Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / June 25.
Homeकहानियांजानिए कौन है Gita Gopinath, अमेरिका में क्यों बज रहा इनके नाम का डंका!

जानिए कौन है Gita Gopinath, अमेरिका में क्यों बज रहा इनके नाम का डंका!

Gita Gopinath
Share Now

IMF Gita Gopinath: गीता गोपीनाथ जिन्हें आज समग्र विश्व में दिग्गज अर्थशास्त्री के रूप में जाना जाता है। आईएमएफ (IMF/ International Finance and Macroeconomics) की चीफ इकोनॉमिस्ट बन चुकी हैं।

वर्तमान समय में अमेरिका की निवासी गीता गोपीनाथ का जन्म 8 दिसंबर 1971 को कोलकाता में हुआ था। उनके पेरेंट्स केरेल के थे और कुन्नूर में रहते थे। गीता ने अपनी शुरुआती शिक्षा कर्नाटक के कॉनवेंट स्कूल से स्कूली प्राप्त की। आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली विश्वविद्यालय के लेडी श्रीराम कॉलेज में एडमिशन लिया और बीए ऑनर्स से इकोनॉमिक्स किया। 

गीता के पिता चाहते थे गीता इंजीनियरिंग करें या मेडिकल लाइन में आगे बढ़े लेकिन गीता को शुरू से ही इकॉनोमिक्स में ज्यादा रुचि थी और आगे की पढ़ाई अमेरिका में रहकर जारी रखी। इस प्रकार गीता गोपीनाथ अमेरिका में ही बस गई और आज विश्व की सफल इकोनॉमिस्ट (IMF Gita Gopinath) बन गई है। गीता का परिवार भारत होने के कारण गीता का इंडिया आना जाना लगा रहता है। 

यहां पढ़ें: Job ना मिलने पर हाथ में विज्ञापन पत्र लेकर लंदन के स्टेशन पर खड़ा हुआ यह आदमी, कुछ ही दिनों में मिली नौकरी

Gita Gopinath with PM

IMF Gita Gopinath with PM Modi 

आईएमएफ गीता गोपीनाथ को प्रवासी भारतीय पुरस्कार से किया गया सम्मानित 

दिल्ली से पढ़ाई पूरी करने के पश्चात वॉशिंगटन जाकर प्रिंसटन यूनिवर्सिटी से वर्ष 1996-2001 में पीएचडी डिग्री प्राप्त की। इस प्रकार इकोनॉमिक्स में गीता ने अच्छी महारत हासिल की। जब पूरी दुनिया कोरोना महामारी से जूझ रही थी, सभी जगह लॉकडाउन था ऐसे समय गीता ने विश्व को आर्थिक मंदी से बाहर निकालने में बड़ी भूमिका निभाई। गीता को वर्ष 2019 में (Pravasi Bharatiya Samman) प्रवासी भारतीय पुरस्कार से सम्मानित किया गया। 

दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक है गीता गोपीनाथ: क्रिस्टीन लेगार्ड (IMF की पूर्व MD)

गीता गोपीनाथ पढ़ाई पूरी करने के बाद शिकागो यूनिवर्सिटी के ग्रेजुएट स्कूल ऑफ बिजनेस में असिस्टेंट प्रोफेसर बनीं। वर्ष 2005 में हार्वर्ड यूनिवर्सिटी में इंटरनेशनल स्टडीज और इकॉनमी के जॉन ज्वांस्ट्रा प्रोफेसर के रूप में कार्यरत रहीं। वर्ष 2010 में आइवी-लीग इंस्टिट्यूट में प्रोफेसर के रूप में कार्यरत रही। उसके बाद वर्ष 2018 में  रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया के पूर्व गवर्नर रघुराम राजन के बाद IMF की चीफ इकॉनोमिस्ट बनने वाली गीता दूसरी भारतीय बनी। IMF की पूर्व प्रबंध निदेशक क्रिस्टीन लेगार्ड ने कहा गीता दुनिया के बेहतरीन अर्थशास्त्रियों में से एक है। 

देखें यह वीडियो: CM inaugurates Youth Parliament of India 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment