Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / October 16.
HomeकहानियांKishore Kumar death anniversary: ‘याद करेगी दुनिया तेरा मेरा अफसाना’

Kishore Kumar death anniversary: ‘याद करेगी दुनिया तेरा मेरा अफसाना’

kishor kumar
Share Now

बॉलीवूड की संगीत दुनिया के बेताज बादशाह किशोर कुमार आज भी सबके दिलों में जिंदा है। एक ऐसे सिंगर जिन्होंने 70 और 80 दशक में बॉलीवुड जगत को एक नई पहचान दिलाई। कई बड़े अभिनेताओं की आवाज बने एक से बढ़कर एक सुपरहिट गाने गाए। किशोर दा उर्फ आभास कुमार गांगुली का जन्म 4 अगस्त 1929 को मध्य प्रदेश के खंडवा में हुआ था। मुंबई आकर उन्होंने सिर्फ एक गायक के तौर पर ही नहीं बल्कि शानदार अभिनेता भी बने। आज सभी अभिनेता और राजनेताओं द्वारा किशोर दा की पुण्य तिथि पर उन्हें विनम्रता पूर्वक श्रद्धांजलि देकर याद किया गया। 

वर्ष 1946 में आई फिल्म शिकारी में दिखाया अभिनय का जलवा:-

किशोर कुमार (Kishore Kumar) ने अपने अभिनय का जलवा वर्ष 1946 में आई फिल्म शिकारी में दिखाया। फिल्म में अशोक कुमार ने अपने बड़े भाई के साथ अभिनय किया। वर्ष 1948 में देवानंद  की फिल्म जिद्दी में अपनी आवाज से सभी का दिल जीत लिया और इस प्रकार संगीत के क्षेत्र में आपना कदम रखा। किशोर कुमार केएल सहगल को आपना गुरु मानते थे और उन्हीं की आवाज में गीत गाया। उसके बाद किशोर दा का करियर चमक गया, धीरे धीरे अमिताभ बच्चन, राजेश खन्ना, शत्रुघ्न सिन्हा जैसे दिग्गज अभिनेताओं के लिए गाने गाए। 

किशोर दा ने राजेश खन्ना के लिए 92 फिल्मों में 245 रिकॉर्ड गाने गाए, इस कामियाबी को देखते हुए वर्ष 1997 में मध्य प्रदेश सरकार ने उनके नाम पर अवॉर्ड वितरण शुरू किया।

kishore kumar

kishore kumar, Image Credit: Google Image 

किशोर कुमार की शुरुआती फ़िल्मों में मोहम्मद रफ़ी ने दी थी अपनी आवाज 

  • वर्ष 1954 में बिमल राय की ‘नौकरी’ में एक बेरोज़गार युवक की भूमिका निभाते हुए ज़बर्दस्त अभिनय से प्रतिभा का परिचय दिया 
  • बाद में 1955 में बनी बाप रे बाप, 1956 में नई दिल्ली, 1957 में मि. मेरी और आशा
  • वर्ष 1958 में आई चलती का नाम गाड़ी जैसी दमदार फिल्मों में  किशोर दा ने अपने दोनों भाईयों अशोक कुमार और अनूप कुमार के साथ काम किया
  • संगीत की खोज में किशोर कुमार अपने गुरु समान एस डी बर्मन के पास गए जिन्होंने फिल्म बहार में अपनी आवाज दी,
  • कुसुर आप का गाना काफी सुपरहिट हुआ
  • इसके पहले भी वर्ष 1950 में फ़िल्म प्यार में भी अपनी आवाज दी। 

यहां पढ़ें: अजय देवगन एडवेंचर करते नजर आएंगे बेयर ग्रिल्स के साथ, एक नजर ट्रेलर पर

 इस प्रकार से संगीत की दुनिया में कदम रखते ही किशोर दा ने सभी के दिलों पर राज किया और वर्ष 1940 से 1980 के बीच करीब 574 से अधिक गाने गाए। आज भी सभी के दिलों में राज कर रहे हैं। 

किशोर दा ने तमिल, मराठी, असमी, गुजराती समेत कई भाषाओं में गीत गाए:- (Kishore Kumar)

किशोर कुमार ने हिन्दी भाषा समेत तमिल, मराठी, असमी, गुजराती, कन्नड़, भोजपुरी, मलयालम और उड़िया फ़िल्मों में भी सुपरहिट गाने गाए। पहला फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कार वर्ष 1969 मेंबनी फिल्म अराधना के गीत ‘रूप तेरा मस्ताना प्यार मेरा दीवाना’ के लिए दिया गया था। इस प्रकार से उन्हें आठ फ़िल्मफ़ेयर पुरस्कारों से सम्मानित किया गया।

इसके अलावा किशोर दा ने 81 फ़िल्मों में शानदार अभिनय किया और 18 फ़िल्मों का स्वयं निर्देश भी किया। लेकिन एक ऐसा किरदार भी था जो उनके डील के काफी करीब था फ़िल्म ‘पड़ोसन’ में किया गया अभिनय हमेंशा उनके साथ रहा अपनी रियल लाईफ में भी निभाते रहे। किशोर दा का निधन दिल का दौरा पड़ने से मात्र 58 वर्ष की उम्र में 13 अक्टूबर 1987 में हुआ। 

देखें यह वीडियो: बॉलीवुड की चटपटी खबरें आंटी और खबरी के साथ 

 

देश दुनिया की खबरों को देखते रहें, पढ़ते रहें.. और OTT INDIA App डाउनलोड अवश्य करें.. स्वस्थ रहें..

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment