Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / August 16.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफघर के पास रहते नेवले की उपयोगिता जाने

घर के पास रहते नेवले की उपयोगिता जाने

Indian grey mongoose
Share Now

जानवर हमेशा से ही हम इंसानों के लिए जिज्ञासा का विषय रहे हैं. यह पारिवारिक मजबूती और प्रकृति का संतुलित उपभोग करने के आदर्श उदाहरण होते हैं. प्रत्येक जानवर का स्वभाव और प्रकृति एक दूजे से भिन्न तथा विशिष्ट होता है. नेवला भी एक ऐसा ही एक मांसाहारी प्राणी होता है. जो गज़ब का रोमांच (Adventure) प्रेमी होता है. साथ ही प्रकृति को खोजने (Explore) में भी इसके अलावा कोई दूसरा नहीं. विश्व भर में नेवलों (Indian grey mongoose)Common grey mongoose की लगभग 33 प्रजातियां मिलती है. 

भारतीय ग्रे नेवला (Indian grey mongoose) एक प्रसिद्ध नेवला प्रजाति है. जो मूल रूप से भारतीय उपमहाद्वीप और पश्चिम एशिया में पाई जाती है. कई भारतीय क्षेत्रों में यह आमतौर पर पाई जाती है, साथ ही इसे IUCN रेड लिस्ट में कम चिंताजनक जानवरों की सूची में शामिल किया गया है.

यहाँ भी पढ़ें : मगर इंसान को खाते हुए वीडियो वायरल,लेकिन सच क्या?

(Indian grey mongoose) अपना बसेरा पेड़ों के बीच, बुर्जों, बाड़ों और झाड़ियों में बनाता है. लेकिन कई बार यह चट्टानों या नालियों में भी अपना डेरा बना लेता है. आकार में दूसरे जानवरों से छोटा दिखाई देने वाला यह जीव, ज़बरदस्त साहसी और कुदरत को जानने की तीव्र इच्छा से भरा रहता है. लेकिन इन सभी गुणों में सबसे विशेष गुण, इस जीव का हमेशा सावधान रहने का व्यवहार है.

Indian grey mongoose

Image-Eol

इसकी यही खासियत इसे कई अन्य जीवों से ऊँचे स्तर की श्रेणी में रखती है. साथ ही यह एक कुशल पहाड़ चढ़ने वाला (Climber) जानवर भी है. यह (Indian grey mongoose) नेवले आमतौर पर अकेले अथवा कभी-कभार जोड़े में भी दिखाई दे जाते हैं. यह मांसहारी जीव होते तथा भोजन में चूहे, सांपों, पक्षियों के अंडों तथा हैचलिंग, छिपकलियों और और ढेरों प्रकार के अन्य जीवों को खाते हैं. यहाँ तक कि नदी के किनारे यह कभी-कभी घड़ियाल के अंडे का स्वाद लेते हुए भी दिखाई दे जाते हैं.

प्रजनन के परिपेक्ष्य में यह कुछ अन्य जानवरों के विपरीत वर्ष भर प्रजनन करते हैं. भारतीय ग्रे नेवला (Indian grey mongoose)  टैनी ग्रे (Tawny Grey) अथवा आयरन ग्रे (Iron gray) के बाहरी आवरण के साथ अपने साथी प्रजाति के नेवलों की तुलना में अधिक भूरा (मटमैला), ताकतवर और मोटा प्रतीत होता है. 

Indian grey mongoose

Image-animalia.bio

भारतीय ग्रे नेवले का देखाव

इसके पैर, थूथन और आँख के आसपास के बाल शेष शरीर की तुलना में अधिक गाढ़े भूरे होते हैं. इनकी झाड़ीदार पूंछ लाल होती है जिसका सिरा कुछ मामलों में हल्का पीला अथवा सफ़ेद होता है. इनका शरीर 36 से 45 सेंटीमीटर तक लम्बा हो सकता है. साथ ही पूंछ की लंबाई शरीर की लंबाई के बराबर ही होती है. 

इस नन्हे से जीव का शरीर 0.9 से 1.7 किलो तक वजनी हो सकता है.  नेवलों में नर, मादाओं की तुलना में अधिक बड़े होते हैं, और  (Indian grey mongoose) भारतीय ग्रे नेवले अपने सामान अन्य स्तनधारियों की तुलना में चार रंगो का अंतर कर सकते हैं. 

यहाँ भी पढ़ें :  व्हेल कैसे बनी विश्व की सबसे विशालकाय मछली ?

जैसा की कई अन्य लोग भी करते हैं. भारत के विभिन्न हिस्सों में इन्हे घरों में चूहों, साँपों और अन्य कीटों से बचाव के लिए पालतू जानवर के रूप में रखा जाता है. इस जीव को पूर्णतया मांसाहारी कहना भी उचित न होगा, क्यों कि कई बार इसे पौंधों के हिस्से, फल:जामुन, और कंद मूल खाते हुए भी देखा जा सकता है. लेकिन यह एक निर्दयी शिकारी भी है, जो अपने शिकार के सिर को धड़ से अलग करके खा जाता है. इस प्रजाति के नेवलों के द्वारा ज़हरीले सांपो का शिकार करके खाने के किस्से भारत में बेहद आम हैं. एक शिकारी के तौर पर इसमें गज़ब की फुर्ती होती है, यह रोचक कलाबाज़ियां करते हुए जहरीले साँपों और बिच्छुओं को बुरी तरह थकाकर मारता है.

No comments

leave a comment