Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / September 25.
Homeहेल्थयोग बनाएंगे श्वसन तंत्र को मजबूत

योग बनाएंगे श्वसन तंत्र को मजबूत

kapalbhati
Share Now

श्वसन तंत्र को मजबूत बनाने के लिए कुछ आसान प्राणायम ज़रूर करने चाहिए। ताकि हमारा फेफड़ा पूरी तरीके से काम करे। हमारे फेफड़े की बनावट मधुमक्खी के छत्ते की तरह होता है। 75 मिलीयन कोशिकाएं होती हैं। मगर इसमें से मात्र 20 मिलीयन कोशिकाएं ही काम करती हैं। बाकी छिद्र में हवा यानी ऑक्सीजन नहीं पहुंचती है।  कई बार इसके कारण ही गम्भीर बीमारी भी होती है। तो चलिए जानते हैं कैसे हम इसको अधिक से अधिक उपयोग में ला सकते हैं। ताकि बाकी के छिद्र भी ऑक्सीजन को फिल्टर कर सकें।

सांस लेने का तरीका बदलें

yoga

freepik

अधिकतर लोग सामान्य तरीके से सांस लेते हैं। लेकिन इस प्रक्रिया को बदलने की जरूरत है। दरअसल सांस लेने का सही तरीका है कि गहरी सांस ली जाए। जो कि सांस लेने का सही तरीका है। ज़ाहिर सी बात है ये हमेशा संभव नहीं है। क्योंकि हमारी आदत नहीं है मगर  इन प्राणायम के अभ्यास से आप इसे कर सकते हैं। जिससे फेफड़ा अधिक काम करेगा। 

कुंभक या सांस रोकना

एक बार सांस लेने में दस सेकंड का समय लगता है। इसमें गहरी सांस लेकर छाती को फूलाना होता है। जोकि लोग नहीं करते हैं। इसमें कुंभक प्राणायम मदद करेगा। इसमें सांस लेकर छाती को फुलाएं और उसे कुछ सेकंड के लिए रोकें। इससे रक्त में ज्यादा ऑक्सीजन ज्यादा पहुंचेगा। इसका अभ्यास रोजाना करें। 

सांस छोड़ना या रेचक

इसे रेचक कहते हैं जिसमें सांस को धीरे धीरे छोड़ते हैं। इस अभ्यास से फेफड़े में मौजूद आखिरी दूषित या जहरीली हवा भी शरीर से निकल जाती है। और फेफड़ा स्वस्थ रहता है। 

अनुलोम विलोम

anulom-vilom

इस प्राणायम में बारी बारी नाक के दोनों छिद्र से सांस लेना और छोड़ना होता है। इसका सही तरीका इस तरह है-

सबसे पहले दाहिने हाथ के अंगूठे से दाईं नाक को बन्द करें, और बाईं नाक से धीरे धीरे सांस अंदर खींचें। ये तब करें जब तक सीने में ऑक्सीजन घर ना जाए। अब अनामिका अंगुली से बाईं नाक बंद करें और दाहिने नाक से सांस बाहर छोडें। ध्यान रहे इसे आराम से करना है। इस प्रक्रिया को शुरू में 5 से 7 बार करें। फिर इसे बढ़ा दें।

mudra-hand

Freepik

कपालभाति

ये प्राणायम मस्तिष्क के लिए बेहद फायदेमंद है। इसके अलावा फेफड़ों की सफाई में ये बहुत मदद करता है। 

ऐसे करें-

इसे करने के लिए सुखासन मुद्रा में बैठ जाएं। 

अब पेट के निचले हिस्से को अंदर खींचे और सांस बाहर छोड़ दें। इसे पहली बार 3 से 5 मिनट तक करें। फिर समय बढ़ा दें। 

नोट-  प्राणायम के लिए वीडियो ज़रूर देख लें।

यहाँ पढ़ें:  कोरोना के इन तीन साथियों से बचकर रहें: (3 Idiots)

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4  

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment