रा के दौरान अगर तूफान आए तो गाड़ी में ही रहें, बाहर न निकलें. इलेक्ट्रिक उपकरणों का इस्तेमाल न करें.

4 अक्टूबर तक ओमान की खाड़ी में पहुंचकर होगा कमजोर 

अगले 36 घंटों में चक्रवाती तूफान शाहीन (Cyclone Shaheen) पाकिस्तान के मकरान तट की ओर आगे बढ़ेगा. जहां से पश्चिम और दक्षिण पश्चिम के तटीय रास्तों से 4 अक्टूबर तक ओमान की खाड़ी में पहुंचकर कमजोर होगा. मतलब ओमान की खाड़ी में पहुंचने पर शाहीन तूफान के कमजोर होने की संभावना है.

Cyclone Shaheen

Image Courtesy: Google.com

ये भी पढ़ें: गुजरात और महाराष्ट्र में ‘शाहीन’ तूफान मचाएगा तबाही, IMD ने जारी किया अलर्ट

इन राज्यों में बारिश की संभावना 

खासकर गुजरात में मछुआरों को तटीय इलाकों से अगले 12 घंटे तक दूर रहने की सलाह दी गई है. गुजरात के अलावा महाराष्ट्र, तमिलनाडु, केरल और लक्षद्वीप में 5 अक्टूबर तक बारिश होने की संभावना है. इसके अलावा बिहार और झारखंड में निम्न दबाव का क्षेत्र बन रहा है. साथ ही दिल्ली-एनसीआर में बारिश की संभावना है. 

तटीय इलाकों में अलर्ट जारी 

तूफान के खतरे को देखते हुए तटीय इलाकों में स्थानीय प्रशासन की ओर से भी विशेष सावधानी बरती जा रही है. कोस्ट गार्ड के जवान तटीय इलाकों में अलर्ट पर हैं. बता दें कि इससे पहले चक्रवाती तूफान गुलाब का भी कई जगहों पर असर देखने को मिला. गुलाब का नाम जहां इस बार पाकिस्तान ने रखा तो वहीं चक्रवाती तूफान शाहीन का नाम कतर ने दिया है.

No comments

leave a comment