Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Wednesday / October 27.
Homeडिफेंस89वां भारतीय वायुसेना दिवस आज, हिंडन एयरबेस पर जाबांजों ने दिखाए हैरतअंगेज करतब

89वां भारतीय वायुसेना दिवस आज, हिंडन एयरबेस पर जाबांजों ने दिखाए हैरतअंगेज करतब

indian aiforce day celebration
Share Now

हर साल 8 अक्टूबर को इंडियन एयरफोर्स डे मनाया जाता है. देश पर जब भी कोई संकट आता है तो देश की वायु सेना पूरी बहादुरी के साथ तैयार रहती है. भारतीय वायुसेना दिवस देश के लिए काफी अहम दिन है. वायुसेना दिवस का इतिहास बहुत ही गौरवशाली रहा है. इस दिन वायुसेना के जवानों की बहादुरी और शौर्य और उनके देश की रक्षा के लिए दिए गए बलिदान को याद किया जाता है. ऐसे में इस साल हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर भारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस मनाया गया है.

वायुसेना के जाबांजो ने दिखाए करतब

हिंडन एयरफोर्स स्टेशन पर आयोजित कार्यक्रम में वायुसेना के जाबांजों करतब दिखाए. वहीं पावर हैंड ग्लाइडिंग दल के तीन मेंबर्स ने इस स्टेशन के ऊपर से 150 फुट की ऊंचाई उड़ान भरी. पावर हैंड ग्लाइडिंग दल के बाद पैरा मोटर दल ने यहां से 200 फुट की ऊंचाई से उड़ान भर करतब दिखाए.

इस बार इस कार्यक्रम की थीम आत्मनिर्भर और सक्षम रखी गई. एयरफोर्स डे पर इस बार दुनिया का सबसे बड़ा तिरंगा लहराया गया. इस खास दिन पर वायुसेना के विमान सुखोई, राफेल, मिराज, जगुआर और मिग 21 बाइसन डिस्प्लेस पर लगाए गए. इनके साथ-साथ चिनूक और अपाचे हेलीकॉप्टर को भी डिस्प्ले पर लगाया गया.

ये भी पढ़ें: भारतीय वायुसेना का 89वां स्थापना दिवस आज, जानिए कब हुई थी भारतीय वायुसेना की शुरुआत

 तमाम उच्च अधिकारी रहे मौजूद

इस खास मौक पर सेना प्रमुख जनरल एमएम नरवणें भी यहां मौजूद रहे. इसके अलावा नौसेना प्रमुख एडमिरल करमबीर सिंह, सीडीएस जनरल बिपिन रावत भी यहां पहुंचे. वहीं वायुसेना प्रमुख वीआर चौधरी ने वायुसेना के जाबांज सिपाहियों को वायुसेना के मेडल से सम्मानित किया.

ये है वायुसेना का इतिहास

वहीं अगर बात करें वायुसेना के इतिहास की तो 1 अप्रैल 1933 को वायुसेना का पहला दस्ता बना जिसमें 6 आएएफ-ट्रेंड ऑफिसर और 19 हवाई सिपाहियों को शामिल किया गया था. जो आज दुनिया की सबसे ताकतवर सेना में शामिल है. भारतीय वायुसेना दुनिया की चौथी सबसे ताकतवर वायुसेनाओं में शुमार है. अगर वायुसेना की स्थापना की बता करें तो साल 1932 को 8 अक्टूबर के दिन हुई थी, यानी देश की आजादी से भी पहले, उस समय इसे ‘रॉयल इंडियन एयर फोर्स’ कहा के नाम से जाना जाता था. 1947 में देश के आज़ाद होने के साथ इसके आगे से रॉयल शब्द हटाया गया था, उसके बाद से ‘इंडियन एयर फोर्स’ के नाम से पहचान मिली थी. भारतीय वायु सेना का पहला चीफ सर थॉमस डब्ल्यू एल्महर्स्ट को बनाया गया था.

Share

No comments

leave a comment