Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeन्यूजकोरोना के बढ़ते मामलों से जूझता फ्रांस, हालात ख़राब होने पर फ्रांस सरकार का बड़ा फैसला

कोरोना के बढ़ते मामलों से जूझता फ्रांस, हालात ख़राब होने पर फ्रांस सरकार का बड़ा फैसला

France Coronavirus Update
Share Now

France Coronavirus Update: दुनियाभर में कोरोना के मामले दोबारा बढ़ने शुरू हो गए है। भारत में दूसरी लहर के खत्म होने के बाद तीसरी लहर आने की आशंका जताई जा रही है। विदेशों में भी कोरोना के मामले भारत की तुलना तेजी से बढ़ रहे है। फ्रांस (France Coronavirus Update) में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले चिंताजनक रूप से बढ़ रहे है। ऐसे में वहां की सरकार ने लॉकडाउन ना लगाने का फैसला किया है। फ्रांस सरकार ने सभी वयस्कों को कोरोना रोधी टीके की ‘बूस्टर डोज’ लगाने का फैसला किया है।

फ्रांस में रोजाना आ रहे है 30,000 नए मामले:

जहां एक तरफ भारत में कोरोना के नए मामलो का ग्राफ धीरे-धीरे नीचे आ रहा है। वहीं दूसरी तरफ फ्रांस जैसे बड़े देश में अब एक बार फिर कोरोना का दहशत देखने को मिल रहा है। एक समय था जब भारत में कोरोना के रोजाना एक लाख से अधिक केस आ रहे थे, उस समय फ्रांस में मात्र 1-2 हज़ार मामले आ रहे थे। लेकिन भारत ने रिकॉर्ड स्तर पर कोरोना टीकाकरण अभियान चलाकर दुनिया को एक बड़ा संदेश दिया था। लेकिन अब फ्रांस में हालात चिंताजनक बन चुके है। फ्रांस में रोजाना 30,000 से अधिक कोरोना के नए मामले आ रहे है।

बूस्टर डोज का अहम फैसला:

फ्रांस में कोरोना से चिंताजनक हालात के बाद के बाद लॉकडाउन के कयास लगाए जा रहे थे। लेकिन इसी दौरान फ्रांस सरकार ने बड़ा फैसला लेते हुए दुनिया को एक नया संदेश दिया है। वैज्ञानिकों के अनुसार आने वाले कई सालों तक कोरोना जाने वाला नहीं है। ऐसे में फ्रांस सरकार ने लॉकडाउन लगाना इसका कोई उचित सामाधान नहीं समझते हुए अपने सभी वयस्कों को कोरोना रोधी टीके की ‘बूस्टर डोज’ लगाने का फैसला किया है।

फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री का बड़ा ऐलान:

फ्रांस के हॉस्पिटलों में संक्रमितों के मामलों की संख्या में रोजाना बढ़ोतरी हो रही हैं। इसको देखते हुए फ्रांस के स्वास्थ्य मंत्री ओलिवियर वेरन ने बड़ा ऐलान करते हुए कोविड-19 रोधी टीके की दूसरी और तीसरी डोज के बीच के अंतराल को 6 से घटाकर 5 महीने करने की घोषणा की। उन्होंने कहा कि राष्ट्रव्यापी ‘बूस्टर’ अभियान शुरू करने के लिए फ्रांस के पास पहले से ही पर्याप्त टीके उपलब्ध हैं।

ये भी पढ़ें: आज भी जंजीरों में कैद है ये पेड़, 123 साल पहले अंग्रेजी अफसर ने पेड़ को कराया था गिरफ्तार

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment