Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / May 17.
Homeन्यूजजयपुर जिला प्रमुख चुनाव में बड़ा खेला! कांग्रेस की रमा देवी ने भाजपा से भरा नामांकन

जयपुर जिला प्रमुख चुनाव में बड़ा खेला! कांग्रेस की रमा देवी ने भाजपा से भरा नामांकन

Jaipur Zila Pramukh Chunav
Share Now

Jaipur Zila Pramukh Chunav: राजस्थान में जिला प्रमुख और प्रधान के चुनाव में बड़ा उलटफेर देखने को मिला है। सोमवार को जयपुर (Jaipur Zila Pramukh Chunav) में ही कांग्रेस के साथ बड़ा खेला हो गया। कांग्रेस की टिकट से जीतकर आई रमा देवी ने भाजपा की सदस्यता ग्रहण करके सभी को चौंका दिया। ऐसे में कांग्रेस पार्टी के लिए अब जयपुर जिला प्रमुख का चुनाव बेहद मुश्किल हो गया है। हालांकि कांग्रेस ने रमा देवी पर कार्रवाई करते हुए उन्हें पार्टी से 6 साल के लिए निष्कासित कर दिया है।

congress

जयपुर जिला परिषद में है कुल 51 वार्ड:

बता दें जयपुर जिला परिषद के 51 वार्डों में से 27 वार्डों पर कांग्रेस ने जीत दर्ज की थी। वहीं 24 भाजपा के खाते में गई। जयपुर जिला परिषद में कांग्रेस पार्टी का बोर्ड बनना तय माना जा रहा था। लेकिन चुनाव परिणाम के बाद कांग्रेस पार्टी में भीतरघात हो गया। वार्ड 17 से कांग्रेस की सदस्य रमा देवी चोपड़ा ने पाला बदल लिया। भाजपा ने रमा देवी को जिला प्रमुख के लिए अपना प्रत्याशी बना दिया। सूत्रों के मुताबिक रमा देवी के अलावा एक और कांग्रेस सदस्य के भाजपा में शामिल होने की खबर है। अगर वाकई ऐसा हो जाता है तो जयपुर जिला प्रमुख भाजपा का ही बनना तय माना जा रहा है।

आज शाम को हो जाएगा फैसला:

रमा देवी के भाजपा में शामिल होने के बाद जयपुर में जिला प्रमुख का चुनाव बेहद रोचक हो गया है। भाजपा ने अपने सदस्यों को पहले ही बाड़ेबंदी में कर रखा है। अभी कांग्रेस-भाजपा के पास 26-25 सदस्य है। वहीं जिसके पास 26 का आंकड़ा होगा उसी का जिला प्रमुख बनेगा। दोपहर 3 से शाम 5 बजे तक मतदान होगा। वोटिंग के बाद ही काउंटिंग करके परिणाम घोषित कर दिया जाएगा। अगर किसी ने क्रॉस वोटिंग कर दी तो परिणाम भी अलग हो सकता है।

कांग्रेस-भाजपा में दिखी है जबरदस्त टक्कर:

6 जिलों में हुए पंचायत और जिला परिषद चुनाव में कांग्रेस पार्टी का प्रदर्शन कुछ खास नहीं रहा है। प्रदेश में कांग्रेस की सरकार होने के बावजूद भाजपा ने सभी जिलों में कड़ी टक्कर दी है। 6 में पहले भाजपा के दो बोर्ड बनते दिखाई दे रहे थे। लेकिन अब अगर जयपुर में भाजपा अपना बोर्ड बनाने में कामयाब हो जाती है तो दोनों के तीन-तीन बोर्ड बनेंगे। पंचायत समिति चुनाव में भी दोनों पार्टियों के बीच कांटे का मुकाबला देखने को मिला था।

ये भी पढ़े: पोलियो भी नहीं तोड़ पाया प्रमोद भगत का हौसला, पढ़ें उनके संघर्ष की पूरी कहानी

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment