Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeन्यूजअफगानिस्तान के हालात पर भारत ने बुलाई बैठक, NSA डोभाल बोले- उम्मीद है हमारे विचार उपयोगी होंगे

अफगानिस्तान के हालात पर भारत ने बुलाई बैठक, NSA डोभाल बोले- उम्मीद है हमारे विचार उपयोगी होंगे

NSA Meet Delhi
Share Now

अफगानिस्तान के हालात (Afghanistan Crisis) पर भारत ने कई देशों के एनएसए की एक बैठक (NSA Meet Delhi) बुलाई है, जिसे दिल्ली रिजनल सिक्योरिटी डायलॉग नाम दिया गया है. जिसका हिंदी मतलब दिल्ली क्षेत्रीय सुरक्षा वार्ता है. जिसका उद्देश्य अफगानिस्तान में तालिबान राज (Taliban Rule) के बाद उत्पन्न हुए हालात को लेकर विचार विमर्श करना है.

दिल्ली में हो रही इस बैठक की अध्यक्षता राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल (NSA Ajit Doval) कर रहे हैं. उन्होंने बैठक में कहा कि मुझे विश्वास है कि हमारे विचार-विमर्श उपयोगी सिद्ध होंगे. साथ ही हमारी सामूहिक सुरक्षा बढ़ाने और अफगानिस्तान के लोगों की मदद करने में भी योगदान मिलेगा.

भारत समेत 8 देशों के एनएसए शामिल

अजीत डोभाल ने आगे कहा कि अफगानिस्तान से जुड़े मुद्दों पर बातचीत करने के लिए हम सभी इकट्ठा (NSA Meet Delhi) हुए हैं. वहां की घटनाओं को हम गौर से देख रहे हैं. बैठक में ईरान, कजाकिस्तान, किर्गिस्तान, रूस, तजाकिस्तान, तुर्कमेनिस्तान और उज्बेकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार/सुरक्षा परिषद के सचिव शामिल हैं.

मानवीय मदद की जरूरत

कजाकिस्तान राष्ट्रीय सुरक्षा समिति के चेयरमैन ने कहा कि हम अफगानिस्तान में पैदा हुए हालात को लेकर चिंतित हैं. अफगानों आर्थिक स्थिति बिगड़ रही है, देश मानवीय संकट का सामना कर रहा है, ऐसे में मानवीय मदद बढ़ाने की जरूरत है.

अफगानिस्तान-कजाकिस्तान बॉर्डर पर हालात जटिल

वहीं ईरान के राष्ट्रीय सुरक्षा परिषद के सचिव ने कहा कि माइग्रेशन संकट (Migration Crisis) है. जिसका समाधान एक समावेशी सरकार ही दे सकती है. इनके अलावा तजाकिस्तान के सुरक्षा परिषद के सचिव ने कहा कि हम पड़ोसी देश अफगानिस्तान की मदद के लिए चलाए जाने वाले किसी भी कार्यक्रम में हिस्सा लेने को तैयार हैं, अफगानिस्तान के साथ हमारी लंबी सीमाएं हैं. मौजूदा हालात की वजह से ड्रग ट्रैफिकिंग और आतंकवाद जैसी समस्याएं बढ़ सकती हैं. तजाकिस्तान और अफगानिस्तान बॉर्डर पर स्थिति तनावपूर्ण बनी हुई है.

ये भी पढ़ें: अफगानिस्तान के मुद्दे पर NSA की हाई लेवल मीटिंग, जानिए भारत के लिए क्यों है खास?

बैठक से संकट का हल निकलने की उम्मीद- तुर्कमेनिस्तान  

किर्गिस्तान के सुरक्षा परिषद सचिव ने कहा कि ये दुनिया में सबसे कठिन स्थिति है. संयुक्त प्रयासों से अफगानिस्तान के लोगों की मदद करने की जरूरत है. वहीं रूस सुरक्षा परिषद के सचिव ने कहा कि इस तरह की बहुपक्षीय बैठकों से अफगानिस्तान में विकास की स्थिति से जुड़े मुद्दों और हालात पर चर्चा करने की मदद मिलेगी. जबकि तुर्कमेनिस्तान के सुरक्षा परिषद के सचिव ने कहा कि इस बैठक से उम्मीद है कि अफगानिस्तान संकट के समाधान का रास्ता मिलेगा.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment