Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeडिफेंसजिस विमान से हुई थी करियर की शुरुआत उसी में बतौर वायुसेना प्रमुख भदौरिया ने भरी आखिरी उड़ान

जिस विमान से हुई थी करियर की शुरुआत उसी में बतौर वायुसेना प्रमुख भदौरिया ने भरी आखिरी उड़ान

IAF Chief RKS Bhadauria
Share Now

वायुसेना प्रमुख राकेश सिंह भदौरिया (IAF Chief RKS Bhadauria) ने बतौर वायुसेना प्रमुख 13 सितंबर को आखिरी उड़ान भरी. संयोग की बात यह है कि जिस मिग-21 से उनके करियर की शुरुआत हुई थी, उसी मिग-21 से उन्होंने आखिरी उड़ान भी भरी. बता दें कि उनके उड़ान करियर की शुरुआत पैंथर्स स्कवॉयड के साथ मिग-21 की उड़ान के साथ शुरू हुई थी. उसी हलवारा एयरबेस पर, उसी स्क्वाड्रन के साथ उन्होंने आखिरी उड़ान भी भरी.

 

भारतीय वायुसेना ने ट्वीट कर इसकी जानकारी शेयर की है. बता दें वायुसेना प्रमुख आरकेएस भदौरिया (IAF Chief RKS Bhadauria) ने 13 सितंबर को उड़ान भरी है, वायुसेना ने आज इसकी जानकारी शेयर की है. बता दें कि स्कवाड्रन का मतलब वायुसेना में एक पूरी यूनिट से है. जिसमें कई सैन्य विमान और उनके एयर क्रू शामिल होते हैं. इसमें एक ही तरह के या फिर अलग-अलग तरह के कई विमान शामिल होते हैं.

रिपोर्ट के मुताबिक ऐसी जानकारी है कि अभी भारत के पास 32 स्कवाड्रन हैं, जिसमें 18-18 फाइटर प्लेन हैं. लेकिन अगर एयरक्राफ्ट की संख्या नहीं बढ़ाई गई तो 2022 तक स्कवाड्रन की संख्या कम हो सकती है. हालांकि राफेल के आने के बाद से 17 स्कवाड्रन गोल्डन एरो एक बार फिर वायुसेना को मजबूती देने के लिए तैयार है. इस स्कवाड्रन की स्थापना 1 अक्टूबर 1951 को हुई थी साल 2016 में भंग होने से पहले यह मिग-21 विमानों का संचालन कर रही थी. इस स्कवाड्रन का काफी गौरवशाली इतिहास रहा है.

MIG 21

Image Courtesy: Google.com

साल 1964 में वायुसेना में शामिल हुआ मिग 21 विमान 

वहीं जहां तक मिग-21 विमान की बात है तो साल 1964 में सुपरसोनिक फाइटर जेट के रूप में इसे भारतीय वायुसेना में शामिल किया था. पाकिस्तान के साथ हुए 1971 और 1999 के युद्ध में मिग-21 ने इतनी अहम भूमिका निभाई थी कि आज भी उसे याद किया जाता है. हालांकि अब दुनिया के कई देश मिग-21 का इस्तेमाल नहीं करते. भारतीय वायुसेना भी अब पुराने मिग 21 विमानों की जगह मिग 21 बाइसन का इस्तेमाल कर रही है. इसके अलावा भारतीय वायुसेना के पास मिराज और सुखोई 30 जैसे कई अत्याधुनिक लड़ाकू विमान हैं.  

ये भी पढ़ें: देश के अगले वायुसेना प्रमुख होंगे एयर मार्शल वीआर चौधरी, आरकेएस भदौरिया की लेंगे जगह

बता दें कि आरकेएस भदौरिया ने बीएस धनोआ की जगह ली थी. 30 सितंबर 2019 को आरकेएस भदौरिया ने वायुसेना प्रमुख का पदभार संभाला था, अब 30 सितंबर 2021 को वो रिटायर होंगे. उनकी जगह वीआर चौधरी वायुसेना प्रमुख का कार्यभार संभालेंगे.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment