Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 5.
Homeन्यूजमाँ की पुकार से आई ‘मृत बच्चे’ मे जान, हरियाणा मे हुआ यह चमत्कार

माँ की पुकार से आई ‘मृत बच्चे’ मे जान, हरियाणा मे हुआ यह चमत्कार

Dead kid got alive bahadurganjh
Share Now

भारत चमत्कारो का देश कहलाता है। कहते है जो चमत्कार भारत मे होते है वह दुनिया मे कहीं नहीं होते। ऐसी ही एक चमत्कारी घटना सामने आई है हरियाणा के बहादुरगढ़ मे।

ईस 7 वर्ष के बच्चे को डोकटरों ने मृत जाहीर कर दिया। माँ समेत पेरिवार का रो-रो कर बुरा हाल हो गया। तब इस बच्चे की माँ ने ऐसी पुकार लगाई की मारे हुए बच्चे मे जान वापस आ गई। यह बच्चा है कुनाल शर्मा।

देखे वीडियो: मिल्खा ऐसे बने ‘फ्लाइंग सिख

कुनाल शर्मा अपने परिवार के साथ हरियाणा के बहादुरगढ़ के किला मोहल्ला में रहता है। कुनाल को टायफाइड हुआ था। जिसकी सारवार के बाद 26 मई को दिल्ली के डॉक्टरों ने मृत घोषित कर दिया था। अस्पताल ने शव पैक करके पिता हितेश और मां जानवी को सौंप दिया। अपने बेटे को मृत पाकर परिवार पर जैसे पहाड़ टूट पड़ा। सबका रो-रो कर बुरा हाल हो गया।

Dead kid got alive bahadurganjh (2)

हिम्मत करके उस मृत जाहीर किए गए शरीर को वह अस्पताल से अपने साले के घर ले लाए और वही अंतिम संस्कार की तैयारी में जुट गए। लेकिन कुनाल की दादी ने जिद करते हुए कहा कि उसे अपने पोते की शक्ल देखनी है और उसे पैतृक घर पर लाया जाए। दादी की ज़िद मानकर कुणाल के पापा उसे घर लेकर आये। बच्चे को देखकर दादी और उसकी माँ फुटफूट कर रोने लगे। उसकी माँ ने कुनाल को ज़ोर से पुकार लगाई। उसकी माँ और दादी को कुनाल का आखिरी बार मुह दिखने के लिए उठाया तो कुणाल के शरीर मे कुछ धड़कन महसूस हुई। 

यहाँ पढे: भारतीय नौसेना ‘Predator Drone’ से रखेगी दुश्मनों पर नजर!

 परिजनों को अब उम्मीद जगी। इसके बाद पिता हितेश ने बच्चे का चेहरा चादर की पैकिंग से बाहर निकाला और अपने लाडले को मुंह से सांस देने लगे। धीरे धीर कुणाल के शरीर मे फिर से हरकत होना शुरू हो गई। परिवार वालों की तो जैसे जान मे जान आई। उसके बाद पड़ोसी सुनील ने कुणाल की  छाती पर दबाव देना शुरू किया। इसके बाद लगा की कुणाल मे अब जान वापस आ गई है।

Dead kid got alive bahadurganjh (1)

इसके बाद मोहल्ले के लोग कुनाल को 26 मई की रात को उसे रोहतक के एक प्राइवेट अस्पताल में ले गए। यहाँ पर भी डॉक्टरों ने उसे 15 फीसदी ही बचने की संभावना बताई। पर कुणाल धीरे-धीर ठीक हो गया और उसकी जान बच गई।

बच्चे की मां ने कहा कि भगवान ने उनके बेटे में फिर से सांसें डाली हैं। अब कुणाल स्वस्थ है। रोहतक अस्पताल से नानी के घर है। वह बच्चों के साथ खेल रहा है और डांस कर रहा है।

यहाँ पढे: आपने सुनी है क्या, बोलने वाली गुफा की कहानी!

दादा विजय कहते हैं कि परिवार पर भगवान भोलेनाथ की कृपा हुई है। आज मेरा पोता हम सबके बीच है। पता नहीं भगवान ने कैसे जिंदगी की कड़ी जोड़ दी। विजय का कहना है कि मेरी पत्नी मुंह देखने की जिद न करती और बहू उसे एंबुलेंस से न उठाती तो शायद वह इस दुनिया से विदा हो जाता। ईश्वर ने मेरे परिवार पर यह चमत्कार किया।

यह चमत्कार देखकर सभी दंग है।

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

 

No comments

leave a comment