Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Thursday / September 29.
Homeनेचर एंड वाइल्ड लाइफयह छिपकली क्यों फैलाती हैं अपना पंखा!

यह छिपकली क्यों फैलाती हैं अपना पंखा!

Fan throated lizards
Share Now

Fan throated lizards जमीन पर रहकर शिकार करने वाली छोटी छिपकली है. प्रजनन के मौसम के दौरान नर अपने गले पर बहुरंगी, पंखे के आकार की त्वचा को  दिखाते हैं. 1829 में भारत से उनकी खोज के बाद से, देश में पाए जाने वाली फैन-थ्रोटेड छिपकलियों (Fan throated lizards ) की विविधता का विस्तृत मूल्यांकन किया गया है. वैज्ञानिकों ने अब उनके लगभग सभी संभावित आवासों की खोज की है और निष्कर्ष निकाला है कि भारत में कम से कम 15 विभिन्न प्रजातियां हैं.

वैज्ञानिकों के मुताबिक 2 जेनेरा में से 15 विभिन्न प्रजातियां है. यह जेनेरा का नाम है Sitana और Sarada. क्योंकि वे सूखी और बंजर मिट्टी में रहते हैं, जब दोपहर की गर्मी उन्हें मिलने लगती है तो वे अपने पिछले पैरों पर इधर-उधर भागते हैं. पंखे  वाली छिपकली दक्षिण एशिया के कुछ हिस्सों तक ही सीमित हैं. 

Fan throated lizards

Credit: Varad Giri

Sarada darwini  प्रजाति दक्षिण महाराष्ट्र और उत्तरी कर्नाटक के घास के मैदानों और कपास के खेतों में समुद्र तल से 1804 से 2231 फीट की ऊंचाई पर पाई जाती है. यह गहरे भूमिगत दरारों में रहता है और कभी-कभी जोड़े में घास, टहनियों, चट्टानों और टीले के टफ्ट्स पर देखा जा सकता है. प्रजनन मई में होता है और अक्टूबर में नव-नवजात युवाओं को जन्म देती हैं. दूसरी प्रजातियां भारत के अनेक क्षेत्र से मिली है. Sitana ponticeriana यह प्रजाति भारत के काफी राज्यों में देखने को मिलती है.

यहाँ भी पढ़ें : जाने फ्लेंमिंगो के गुलाबी पंख का रहस्य

यौन-परिपक्व पुरुषों के बड़े dewlap पर पीले रंग की धारियों के साथ इंद्रधनुषी नीले, काले और नारंगी रंग के धब्बे होते हैं.जो नारंगी रंग पेट तक नीचे तक फैला हुआ होता है. यह प्रजाति का नाम चार्ल्स डार्विन के नाम पर रखा गया है, जिन्होंने सरीसृपों में माध्यमिक यौन लक्षणों को स्पष्ट करने के लिए अपनी पुस्तक ( The Descent of Man, and Selection in Relation to Sex) द डिसेंट ऑफ मैन, एंड सेलेक्शन इन रिलेशन टू सेक्स में फैन-थ्रोटेड छिपकली के गले के पाउच का उल्लेख किया है.

Fan throated lizards

Credit: Varad Giri

 

नर (Fan throated lizards) फैन-थ्रोटेड छिपकली अपने होने वाले साथी को फैन (FAN)  फुलाकर उसे लुभाने के लिए अपने dewlap  का उपयोग करता है. यह त्वचा के नीचे एक कार्टिलाजिनस (cartilaginous) संरचना के विस्तार द्वारा संभव बनाया गया है. प्रदर्शन करते समय, नर ऊंची जमीन पर चढ़ते हैं. जैसे कि एक पत्थर या पेड़ की शाखा – फिर अपनी पीठ को ऊपर की ओर झुकाते हैं और पंखे को फैलाते हैं. 

यहाँ भी पढ़ें : तो क्या लुप्त होने की कगार पर है समुद्री कछुए ?

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

No comments

leave a comment