Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / June 27.
Homeस्पोर्ट्सजिमी मैथ्यूज: टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में दोनों पारियों में हैट्रिक विकेट लेने वाला इकलौता गेंदबाज

जिमी मैथ्यूज: टेस्ट क्रिकेट के इतिहास में दोनों पारियों में हैट्रिक विकेट लेने वाला इकलौता गेंदबाज

Double Hat Trick in Test
Share Now

Double Hat Trick in Test: क्रिकेट के मैदान पर ना जाने कितने रिकॉर्ड बनते है और टूट जाते है। लेकिन कुछ क्रिकेट रिकॉर्ड पिछले 100 सालों से भी ज्यादा समय से नहीं टूट पाए है। आज हम आपको एक ऐसे ही क्रिकेट रिकॉर्ड के बारें में बताएंगे जो पिछले 109 सालों से अमर है। जी हां, क्रिकेट में हैट्रिक लेना किसी भी गेंदबाज़ के लिए आसान काम नहीं होता है। लेकिन क्रिकेट इतिहास में एक ऐसा गेंदबाज़ भी हुआ जिसने टेस्ट मैच की दोनों पारियों में हैट्रिक (Double Hat Trick in Test) लेकर इतिहास रचा था। उस रिकॉर्ड को आज करीब 109 साल हो गए। लेकिन कोई गेंदबाज़ फिर वो इतिहास दोहरा नहीं पाया है। यह रिकॉर्ड ऑस्ट्रेलिया के लेग स्पिनर जिमी मैथ्यूज (Jimmy Matthews) ने बनाया था।

दोनों पारियों में हैट्रिक लेने वाले जिमी मैथ्यूज:

जिमी मैथ्यूज ऑस्ट्रेलिया की तरफ से खेलने वाले लेग स्पिनर थे। उन्होंने 1912 में साउथ अफ्रीका के खिलाफ खेले गए टेस्ट मैच में यह कारनामा किया था। इंग्लैंड के मैनचेस्टर मैदान पर जिमी मैथ्यूज ने साउथ अफ्रीका के खिलाफ टेस्ट की दोनों पारियों में हैट्रिक लेकर इतिहास रचा था। उन्होंने पहली पारी में अपने शिकार आर ब्यूमोंट, एसजे पेग्लर, टीए वार्ड को लगातार तीन गेंदों पर आउट करके बनाया था। उसके बाद उन्होंने अगली पारी में भी एचडब्ल्यू टेलर, आरओ श्वार्ट्ज, टीए वार्ड का विकेट लेकर इतिहास के पन्नों पर स्वर्णिम अक्षरों से अपना नाम लिखवाया। उनका यह रिकॉर्ड आज 109 सालों बाद भी अमर है।

बिना फील्डर की मदद से लिए सभी 6 विकेट:

जिमी मैथ्यूज के इन लगातार दो हैट्रिक में खास बात यह भी थी कि ”उन्होंने अपने 6 विकेट में बिना किसी फील्डर की मदद से लिए थे। उन्होंने इन 6 विकेटों में 2 बोल्ड, 2 LBW और 2 कैच खुद लपके थे। क्रिकेट इतिहास में ऐसा रिकॉर्ड पिछले 109 सालों में फिर कोई नहीं दोहरा पाया है। आगे आने वाले समय में भी उनके इस रिकॉर्ड को तोड़ना को असंभव है लेकिन कोई बराबरी कर ले ये भी बड़ी बात है। बता दें एक टेस्ट मैच की दोनों पारियों में हैट्रिक विकेट लेने वाले मैथ्यूज का करियर ज्यादा लंबा नहीं रहा। उन्होंने अपने करियर में मात्र 8 टेस्ट मैच खेले थे।

इसे भी पढ़े: रविंद्र जडेजा के जन्मदिन पर जानिए उनके संघर्ष की कहानी, कैसे बने दुनिया के स्टार क्रिकेटर

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment