Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Monday / January 17.
Homeलाइफस्टाइलकोरोना के बढ़ते खतरे के बीच काढ़ा कितना कारगर है जान लीजिए, वरना बड़ा नुकसान हो सकता है

कोरोना के बढ़ते खतरे के बीच काढ़ा कितना कारगर है जान लीजिए, वरना बड़ा नुकसान हो सकता है

kadha
Share Now

कोरोना(Corona) के मामले एक बार फिर तेजी से बढ़ रहे हैं, ऐसे में इससे बचाव के लिए लोग एक बार फिर घरेलू उपचार(Home Remedies) का रूख कर रहे हैं. कोरोना से बचाव के लिए सबसे ज्यादा कारगर अगर कुछ है तो वह काढ़ा है, ऐसा केन्द्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय(Union Health Ministry) तक ने अपनी गाइडलाइन में कहा. यहां तक कि लोगों को सरकार ने काढ़ा(Kadha) पीने के लिए भी प्रेरित हुआ, जिसका आलम ये हुआ कि लोग काढ़ा पीने लगे और उससे लोगों का इम्युनिटी(Immunity Booster) भी मजबूत हुआ. लेकिन अगर आप भी इस बार काढ़े(Kadha) का इस्तेमाल करने वाले हैं तो जरा धैर्य रखिए और पूरी जानकारी लीजिए.

कैसे बनाते हैं काढ़ा

दरअसल काढ़े को बनाने में(Corona Kadha Samagri) पानी, तुलसी, हल्दी, लौंग, काली मिर्च और शहद का इस्तेमाल आम तौर पर किया जाता है. माना जाता है कि हल्दी समेत ये सभी चीजें शरीर में इम्युनिटी को बढ़ाती है. इम्युनिटी यानि की रोग प्रतिरोध क्षमता बढ़ जाने के बाद किसी भी बीमारी से संक्रमित होने का खतरा कम हो जाता है. इसलिए कोरोना(Corona) के बढ़ते खतरे के बीच इसका इस्तेमाल जरूरी है, लेकिन कुछ लोग इसका इस्तेमाल जरूरत से ज्यादा कर रहे हैं.

kadha samagri

Image Courtesy: Google.com

ज्यादा काढ़ा बढ़ा सकता है समस्या

आम तौर पर 24 घंटे में एक से दो बार काढ़ा(Kadha) पीना एक स्वस्थ मनुष्य के लिए पर्याप्त है, लेकिन इससे ज्यादा बार अगर पीएंगे तो क्या होगा इसके बारे में शायद आपने सोचा भी नहीं होगा. इसमें इस्तेमाल होने वाली अधिकतर गर्म तासीर की चीजों का असर ऐसा पड़ता है कि मुंह में छाले निकलने लगते हैं, बदहजमी की समस्या होने लगती है और पेशाब में जलन जैसी समस्या भी होने लगती है. मतलब अगर आप काढ़ा पीकर अपनी इम्युनिटी(Immunity) इसलिए मजबूत करना चाहते हैं कि कोरोना से बच सकें तो अन्य बीमारियों से बचना भी जरूरी है.

ये भी पढ़ें: डेंगू से लेकर पीलिया तक कई बीमारियों में कारगर है गिलोय, ऐसे करें इस्तेमाल

लगातार बढ़ रहे कोरोना के मामले

अब चूंकि एक दिन में एक ही राज्य में कई हजार मामले सामने आ रहे हैं, ओमिक्रान(Omicron) के 1500 से ज्यादा मामले देश में सामने आ चुके हैं तो सावधानी बेहद जरूरी है. जिसमें कोविड प्रोटोकॉल(Covid Protcol) का पालन करना और काढ़ा पीना भी आवश्यक है लेकिन इसकी भी लिमिट जरूरी है. वरना आप किसी गंभीर बीमारी का शिकार हो सकते हैं. इसलिए काढ़े(Kadha) पीने का क्रेज ठीक है लेकिन दिन में एक-दो बार से ज्यादा न पीएं.  

No comments

leave a comment