Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / October 4.
Homeस्पोर्ट्सविंटर ओलंपिक के राजनयिक बहिष्कार का क्या मतलब है, क्या भारत के खिलाड़ी इसमें हिस्सा लेंगे

विंटर ओलंपिक के राजनयिक बहिष्कार का क्या मतलब है, क्या भारत के खिलाड़ी इसमें हिस्सा लेंगे

olympic
Share Now

चीन के बीजिंग(Beijing Olympics 2022) में 4 से 20 फरवरी तक चलने वाले विंटर ओलंपिक(Winter Olympic) यानि शीतकालीन ओलंपिक 2022 के राजनयिक बहिष्कार का ऐलान भारतीय विदेश मंत्रालय ने किया है. इस ऐलान के बाद से सवाल ये उठ रहे हैं कि आखिर इसका क्या मतलब है, क्या भारत से कोई खिलाड़ी इसमें हिस्सा नहीं लेगा, क्या जिन मुल्कों ने इसके राजनयिक बहिष्कार(Diplomatic Boycott) का ऐलान किया है, वहां के खिलाड़ी इसमें शामिल नहीं होगी. साथ ही सवाल ये भी है कि अगर ये शीतकालीन ओलंपिक होता क्या है, ऐसे ही सवालों के जवाब जानने की कोशिश करेंगे. सबसे पहले ये समझते हैं कि आखिर ये हाल ही में हुए टोक्यो ओलंपिक से कितना अलग है.   

विंटर ओलंपिक क्या होता है

विंटर ओलंपिक(Winter Olympics 2022) की चर्चा के बाद लोग से सोच रहे हैं कि ओलंपिक होते कितने हैं, क्या फिर से ओलंपिक चल रहा है और अगर ओलंपिक ही है तो फिर जो टोक्यो में बीते साल हुआ वह क्या था. दरअसल बीते साल जो ओलंपिक हुआ वह था ग्रीष्मकालीन टोक्यो ओलंपिक 2020(Tokyo Olympics 2020) और अभी वाला ओलंपिक है शीतकालीन बीजिंग ओलंपिक 2022. दरअसल ये ठंड के मौसम में खेला जाता है, और बर्फ पर खेलने वाले ज्यादातर खेल इसमें शामिल होते हैं, इस बार चीन के बीजिंग शहर में इसका आयोजन हो रहा है. हर ओलंपिक के दो साल बाद इसका आयोजन होता है.

विंटर ओलंपिक में कौन-कौन से खेल खेले जाते हैं

अब आप सोच रहे होंगे कि इसमें कौन-कौन से खेल(Winter Olympics Game) खेले जाते हैं, अब चूंकि ठंड के मौसम में होता है इसलिए बर्फ के खास इंतजाम किए जाते हैं. इसमें आइस स्केटिंग, आइस हॉकी, स्कीइंग, फिगर स्केटिंग, स्नोबोर्डिंग जैसे खेल होते हैं. इस बार 7 खेलों में 100 इवेंट का आयोजन होगा. हालांकि इस बार वाले ओलंपिक को लेकर विवाद चल रहा है, कई देशों ने इसके राजनयिक बहिष्कार का ऐलान किया है, जिसमें अमेरिका, ब्रिटेन, कनाडा, ऑस्ट्रेलिया जैसे देश शामिल हैं. इन देशों का कहना है कि मानवाधिकार का हनन करने वाले चीन के द्वारा आयोजित इस ओलंपिक में कोई अधिकारिक प्रतिनिधि हिस्सा नहीं लेंगे. वहीं चीन ने इन देशों को परिणाम भुगतने की चेतावनी दी है.

olympic

Image Courtesy: Google.om

विंटर ओलंपिक में भारत की स्थिति

बहिष्कार के साथ-साथ ये भी जान लीजिए कि अपने मुल्क भारत की इसमें क्या स्थिति है. ओलंपिक में कई मेडल जीतने वाले भारत को अब तक शीतकालीन ओलंपिक में एक भी मेडल नहीं मिला है. भारत की ओर से छह बार शीतकालीन ओलंपिक में हिस्सा लेने वाले शिवा केशवन बड़े नाम हैं. इस बार जम्मू-कश्मीर के रहने वाले आरिफ खान भारत की ओर से हिस्सा ले रहे हैं. वहीं भारतीय विदेश मंत्रालय ने इसके राजनयिक बहिष्कार(Diplomatic Boycott) का ऐलान किया है, जिसके बाद डीडी न्यूज ने इसके उद्घाटन और समापन समारोह का लाइव प्रसारण न दिखाने का ऐलान किया है.

olympic

Image Courtesy: Google.om

ये भी पढ़ें: Tokyo Olympics: ओलंपिक में मेडल पक्का करने वाली बॉक्सर लवलीना की कहानी!

भारत ने क्यों किया राजनयिक बहिष्कार

भारतीय विदेश मंत्रालय(MEA) ने कहा कि चीन ने इस खेल का राजनीतिकरण किया है. दरअसल बीजिंग ओलंपिक 2022 में जिसे मशालवाहक(Olympic Torchbearer) बनाया गया है वह पीपुल्स लिबरेशन आर्मी(PLA) के रेजिमेंट कमांडर क्यूई फैबाओ हैं. गलवान घाटी(Galwan Valley Clash) में भारतीय सेना और चीनी सेना के बीच हुई झड़प के दौरान फैबाओ को सिर में चोट लगी थी, जिसकी वजह से कई महीनों तक अस्पताल में भर्ती रहना पड़ा था. अब चीनी अखबार ने फैबाओ को हीरो करार दिया है. साथ ही बीते कुछ समय से चीन सीमा पर भी नापाक हरकतें कर रहा है. ऐसे में भारत ने इस खेल का राजनयिक बहिष्कार किया है.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment