Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeट्रैवेलअब ट्रेन में पहले की तरह मिलेगा गरमागरम खाना, कोविड19 की वजह से लगा था प्रतिबंध

अब ट्रेन में पहले की तरह मिलेगा गरमागरम खाना, कोविड19 की वजह से लगा था प्रतिबंध

Cooked Food In Train
Share Now

कोरोनाकाल में अगर आपने ट्रेन से सफर किया होगा तो देखा होगा कि ट्रेन में खाना नहीं मिल रहा था. आम तौर पर रेलवे की किचेन में पका हुआ खाना यात्रियों को परोसा जाता था लेकिन कोरोनाकाल के दौरान ये सेवा बंद कर दी गई थी. अब इसे दोबारा(Cooked Food In Train) से शुरू करने को लेकर आदेश जारी किया गया है.

अब ट्रेन में मिलेगा गरमागरम खाना

आदेश में ये कहा गया है कि कोरोनाकाल से पहले की तरह सेवाएं शुरू की जा रही हैं. ऐसे में सामान्य ट्रेन की बहाली, यात्रियों की जरूरत और कोविड लॉकडाउन में ढील को ध्यान में रखते हुए रेल मंत्रालय ने ट्रेन में फिर से कुक्ड फूड(Cooked Food In Train) यानि पके हुए भोजन की सेवा शुरू करने का फैसला लिया है. इसके अलावा रेडी टू इट(Ready To Eat) खाना भी मिलता रहेगा.

कोविड पूर्व सेवा बहाली को लेकर जारी किए जा रहे आदेश

बता दें कि रेलवे मंत्रालय(Ministry Of Railways) अब कोरोनाकाल से पहले की तरह ट्रेनों के परिचालन में जुटा है. इसके लिए जरूरी आदेश समय-समय पर जारी किए जा रहे हैं. इससे पहले रेलवे की ओर से ऐसी ख़बर भी आई थी कि अब स्पेशल ट्रेन की बजाय सामान्य ट्रेन चलेगी, जिससे सबसे बड़ा फायदा उन यात्रियों को होगा जो किराया बढ़ने की वजह से ट्रेन में सफर नहीं कर पा रहे थे.

Train

Image Courtesy: Google.com

अभी नहीं मिलेगी कंबल-बेडशीट की सुविधा

हालांकि कोविड पूर्व सेवाओं(Pre Covid Service) को बहाल करने की दिशा में एक-एक कर आदेश जारी करने वाले रेलवे मंत्रालय की ओर से अभी ट्रेन में मिलने वाली कंबल, बेडशीट और सीनियर सिटीजन को दी जाने वाली सुविधाओं को लेकर कोई फैसला नहीं हुआ है. बता दें कि एसी क्लास में सफर करने वाले यात्रियों को रेलवे की ओर से कंबल, बेडशीट और तकिया दिया जाता था लेकिन कोरोनाकाल में ये सुविधा बंद कर दी गई थी.

ये भी पढ़ें: पहले की तरह अब ट्रेनों में कर सकेंगे सफर, स्पेशल ट्रेन और स्पेशल किराया खत्म

सीनियर सिटीजन को लेकर अभी फैसला नहीं

साथ ही ट्रेन में सफर करने वाले 60 साल से ज्यादा उम्र के नागरिकों को किराये में छूट दी जाती थी लेकिन कोरोनाकाल में ये सुविधा भी बंद कर दी गई थी. इसके पीछे ये तर्क दिया गया कि ट्रेन में वही लोग सफर करें जिन्हें ज्यादा जरूरत हो, इसलिए ये सारी सुविधाएं बंद की जा रही हैं.

No comments

leave a comment