Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / May 16.
Homeहेल्थUrination Problem: यूरिनरी प्रॉब्लम को ना करें नज़रअंदाज, बढ़ सकता है खतरा

Urination Problem: यूरिनरी प्रॉब्लम को ना करें नज़रअंदाज, बढ़ सकता है खतरा

Urination Problem
Share Now

Urination Problem: अक्सर लोग पेशाब की समस्या को गंभीरता से नहीं लेते हैं. इससे जुड़ी समस्याएं अक्सर व्यक्ति को परेशानी में डाल देती हैं. उम्र के साथ यूरिनरी और रिप्रोडक्टिव सिस्टम से जुड़ी समस्याएं बढ़ती जाती हैं. इसके लक्षण बहुत आम हैं और इसे उम्र बढ़ने का एक स्वाभाविक हिस्सा माना जाता है. विशेष रूप से, पेशाब से जुड़े लक्षण को कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. पेशाब से जुड़े घातक लक्षण खासकर पुरुषों को कभी भी नजरअंदाज नहीं करना चाहिए. 

पेशाब की समस्या 
अगर किसी व्यक्ति के पेशाब से खून बह रहा हो तो तुरंत डॉक्टर से संपर्क करना चाहिए. यह ब्लैडर कैंसर, किडनी कैंसर या किडनी स्टोन के लक्षण भी हो सकते हैं. पहली बार पेशाब में खून आते ही मरीजों को डॉक्टर से जरूर संपर्क करना चाहिए.

पेशाब के दौरान दर्द या सूजन
पेशाब आना दर्द, सूजन या पेट के दर्द जैसी किसी बड़ी समस्या का संकेत हो सकता है. जो यूरिनरी ट्रैक्ट में इन्फेक्शन के लक्षण हो सकते हैं. हालांकि, यह ऊतक की समस्या या कैंसर के कारण भी हो सकता है. यदि आप लगातार इस प्रकार के दर्द का अनुभव कर रहे हैं तो आपको डॉक्टर से परामर्श लेना चाहिए. 

ये भी पढ़े: आंखों की खतरनाक बीमारी ‘ग्लूकोमा’ को रोकने में मदद करेगी ये विशेष तकनीक

पेशाब करने में परेशानी
पेशाब की समस्या में बदलाव के कई कारण होते हैं. मूत्र आवृत्ति, तत्काल पेशाब, मूत्र दबाव, खराब मूत्र प्रवाह जैसे लक्षणों पर ध्यान देना महत्वपूर्ण है. जो प्रोस्टेट से जुड़ा म्यूटेशन हो सकता है. कई मामलों में, ये लक्षण तंत्रिका संबंधी रोग, आहार, या दवा से जुड़े हो सकते हैं. 

प्रोस्टेट विशिष्ट प्रतिजन (पीएसए) स्तर
नियमित प्राथमिक देखभाल यात्रा के भाग के रूप में आपको पीएसए परीक्षण करने की आवश्यकता होगी. हालांकि, प्रोस्टेट कैंसर की जांच के लिए पीएसए परीक्षण भी किए जाते हैं. सामान्य तौर पर, रक्तप्रवाह में पीएसए का स्तर बहुत कम होता है. रक्त में पीएसए के स्तर में बदलाव के कारण डॉक्टर रोग का निदान कर सकते हैं. 

अंडकोष में दर्द
अंडाशय में कोई दर्द या ट्यूमर होने पर भी उसकी जांच किसी यूरोलॉजिस्ट विशेषज्ञ से करा लेनी चाहिए. सही समय पर इसका पता चलने पर इलाज संभव है. इसकी जांच कराने में देर न करें. उपरोक्त लक्षणों में से कोई भी अनुभव होने पर तुरंत डॉक्टर से संपर्क करें. 

 ये वीडियो भी देखें: 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment