Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / May 18.
Homeभक्तिदेश का एक ऐसा मंदिर जहां हनुमान जी की पूजा होती है नारी स्वरूप में

देश का एक ऐसा मंदिर जहां हनुमान जी की पूजा होती है नारी स्वरूप में

Hanuman Temple Orcha
Share Now

(Hanuman Mandir) हनुमान मंदिर रतनपुर ओरछा मध्य प्रदेश:-

तुम्हरे भजन राम को पावै
जनम जनम के दुख बिसरावै॥

अंतकाल रघुवरपुर जाई
जहाँ जन्म हरिभक्त कहाई॥

हमने परंपरा से जाना है कि स्त्रियों को भगवान हनुमान की प्रतिमा को हाथ नहीं लगाना चाहिए, क्योंकि भगवान हनुमान बाल ब्रह्मचारी थे और महिलाओं से हमेशा दूरी बना कर रखते थे। भारत में भगवान हनुमान के कई मंदिर हैं और इनमें उनके अलग-अलग स्वरूप में दर्शन होते हैं। यह जानकर आश्चर्य होगा कि देश में भगवान हनुमान का एक ऐसा मंदिर भी मौजूद है जहां उनकी पूजा महिलाओं के स्वरूप में होती है। 

मंदिर में होती है हनुमान जी की नारी स्वरूप में पूजा:- 

यह मंदिर मध्यप्रदेश स्थित ओरछा के नजदीक रतनपुर गांव में है। यहां पर हनुमान जी का स्वरूप महिलाओं जैसा है। कहते हैं कि दुनियाभर में मौजूद हनुमान जी के मंदिरों में एक अनोखा मंदिर है जहां हनुमान जी ने नारी का स्वरूप धारण किया है। पौराणिक मान्यताओं के अनुसार हनुमान जी नारी स्वरूप में भी पूजे जाते हैं। इस मंदिर से एक कहानी के पीछे एक कहानी है। दरअसल मंदिर का निर्माण 25 किलोमीटर दूर बिलासपुर के राजा पृथ्वीदेवजू ने कराया था। 

लोककथा के अनुसार यहां के राजा को कोढ़ था। पुरानी परंपराओं के आधार पर न तो वह किसी कहीं प्रेवश कर पाते और न ही अपनी अधूरी इच्छाओं को पूरा कर पाते। लेकिन राजा हनुमान जी के बड़े भक्त थे। राजा शादीशुदा नहीं थे लेकिन स्वप्न में सुंदर महिलाओं के स्वप्न देखा करते थे एक दिन सपने में राजा ने ऐसी महिला दिखी, जो दिखने में महिला जैसी तो थी मगर उनका स्वरूप भगवान हनुमान से मिलता जुलता था। 

यहां पढ़ें: एक ऐसा मंदिर जहां लंबोदर की स्थापित मूर्ति है सभी प्रतिमाओं से भिन्न!

Hanuman Mandir Ratanpur

Hanuman Mandir Ratanpur
Image Source: Google

स्वप्न में हनुमानजी जैसी दिखने वाली महिला ने मंदिर बनवाने का दिया आदेश:- 

सपने में राजा ने देखा कि हनुमानी जी जैसी दिखने वाली महिला ने उससे अपना एक मंदिर बनवाने की बात कही है और मंदिर के पीछे एक तालाब का निर्माण करने को कहा है। साथ ही उसने ये भी कहा कि तालाब में नहाने से उसका रोग दूर हो जाएगा। दूसरे दिन सपने में दिखी तस्वीर हूबहू माता की प्रतिमा बनवाई गई। इसके अलावा एक मंदिर और तालाब का भी निर्माण करवाया गया। इस तरह से मंदिर और तालाब का भी निर्माण करवाया गया। पूरे विधि विधान के साथ हनुमान जी की प्रतिमा को मंदिर में स्थापित करवाया गया। उस दिन से मंदिर में हनुमान भगवान के इसी स्वरूप की पूजा होती है। 

हनुमान मंदिर रतनपुर की खासियत:- 

इस मंदिर की खासियत है कि यहां भगवान हनुमान जी की प्रतिमा का श्रृंगार पूरी तरह से महिलाओं के श्रंगार की तरह किया जाता है। भगवान को जेवर भी महिलाओं वाले ही पहनाए जाते हैं। यहां तक कि हनुमान जी प्रतिमा को नथ भी पहनाई गई है।

हनुमान जी के इस मंदिर के पास एक और अनोखा मंदिर है। यह मंदिर उन्हीं के परमपूज्य भगवान राम का है। सबसे की सबसे बड़ी खासियत तो यही है कि भगवान राम को भगवान नहीं बल्कि राजा के तौर पर पूजा जाता है।

मंदिर के पट खुलते ही सेना के जवान उन्हें सलामी देते हैं:- (Hanuman Mandir)

यहां परंपरा है कि मंदिर के पट खुलते ही सेना के जवान उन्हें सलामी देते हैं। ये मंदिर एक समय में बुंदेलखंड की राजधानी कहे जाने वाले ओरछा में है। घने जंगलों और प्राकृतिक खूबसूरती से घिरा ये मंदिर बेतवा नदी के तट पर है। 

अब बिलंब केहि कारन स्वामी। कृपा करहु उर अंतरयामी॥

देखे यह वीडियो: Hanuman Janmotsav Special 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment