Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / November 27.
Homeडिफेंसवायु सेना कमांडरों के सम्मेलन में रक्षामंत्री ने कही ये खास बातें

वायु सेना कमांडरों के सम्मेलन में रक्षामंत्री ने कही ये खास बातें

Defence
Share Now

इस वर्ष कमांडरों का सम्मेलन 10 नवंबर, 2021 से 12 नवंबर, 2021 तक आयोजित किया गया. तीन दिवसीय इस सम्मेलन में बुधवार को रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने कहा कि युद्ध के मैदान में वायुसेना अहम भूमिका निभाती हुई आई है.

वायुसेना कमांडरों के सम्मेलन में रक्षामंत्री सिंह ने बुधवार को कहा कि थियेटर कमान बनने से तीनों सशस्त्र बलों के बीच समन्वय बढ़ेगा. उन्होंने इसे एक महत्वाकांक्षी योजना कहा और आगे जोड़ा कि लाभ तीनों सेनाओं को होगा.

रक्षामंत्री ने कहा कि युद्ध के मैदान में वायुसेना अहम भूमिका निभाती हुई आई है. हमें इसकी ताकत और बढ़ानी होगी. थियेटर कमान गठित करने के काम में सभी हितधारकों की सलाह को ध्यान में रखा जाएगा.राजनाथ ने सीमाओं के मौजूदा हालात पर कहा कि सशस्त्र बलों को कम समय के अंदर बड़े मोर्चों के लिए तैयार रहने की जरूरत है. ऐसी स्थितियों में थियेटर कमान काफी अहम भूमिका निभाएगी. 

मंत्री ने कहा कि वायुसेना हमेशा से मोर्चों के लिए तैयार रही है. किसी भी मुश्किल-परेशानियों की घड़ी में समय रहते वायुसेना के जवान मोर्चे पर जुट जाते हैं और पेशेवर ढंग से जंग में फतह हासिल करते हैं. तीन दिवसीय इस कमांडरों के सम्मेलन में वायुसेना के कमांडर चीन और पाकिस्तान के साथ सीमाओं पर सुरक्षा चुनौतियों की व्यापक समीक्षा करेंगे.

देखें ये वीडियो: MoS Harsh Sanghavi At Unjha Umiya Mata Temple Gujarat

इस दौरान वायुसेना प्रमुख एयरचीफ मार्शल वीआर चौधरी ने रक्षामंत्री को वायुसेना की परिचालन तैयारियों के बारे में पूर्ण जानकारी दी. राजनाथ सिंह ने कहा, ‘भविष्य के संघर्षों में भारतीय वायुसेना की भूमिका महत्वपूर्ण है. उसे आर्टिफिशियल इंटेलीजेंस, मशीनी प्रशिक्षण आदि से अपनी क्षमताओं को बढ़ाने की जरूरत है.’

मेक इन इंडिया पर रक्षामंत्री बोले

ये भी पढ़ें: एडमिरल करमबीर सिंह की विदाई के बाद वाइस एडमिरल आर हरिकुमार होंगे भारतीय नौसेना के नए चीफ

रक्षामंत्री बोले कि मेक इन इंडिया से सैन्य उपकरणों का स्वदेशीकरण हो रहा है. राजनाथ सिंह  ने ‘मेक इन इंडिया’ पहल के माध्यम से सैन्य उपकरणों के स्वदेशीकरण के क्षेत्र में प्रयासों को रेखांकित करते हुए कहा, हल्के लड़ाकू विमान तेजस एमके 1ए और सी-295 परिवहन विमानों के ऑर्डर स्वदेशी एयरोस्पेस क्षेत्र में नए अवसरों के द्वार खोलेंगे. भारत ने सितंबर में एयरबस डिफेंस एंड स्पेस के साथ 56 सी-295 परिवहन विमानों की खरीदी के लिए करीब 20,000 करोड़ रुपये का करार किया है. ये विमान भारतीय वायु सेना के एवरो-748 विमानों की जगह लेंगे.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment