Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 7.
HomeडिफेंसDRDO ने किया 25 Enhanced Pinaka Rockets को लॉन्च!

DRDO ने किया 25 Enhanced Pinaka Rockets को लॉन्च!

DRDO
Share Now

DRDO: Defence Research and Development Organisation/DRDO ने आर्टिलरी रॉकेट सिस्टम के विकास को जारी रखते हुए Multi-Barrel Rocket Launcher  (MBRL) से देश में विकसित पिनाका रॉकेट का सफलतापूर्ण परीक्षण किया गया। इस परीक्षण में पिनाका की रेंज का संस्करण किया गया। Pinaka Rocket रेंज का यह परीक्षण ओडिशा के तटीय क्षेत्र चांदीपुर में किया गया। परीक्षण के दौरन ही 25 Enhanced Pinaka Rockets को लॉन्‍च किया गया। 

केन्द्रीय रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने उन्नत पिनाका रॉकेट के सफल प्रक्षेपण पर डीआरडीओ और उद्योग जगत को बधाई दी है। रक्षा अनुसंधान एवं विकास विभाग के सचिव और डीआरडीओ के अध्यक्ष डॉ जी सतीश रेड्डी ने सफल परीक्षणों में शामिल टीमों के प्रयासों की सराहना की।

25 Enhanced Pinaka Rockets को लॉन्च किया गया:  

  • इस परीक्षण के दौरन 25 उन्नत पिनाका रॉकेटों को लॉन्‍च किया गया।  
  • एक के बाद एक लगातार लक्ष्य के तरफ प्रक्षेपित किया गया।
  • हाँलाकि परीक्षण के दौरान सभी उद्देश्यों को हासिल कर लिया गया।
  • उन्नत पिनाका रॉकेट सिस्टम 45 किलोमीटर तक की दूरी पर स्थित लक्ष्य को पूरा करने की क्षमता रखता है।
  • इस दौरान आईटीआर और प्रूफ एंड एक्सपेरिमेंटल एस्टैब्लिशमेंट (Proof and Experimental Establishment/PXE) द्वारा तैनात रेंज उपकरण टेलीमेट्री, रडार और इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम के जरिए सभी प्रक्षेपणों पर नजर रखी गई।

यहाँ पढ़ें:पश्चिमी वायु कमान को सर्वोच्च स्तर की तैयारी रखने का निर्देश

रॉकेट सिस्टम को पुणे स्थित आयुध अनुसंधान एवं विकास प्रतिष्ठान (एआरडीआई)और उच्च ऊर्जा सामग्री अनुसंधान प्रयोगशाला (एचईएमआरएल)द्वारा संयुक्त रूप से मेसर्स इकोनॉमिक एक्सप्लोसिव्स लिमिटेड, नागपुर के मैन्युफैक्चरिंग सहयोग के साथ विकसित किया गया है। उन्नत पिनाका प्रणाली को लंबी दूरी के लक्ष्यों को भेदने के लिए विकसित किया गया है।

DRDO ने 122mm Caliber Rocket का भी किया सफलतापूर्वक परीक्षण: 

इसके अलावा DRDO ने 25 जून 2021 को ओडिशा के चांदीपुर तट पर एकीकृत परीक्षण रेंज (आईटीआर) में एक मल्टी-बैरल रॉकेट लॉन्चर (एमबीआरएल) से स्वदेशी रूप से विकसित 122 मिमी कैलिबर रॉकेट के उन्नत रेंज संस्करणों का सफलतापूर्वक परीक्षण किया।

  • 122 मिमी कैलिबर रॉकेट (122mm Caliber Rocket) के चार उन्नत संस्करणों को लॉन्चर से सभी उपकरणों के साथ दागा गया। 
  • इस परीक्षण ने मिशन के सभी उद्देश्यों को पूरा किया।
  • इस तरह के रॉकेट भारतीय सेना द्वारा इस्तेमाल करने के लिए विकसित किए गए हैं, और ये रॉकेट 40 किलोमीटर की दूरी तक के लक्ष्य को भेद सकते हैं।
  • परीक्षण के दौरान आईटीआर और प्रूफ एंड एक्सपेरिमेंटल एस्टैब्लिशमेंट (पीएक्सई) द्वारा स्थापित किये गए टेलीमेट्री, रडार तथा इलेक्ट्रो ऑप्टिकल ट्रैकिंग सिस्टम सहित अन्य रेंज उपकरणों द्वारा सभी गतिविधियों को ट्रैक किया गया था।
  • इस रॉकेट सिस्टम को पुणे स्थित आर्मामेंट रिसर्च एंड डेवलपमेंट एस्टैब्लिशमेंट (Armament Research and Development Establishment/ARDE) और High Energy Materials Research Laboratory (HEMRL) द्वारा संयुक्त रूप से विकसित किया गया है।
  • इसके निर्माण कार्य में इकोनॉमिक एक्सप्लोसिव्स लिमिटेड नागपुर (M/s Economic Explosives Limited, Nagpur) की सेवाएं भी ली गई हैं। यह उन्नत किस्म की रॉकेट प्रणाली मौजूदा 122 मिमी ग्रैड रॉकेटों  (122mm Caliber Rocket Secretary) का स्थान लेगी।

यहाँ पढ़ें: रक्षा मंत्री श्री राजनाथ सिंह ने किया ‘Project Seabird’ का सर्वेक्षण!

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें OTT INDI App पर…. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment