Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Friday / October 15.
Homeन्यूजदशहरा से जुड़ीं 10 अनसुनी बातें, इस पर्व पर करें खुद के अंदर छिपी बुराई का भी अंत

दशहरा से जुड़ीं 10 अनसुनी बातें, इस पर्व पर करें खुद के अंदर छिपी बुराई का भी अंत

Happy Dussehra 2021
Share Now

Happy Dussehra 2021: भारत को त्योहारों का देश कहा जाता है। यहां हर जाति धर्म के लोग रहते है। अपने देश में हर दिन एक खास महत्व होता है। भारत में जितने त्योहार मनाए जाते है शायद ही दुनिया में कहीं मनाए जाते होंगे। और खास बात ये है कि हर त्योहार का अपना एक खास महत्व माना गया है। अब देश में शुक्रवार को दशहरा या विजयदशमी (Happy Dussehra 2021) का त्योहार मनाया जाएगा।

दशहरा कई रूपों में समृद्धिदायक त्योहार:

इसे पूरे देश में बहुत ही धूम धाम से मनाया जाता है। असत्य पर सत्य की विजय के रूप में मनाया जाने वाला दशहरा कई रूपों में समृद्धिदायक त्योहार है। आज दशहरे के इस त्योहार पर हम आपको बताते है 10 ऐसी बातें जिनके बारें में शायद आप पहले नहीं जानते होंगे…

यहां पढ़ें: राजस्थान में इस जगह हुई थी रावण की शादी, यहां रोजाना होती है रावण की पूजा

विजयदशमी के बारे में क्‍या ये बातें जानते हैं आप:

1. विजयदशमी के नाम से भी दशहरा को जाना जाता है। इसे बुराई पर अच्छाई की विजय का त्योहार माना जाता है।
2. विजयदशमी का अर्थ होता है दसवें दिन की विजय। ऐसा कहा जाता है कि नवरात्रि के बाद दसवें दिन ही माँ दुर्गा ने महिषासुर राक्षस का वध किया।
3. पौराणिक कथाओं के अनुसार महिषासुर असुरों का राजा हुआ करता था। महिषासुर ने अपने अत्‍याचारों से भगवान को भी खूब परेशान किया। फिर माँ दुर्गा की शरण में गए विष्‍णु, ब्रह्मा और महेश तब माँ दुर्गा ने अपनी शक्ति से महिषासुर से युद्ध लड़ा जो 10 दिनों तक चला। मां ने 10वें दिन महिषासुर का अंत कर दिया और विजय हासिल कर ली।
4. इसके अलावा एक पौराणिक कथा ये भी है कि इस दिन भगवान श्रीराम ने दस सिर वाले रावण का वध किया।
5. दशहरा मनाने के पीछे एक मान्यता ये भी है कि ऐसा कहा जाता है कि अगर रावण का वध श्री राम ने नहीं किया होता तो सूर्य भगवान हमेशा के लिए डूब जाते। और दुनिया में फिर कभी उजाला नहीं होता।
6.भारत के अलावा दशहरा का पर्व बांग्‍लादेश, मलेशिया और नेपाल में भी मनाया जाता है।
7.अश्विन के महिने में शुक्लपक्ष की दशमी को तारों के उदयकाल में मृत्यु पर भी विजयफल दिलाने वाला काल माना जाता है।
8. पौराणिक कथाओं के अनुसार रावण का ससुराल राजस्थान के जोधपुर में बताया गया है।
9. देश में करीब 10 ऐसे स्थान है जहां रावण को भगवान का रूप माना जाता है।
10. उज्जैन जिले के चिखली गांव में रावण दहन नहीं किया जाता, बल्कि उसकी पूजा की जाती है। यहां ऐसा कहा जाता है कि रावण की पूजा नहीं करने पर गांव जलकर राख हो जाएगा।

यहां पढ़ें: मां वैष्णो देवी का ऐसा स्थल जहां लोग दर्शन मात्र के लिए बावनसौ फीट चढ़ाई करने को हैं तैयार

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

(Disclaimer: इस लेख में दी गई जानकारियां और सूचनाएं सामान्य जानकारियों पर आधारित हैं। OTT India इनकी पुष्टि नहीं करता है। इन पर अमल करने से पहले संबंधित विशेषज्ञ से संपर्क करें)

No comments

leave a comment