Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
Homeन्यूजDebate On Education Model: केजरीवाल बोले- जो पंजाब की शिक्षा व्यवस्था से खुश हैं, कांग्रेस को वोट दे दें

Debate On Education Model: केजरीवाल बोले- जो पंजाब की शिक्षा व्यवस्था से खुश हैं, कांग्रेस को वोट दे दें

Debate On Education Model
Share Now

पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने दिल्ली के उपमुख्यमंत्री सह शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया की उस चुनौती को स्वीकार कर लिया है, जिसमें उन्होंने कहा था कि आप पंजाब के दस स्कूल लें और मैं दिल्ली के दस स्कूलों को लेता हूं और फिर उस पर डिबेट(Debate On Education Model) करते हैं. पता चल जाएगा शिक्षा के क्षेत्र में आपने कितना काम किया है.

…तो कांग्रेस को वोट दें- केजरीवाल  

वहीं उस चुनौती को लेकर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल(Arvind Kejriwal) ने कहा है कि पंजाब के शिक्षा मंत्री का कहना है कि देश में सबसे अच्छे स्कूल पंजाब में हैं, वहां के टीचर काफी खुश हैं. अगर पंजाब के लोग वहां की शिक्षा व्यवस्था से खुश हैं तो कांग्रेस को वोट दें, लेकिन दिल्ली जैसी शिक्षा व्यवस्था चाहिए तो हमें वोट दें.

पंजाब के शिक्षा मंत्री ने स्वीकारी चुनौती

पंजाब के शिक्षा मंत्री परगट सिंह ने चुनौती स्वीकार करते हुए लिखा है कि 10 ही स्कूल क्यों, मैं 250 स्कूलों को लेकर आपसे डिबेट(Debate On Education Model) करने को तैयार हूं. जिस पर दिल्ली के शिक्षा मंत्री मनीष सिसोदिया ने लिखा कि बीते पांच सालों में पंजाब के जिन 250 स्कूलों की शिक्षा व्यवस्था सुधरी है, उनकी लिस्ट का मुझे इंतजार है.

ये भी पढ़ें: हम कांग्रेस का कचरा लेना नहीं चाहते, वरना शाम तक उनके 25 विधायक AAP में होंगे: CM केजरीवाल

तय समय-तय तारीख पर स्कूल का भी करेंगे दौरा- सिसोदिया

साथ ही सिसोदिया(Manish Sisodia) ने लिखा कि मैं खुद भी दिल्ली के 250 स्कूलों की लिस्ट सौपूंगा. फिर एक साथ, तय समय और तारीख पर दोनों स्कूल में भी चलेंगे. जहां मीडिया के साथी भी साथ में होंगे ताकि लोग दिल्ली और पंजाब के शिक्षा मॉडल(Debate On Education Model) को देखकर अपनी राय बना सकें.

मोहाली में धरना दे रहे शिक्षकों से मिलेंगे सीएम केजरीवाल

बता दें कि दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल 27 नवंबर को पंजाब के मोहाली दौरे पर पहुंचेंगे. जहां अपनी मांगों को लेकर आंदोलन कर रहे शिक्षकों से वह मुलाकात करेंगे और उनके धरने को समर्थन देंगे. इसे लेकर भी सिसोदिया ने तंज कसते हुए लिखा है कि शिक्षकों से बेहतर स्कूलों में हुए सुधार को कौन बता सकता है.  

No comments

leave a comment