Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / December 2.
Homeन्यूजउत्तरप्रदेश देश का ऐसा राज्य बनेगा जहां होंगें पांच अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट, 25 नवंबर को प्रधानमंत्री रखेंगे आधारशिला

उत्तरप्रदेश देश का ऐसा राज्य बनेगा जहां होंगें पांच अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट, 25 नवंबर को प्रधानमंत्री रखेंगे आधारशिला

International Airport UP
Share Now

उत्तरप्रदेश देश का ऐसा राज्य बनने वाला है, जहां होंगें पांच अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट। 25 नवंबर को प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी द्वारा जेवर, गौतम बुद्ध नगर, उत्तरप्रदेश में नोएडा अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट (Noida International Airport/NIA) की आधारशिला स्थापित की जाएगी। 

अंतर्राष्ट्रीय एयरपोर्ट के द्वारा उत्तरप्रदेश की क्षमता उजागर होगी और राज्य को वैश्विक लॉजिस्टिक मानचित्र में स्थापित होने में मदद करेगा। सुविधाओं को ध्यान में रखते हुए एयर पोर्ट पर उत्तरी भारत के विमानों के लिए लॉजिस्टिक्स गेट बनाया जाएगा। 

इस हवाई अड्डे का विकास संपर्कता बढ़ाने और भविष्य के लिये तैयार विमानन सेक्टर की रचना में किया जा रहा है। इस विशाल लक्ष्य द्वारा उत्तरप्रदेश को केंद्रित किया गया है, जहां अनेक नये अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डों का विकास हो रहा है, इस विकास के लक्ष्य में कुशीनगर एयर पोर्ट भी शामिल है जिसका हाल में उद्घाटन किया जा चुका है। फिलहाल  अयोध्या में एक अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डे का निर्माण-कार्य चल रहा है।

राजधानी दिल्ली का दूसरा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा 

राजधानी दिल्ली में यह दूसरा अंतर्राष्ट्रीय हवाई अड्डा होगा। एयर पोर्ट के (International Airport UP) निर्माण से इंदिरा गांधी इंटरनेशनल एयरपोर्ट पर भीड़ कम होगी यात्रियों की यात्रा और भी सरल बनेगी। दिल्ली, नोएडा, गाजियाबाद, अलीगढ़, आगरा, फरीदाबाद सहित शहरी आबादी और पड़ोसी क्षेत्रों तक आने जाने की सुविधा प्राप्त होगी। विशाल पैमाने और विस्तृत क्षमता के कारण यूपी के परिदृश्य में बदलाव आएगा। 

  • पहली बार भारत में एकीकृत मल्टी मॉडल कार्गो केंद्र स्थापित किए जाएंगे
  • लॉजिस्टिक सम्बंधी खर्चों और समय को महत्व 
  • कार्गो टर्मिनल की क्षमता 80 लाख मीट्रिक टन होगी।
  • औद्योगिक उत्पादों के निर्बाध आवागमन की सुविधा के जरिये,
  • यह हवाई अड्डा क्षेत्र में भारी निवेश को आकर्षित करने,
  • औद्योगिक विकास की गति बढ़ाने और स्थानीय उत्पादों को राष्ट्रीय तथा
  • अंतर्राष्ट्रीय बाजारों तक पहुंचाने में अहम भूमिका निभायेगा जिससे रोजगार के अवसर बढ़ेंगे।  
  • एयर पोर्ट पर ग्राउंड ट्रांस्पोर्टेशन सेंटर विकसित किया जायेगा,
  • multimodal transit hub, मेट्रो और हाई स्पीड रेलवे के स्टेशन होंगे, टैक्सी, बस सेवा और private parking सुविधा मौजूद होगी
  • एयर पोर्ट के साथ सड़क, रेल और मेट्रो सेवा सीधे उपलब्ध होगी। 

एयर पोर्ट का निर्माण कार्य वर्ष 2024 तक पूर्ण करने का लक्ष्य:  

एयरपोर्ट के विकास 10,050 करोड़ रुपये से अधिक की लागत से किया जा रहा है।  यह 1300 हेक्टेयर से अधिक हेक्टेयर पर फैला है। पहले चरण का निर्माण हो जाने के बाद 1.2 करोड़ यात्रियों को मिलेगी सुविधा। जिसका निर्माण-कार्य 2024 तक पूर्ण करने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है। इसे अंतर्राष्ट्रीय बोली-कर्ता ज्यूरिख एयरपोर्ट इंटरनेशनल एजी क्रियान्वित करेगा। 

एयरपोर्ट में टर्मिनल के नजदीक ही विमानों को खड़ा करने की सुविधा होगी, ताकि उसी स्थान से घरेलू और अंतर्राष्ट्रीय उड़ानों में वायुसेवाओं को आसानी हो। जिससे यात्री अपने डेस्टिनेशन पर जल्दी पहुंच सके और समय की बचत होगी। 

आसपास के सभी प्रमुख मार्ग और राजमार्ग, जैसे यमुना एक्सप्रेस-वे, वेस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे, ईस्टर्न पेरीफेरल एक्सप्रेस-वे, दिल्ली-मुम्बई एक्सप्रेस-वे तथा अन्य भी एयरपोर्ट  से डायरेक्ट जुड़ेंगे। 

देखें यह वीडियो: Kushinagar International Airport 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

No comments

leave a comment