Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeन्यूजतीनो कृषि बिलों को वापिस लेने की घोषणा, किसानों की जीत है: हनुमान बेनीवाल

तीनो कृषि बिलों को वापिस लेने की घोषणा, किसानों की जीत है: हनुमान बेनीवाल

Farm Laws Repeal
Share Now

Farm Laws Repeal: शुक्रवार का दिन किसानों के लिए बहुत बड़ा दिन माना जा रहा है। तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने की मांग को लेकर पिछले करीब एक साल से किसान सड़कों पर आंदोलन कर रहे थे, प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने तीनों कृषि कानूनों को वापस लेने (Farm Laws Repeal) का ऐलान किया। पीएम मोदी के ऐलान के बाद नेताओं के अलग-अलग बयान सामने आ रहे हैं। इसको लेकर राजस्थान के किसान नेता और नागौर सांसद हनुमान बेनीवाल (MP Hanuman Beniwal) ने इसको किसानों की जीत बताया है।

कृषि बिलों को वापिस लेने की घोषणा किसानों की जीत है: बेनीवाल

सांसद हनुमान ने एक के बाद एक आठ ट्वीट करते हुए किसानों के संघर्ष और शहादत को याद करते हुए कहा कि ”आज प्रधानमंत्री श्री नरेन्द्र मोदी ने केंद्र द्वारा आनन-फानन में लाये गए तीनो कृषि बिलों को वापिस लेने की घोषणा की,यह किसानों की जीत है।” काश प्रधानमंत्री जी समय रहते संज्ञान लेकर किसानों के दर्द को समझते तो किसान आंदोलन में सैकड़ो किसानों को शहादत नही देनी पड़ती।

किसानों के आगे केंद्र सरकार को झुकना पड़ा: बेनीवाल

इसके आगे सांसद बेनीवाल ने कहा कि ”केंद्र सरकार व प्रधानमंत्री जी ने अधिकारियों के भंवर जाल मे फंसकर किसानों के हितों पर कुठाराघात करने वाले बिल लेकर आ गए और उसके बाद दिल्ली की सरहद पर अन्नदाता आंदोलित हुआ और पूरे देश की भावना किसानों के पक्ष में हुई और लंबे संघर्ष के बाद किसानों के आगे केंद्र को झुकना पड़ा। राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी व एनडीए के उन सहयोगी दलों से भी कृषि कानून लाने से पूर्व केंद्र ने चर्चा नही की जिनकी भूमिका सरकार बनाने व एनडीए के बहुमत लाने में थी और राष्ट्रीय लोकतांत्रिक पार्टी ने भी शाहजहांपुर बॉर्डर को जाम करके किसान आंदोलन के समर्थन में लंबा संघर्ष किया।”

शहीद हुए अन्नदाताओं के परिजनों के लिए पीएम करें घोषणा: बेनीवाल

हनुमान बेनीवाल की पार्टी RLP से भाजपा ने गठबंधन करके लोकसभा का चुनाव लड़ा था। जिसका भाजपा को राजस्थान में काफी फायदा भी मिला। लेकिन किसान आंदोलन के चलते RLP के सुप्रीमो हनुमान बेनीवाल ने NDA से नाता तोड़ लिया था। हनुमान बेनीवाल किसान आंदोलन के समर्थन में उतर गए थे। अब उन्होंने कहा है कि किसानों का बलिदान व किसानों का संघर्ष आज विजयी हुए है,पीएम नरेंद्र मोदी जी को किसान आंदोलन में शहीद हुए अन्नदाताओं के परिजनों के लिए भी कुछ घोषणा करनी चाहिए।

इसे भी पढ़े: किसानों के लिए ऐतिहासिक दिन! पीएम मोदी ने किया ऐलान, वापस लिए जाएंगे तीनों कृषि कानून

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment