Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Sunday / October 17.
Homeकहानियांभारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस आज, जानिए कब हुई थी भारतीय वायुसेना की शुरुआत

भारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस आज, जानिए कब हुई थी भारतीय वायुसेना की शुरुआत

Indian Air Force History
Share Now

Indian Air Force History: हर साल 8 अक्टूबर को ‘इंडियन एयर फोर्स डे’ मनाया जाता है। देश पर जब भी कोई संकट आता है तो देश की वायु सेना पूरी बहादुरी के साथ तैयार रहती है। भारतीय वायुसेना दिवस देश के लिए काफी अहम दिन है। वायुसेना दिवस का इतिहास (Indian Air Force History) बहुत ही गौरवशाली रहा है। इस दिन वायुसेना के जवानों की बहादुरी और शौर्य और उनके देश की रक्षा के लिए दिए गए बलिदान को याद किया जाता है। इस साल भारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस मनाया जाएगा।

इंडियन एयर फोर्स का इतिहास:

1 अप्रैल 1933 को वायुसेना का पहला दस्ता बना जिसमें 6 आएएफ-ट्रेंड ऑफिसर और 19 हवाई सिपाहियों को शामिल किया गया था। जो आज दुनिया की सबसे ताकतवर सेना में शामिल है। भारतीय वायुसेना दुनिया की चौथी सबसे ताकतवर वायुसेनाओं में शुमार है। अगर वायुसेना की स्थापना की बता करें तो साल 1932 को 8 अक्टूबर के दिन हुई थी, यानी देश की आजादी से भी पहले, उस समय इसे ‘रॉयल इंडियन एयर फोर्स’ कहा के नाम से जाना जाता था। 1947 में देश के आज़ाद होने के साथ इसके आगे से रॉयल शब्द हटाया गया था, उसके बाद से ‘इंडियन एयर फोर्स’ के नाम से पहचान मिली थी। भारतीय वायु सेना का पहला चीफ सर थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट को बनाया गया था।

आजादी से पहले ‘रॉयल इंडियन एयर फोर्स’ था नाम: 

बता दें किसी भी देश की सुरक्षा में वायुसेना की बड़ी अहम भूमिका मानी जाती है। आजादी के बाद से पाकिस्तान सरहद पार से अपनी नापाक हरकतों से बाज नहीं आया है। लेकिन जब-जब भी सामना हुआ है तब-तब देश की सेना ने पाकिस्तान को घुटने टेकने पर मजबूर दिया। 1965 की जंग को शायद ही कोई भारतवासी भुला पाया होगा। उस जंग में पठानकोट से उड़ान भरने वाले 31 स्क्वाड्रन के विमान पाकिस्तानी सेना पर कहर बनकर टूट पड़े थे। भारत की इस ताकत को देखकर अमेरिका, रूस और फ्रांस जैसे बड़े देश भी हैरान रह गए थे। भारतीय वायुसेना का यह ध्‍येय वाक्‍य है। ‘नभ: स्‍पृशं दीप्‍तम, यानी गर्व के साथ आकाश को छूना। यह वाक्य गीता के 11वें अध्‍याय से लिया गया है।

भारतीय वायुसेना दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना: 

बता दें भारतीय वायु सेना ने देश को कई बड़े संकट से बचाने में अहम भूमिका निभाई है। इसमें चार युद्ध में भी भारतीय वायुसेना अपना पराक्रम दिखा चुकी है। इसमें तीन पाकिस्तान के खिलाफ जबकि एक चीन के खिलाफ था। इसके अलावा वायुसेना ने ऑपरेशन विजय, ऑपरेशन मेघदूत, ऑपरेशन कैक्टस, ऑपरेशन पूमलाई, सर्जिकल स्ट्राइक, बालाकोट एयर स्ट्राइक करके दुश्मनों को नेस्तनाबूद किया। भारतीय वायुसेना दुनिया की चौथी सबसे बड़ी वायुसेना है। इसके पास 900 से ज्यादा लड़ाकू और 1720 हवाई जहाज है।

ये भी पढ़ें: राष्ट्रीय रक्षा अकादमी में सी-130 विमान का किया गया सफल परीक्षण

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment