Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
Homeबिजनेसलगातार तीसरे महीने GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार

लगातार तीसरे महीने GST कलेक्शन 1 लाख करोड़ रुपये के पार

Share Now

September 2021 GST Collection: भारतीय अर्थव्यवस्था कोरोना महामारी से उबर रही है. देश की अर्थव्यवस्था दिन-ब-दिन मजबूत होती जा रही है. अर्थव्यवस्था के मजबूत होने से सरकारी राजस्व भी बढ़ रहा है.  देश का राजकोषीय घाटा काबू में आने के बाद भी पहली तारीख को सरकार के लिए अच्छी खबर है और वो है जीएसटी कलेक्शन. 

सितंबर 2021 जीएसटी संग्रह
वित्त मंत्रालय की ओर से  सितंबर 2021 के जीएसटी कलेक्शन के आंकड़े जारी किए गए हैं. पिछले महीने सरकार का जीएसटी राजस्व 1.17 लाख करोड़ रुपये था. आंकड़ों के मुताबिक जीएसटी कलेक्शन में सालाना 23 फीसदी की बढ़ोतरी हुई है.

उल्लेखनीय है कि सरकार का जीएसटी राजस्व सितंबर में लगातार तीसरे महीने 1 लाख करोड़ रुपये को पार कर गया है. सितंबर 2020 में जीएसटी संग्रह 91,916 करोड़ था, जो सितंबर, 2019 के संग्रह से 4% अधिक था. 

सितंबर 2021 में एकत्र किया गया कुल जीएसटी राजस्व 1,17,010 करोड़ रुपये था, जो पिछले साल के सितंबर, 2020 के जीएसटी राजस्व से 23% अधिक है. पिछले महीने माल के आयात से जीएसटी राजस्व में 30% की वृद्धि हुई और घरेलू लेनदेन (सेवाओं के आयात सहित) से जीएसटी राजस्व पिछले वर्ष की इसी अवधि की तुलना में 20% अधिक है.

केंद्रीय राज्यों की आय कितनी है?
सितंबर में सीजीएसटी संग्रह ₹ 20,578 करोड़, एसजीएसटी ₹ 26,767 करोड़, आईजीएसटी ₹ 60,911 करोड़ था जिसमें 29,555 करोड़ रुपये के माल का आयात कर संग्रह शामिल था. इसके अलावा सरकार को पिछले महीने ₹8,754 करोड़ का उपकर मिला, जिसमें 623 करोड़ रुपये का आयात कर शामिल है.

ये भी पढ़ें: DIPAM के सचिव बोले- एयर इंडिया के नए ‘महाराजा’ होंगे टाटा संस की खबरें गलत

सरकार ने IGST से CSGT के रूप में 28,812 करोड़ रुपये और SGST के रूप में 24,140 करोड़ रुपये नियमित निपटान के रूप में तय किए हैं. नियमित निपटान के बाद सितंबर 2021 में केंद्र और राज्यों का कुल राजस्व सीजीएसटी के लिए ₹49,390 करोड़ और एसजीएसटी के लिए ₹50,907 करोड़ है. 

जीएसटी संग्रह भी तिमाही आधार पर 5% बढ़ा
इस वर्ष की दूसरी तिमाही में औसत मासिक जीएसटी संग्रह ₹ 1.15 लाख करोड़ रहा, जो कि वर्ष की पहली तिमाही में औसत मासिक संग्रह ₹ 1.10 लाख करोड़ से 5% अधिक है. 

जीएसटी के कारण राज्य सरकारों के राजस्व में गिरावट के बाद केंद्र सरकार ने राज्यों को 22,000 करोड़ रुपये आवंटित किए हैं. एक सरकारी प्रेस विज्ञप्ति में कहा गया है कि केंद्र ने राज्यों को जीएसटी मुआवजे के रूप में पैसा दिया है. 

ये वीडियो भी देखें: 

No comments

leave a comment