Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / September 27.
HomeUnknown फैक्ट्सजानिए, कौन सा देश है क्षेत्रफल में सबसे बड़ा लेकिन जनसंख्या सबसे कम!

जानिए, कौन सा देश है क्षेत्रफल में सबसे बड़ा लेकिन जनसंख्या सबसे कम!

Share Now

हमें हमेशा रोचक बातों को जानने में अधिक दिलचस्पी दिखाते हैं। देश और दुनिया की खबरों के साथ साथ, हम कुछ अनकहे अनसुने फैक्ट्स के बारे में जानना पसंद करते है। तो चलिए आज एक ऐसे ही दिलचस्प फ़ैक्ट के बारे में जानेंगे। आज हम बात करेंगें एक ऐसे द्वीप की जो दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप/देश  है। जिसका नाम है- ग्रीनलैंड (Greenland)। 

ग्रीनलैंड है, क्षेत्रफल के हिसाब से दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप:-

ग्रीनलैंड क्षेत्रफल के हिसाब से सबसे बड़ा देश है, पूरे विश्व में सबसे बड़े देशों में से 12वें स्थान पर है। क्षेत्रफल की दृष्टि से 20 लाख वर्ग किमी. में चट्टान और बर्फ़ फैली हुई  हैं। यदि देखा जाए तो ग्रीनलैंड ब्रिटेन से 10 गुना ज़्यादा बड़ा है। और ग्रीनलैंड की जनसंख्या सिर्फ़ 56 हज़ार है जो कि इंग्लैंड के लगभग एक शहर के बराबर है। ग्रीनलैंड की 88 प्रतिशत जनसंख्या इनूएट (Inuit) की है और बाक़ीकी जनसंख्या वाले लोग  डेनिश (डेनमार्क की भाषा बोलने वाले) लोग रहते हैं। देखा जाए तो ग्रीनलैंड एक स्व-शासित देश है, लेकिन डेनमार्क ग्रीनलैंड पर नियंत्रण करता है।

लेकिन वर्ष 1950 के बाद से वैज्ञानिकों की यह परिकल्पना है कि यह देश वास्तव में तीन अलग-अलग द्वीपों से बना है, जो ग्लेशियर के माध्यम से एक-दूसरे से जुड़े हुए हैं। 

देखें यह वीडीओ: THE APEX PREDATOR POLAR BEAR

ग्रीनलैंड का इतिहास:-  

ग्रीनलैंड (‘लोगों की भूमि’) को लोगों की भूमि के नाम से भी जाना जाता है। 18 वीं सदी के बाद से यूरोप (खास तौर पर डेनमार्क (Denmark) से राजनीतिक रूप से जुड़ा हुआ है। ग्रीनलैंड को 1979 में डेनमार्क ने स्व-शासन का अधिकार दिया था।  2008 में ग्रीनलैंडर्स ने एक ऐसे अधिनियम के पक्ष में मतदान किया जिसने उनकी सरकार को और भी अधिक शक्तिशाली बना दिया। डेनिश क्षेत्र होने से पहले, ग्रीनलैंड नॉर्वे के अधीन में था। वर्ष 1499 में कुछ समय के लिए पुर्तगालियों ने भी ग्रीनलैंड पर नियंत्रण का दावा किया था। इसके अलावा ग्रीनलैंड दुनिया का सबसे विरल (कम) जनसंख्या वाला देश है।

Image Credit:BBC

यहाँ पढ़ें: इन कारणों से है, इजरायल की एग्रीकल्चर तकनीकी विश्व प्रसिद्ध

आइए जानते हैं, ग्रीनलैंड की कुछ दिलचस्प बातें:  

  • ग्रीनलैंड ने कई चीजों में वर्ल्ड रिकॉर्ड तोड़े हैं।
  • जैसे कि यह दुनिया का सबसे बड़ा द्वीप है। 
  • यह पृथ्वी पर सबसे कम जनसंख्या घनत्व वाला क्षेत्र है। 
  • अंटार्कटिका के बाद सिर्फ ग्रीनलैंड ही ऐसा क्षेत्र है जहां हमेशा बर्फ की चादर बिछी रहती है। 
  • इसके 56,000 निवासियों में से अधिकांश इनुइट (Inuit) हैं। 
  • ये उन लोगों के वंशज हैं जो 13 वीं शताब्दी में कनाडा से यहां आए थे। 
  • यहाँ एक संता का मेलबॉक्स था।
  • 2018 में ‘मेलबॉक्स’ को बंद कर दिया गया। 
  • संत निकोलस के नाम से हजारों पत्र हर साल क्रिसमस के आसपास ‘मेलबॉक्स’ में पहुंचते थे
  • कुछ कार्यकर्ता बच्चों की चिट्ठियों का हाथ से लिखे पत्रों के जरिए जवाब दिया करते थे। 
  • ग्रीनलैंड की राजधानी नुक में एक तिहाई आबादी रहती है।  
  • ग्रीनलैंड के कुछ इलाकों में रोड नहीं हैं, और  बर्फ पर चलने वाली गाड़ियां काफी महंगी होती है। 
  • ऐसे में, ग्रामीण एक गांव से दूसरे गांव या समुंद्र तक जाने के लिए कुत्तों की गाड़ियां का इस्तेमाल करते हैं। 

गांव या समुंद्र तक जाने के लिए कुत्तों की गाड़ियां का इस्तेमाल Image Credit: BBC

बर्फ़ीला प्रदेश होने के कारण ग्रीनलैंड की आर्थिक स्थिति कमजोर:-

बर्फ़ीला प्रदेश होने के कारण ग्रीनलैंड की आर्थिक स्थिति कमजोर है। कई सालों में अमरीकियों और डेनमार्क के लोगों ने ग्रीनलैंड और उसकी राजनधानी नूक में ज़्यादा पैसा नहीं लगाते। क्यूंकी यहाँ आर्थिक स्थिति बहुत ही कमजोर है। कुछ लोग यहाँ इकट्ठे होकर समान बेचते हैं, जिससे कुछ नकद पैसों का इंतजाम हो जाता है। बाजर के स्टॉलस में  कपड़े, स्कूलबैग (School bags), केक (Cake), सूखी मछली (Dry Fish) और रेंडियर के सींग जैसी चीजें बेचते हैं। 

ग्रीनलैंड की अर्थव्यवस्था मछली उद्योग पर निर्भर:-   

सील मछली Image Credit:BBC

  • ग्रीनलैंड में प्रत्येक वर्ष हजारों सील मछली मारी जाती हैं।
  • ग्रीनलैंड की अर्थव्यवस्था काफी हद्द तक मछली उद्योग पर निर्भर है।
  • मछली पकड़ने का एक विवादास्पद तरीका सील मछली का शिकार है, जिसकी इजाजत ग्रीनलैंड में है। 
  • बर्फ की चादर पर बैठी सीलों को गोलीमार उनका शिकार किया जाता है।
  • वैश्विक स्तर पर इस बात को माना गया है कि हत्या की वजह से सील प्रजाति भी विलुप्त हो सकती है। 
  • लेकिन देश के कुछ लोग अपनी आजीविका को पूरा करने के लिए पूरी तरह से सील के शिकार पर निर्भर हैं। 

यहाँ पढ़ें: स्वदेशियों ने चखा गिर के केसर आम का स्वाद, यूरोपीय देशों में 100 टन निर्यात 

कस्तूरी बैल (Musk ox) से पर्यटकों को किया जाता है आगाह:-

कस्तूरी बैल से पर्यटकों को किया जाता है आगाह Image Credit:BBC

ग्रीनलैंड में आने वाले पर्यटकों को कस्तूरी बैल (Musk ox) के बारे में आगाह किया जाता है। जिनमें से अत्यधिक तीव्र गंध आती है, और उनकी गंध की वजह से वे प्रसिद्ध हैं। ये कस्तूरी बैल सिर्फ ग्रीनलैंड, उत्तरी कनाडा और अलास्का में पाए जाते हैं। लेकिन सर्दियों में अंधाधुंध शिकार की वजह से इन बैलों की आबादी कम हो गई थी, लेकिन अब कस्तूरी बैल के शिकार पर रोक लगा दी गई है। इस वजह से ये फिर से नजर आने लगे हैं। यदि आप भी पर्यटन के लिए ग्रीनलैंड जाते हैं तो बैलों से सतर्क रहें। 

ग्रीनलैंड द्वीप पर बड़े पैमाने पर बर्फ पिघलने की घटना दर्ज:- 

ग्रीनलैंड (Greenland) के निवासियों ने ही सबसे पहली बार जलवायु परिवर्तन के असर को महसूस किया था। समुद्र के बढ़ते जल स्तर के साथ साथ आर्कटिक की पिघतली बर्फ ने उन्हें जलवायु में बदलाव का अहसास कराया है। हाल के दिनों में वैज्ञानिकों ने इस द्वीप पर एक बड़े पैमाने पर बर्फ पिघलने की घटना दर्ज की, जिसके बारे में भविष्यवाणी की गई थी कि  2070 तक बर्फ पिघलने की ऐसी कोई घटना सामने नहीं आएगी। 

जो भी हो लेकिन पर्यटन और एडवेंचर के लिए ग्रीनलैंड सबसे अच्छा देश माना जाता है। 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें..  स्वस्थ रहें.. 

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment