Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / September 24.
Homeट्रैवेलजानिए क्या है IATA ट्रैवल पास और हवाई सफर करने वालों के लिए क्यों है जरूरी ?

जानिए क्या है IATA ट्रैवल पास और हवाई सफर करने वालों के लिए क्यों है जरूरी ?

iata
Share Now

कोरोना के बढ़ते कहर ने लोगों के रहन-सहन और अर्थव्यवस्थआ को इतनी बुरी तरह बर्बाद किया कि उससे उबरने के अलग-अलग जतन किए झा रहे हैं. अलग-अलग देशों में लोगों को लगाई जा रही वैक्सीन जीवनरक्षक का काम कर रही है. वैक्सीनेशन इस कदर अनिवार्य कर दिया गया है कि इसके बगैर लोग रोजी-रोटी की तलाश में काम करने भी दूर नहीं जा सकते.

कोरोना की दूसरी लहर के बाद इंटरनेशनल फ्लाइट खोले जाने के बीच वैक्सीन पासपोर्ट की चर्चा सामने आई, अब आम तौर पर पासपोर्ट तो विदेश जाने के लिए जरूरी होता है लेकिन ये वैक्सीन पासपोर्ट (Vaccine Passport) क्या है, इसे ऐसे समझिए कि अगर आपने वैक्सीन लगवा ली है तो आपको वैक्सीन पासपोर्ट मिल सकता है, हालांकि जी-7 बैठक में भारत ने वैक्सीन पासपोर्ट का विरोध किया था. अब इस वैक्सीन पासपोर्ट की तरह ही उड़ान भरने वालों के लिए एक IATA ट्रैवेल पास आ गया है. जिसे समझने के लिए आपको पहले IATA को समझना होगा.

जानें क्या है IATA ट्रैवल पास

दरअसल IATA का पूरा नाम इंटरनेशनल एयर ट्रांसपोर्ट एसोसिएशन है, जिसका कई विमान कंपनियों से इसे लेकर करार हुआ है, जिसमें इंडिगो और स्पाइसजेट जैसी कंपनी शामिल है. स्पाइसजेट ने तो 23 अगस्त यानि आज से ही इस पास को मुंबई से माले जाने वाले यात्रियों के लिए शुरू करने की बात कही थी. अब आप सोच रहे होंगे कि ये पास आखिर है क्या, तो पास (IATA Travel Pass) का मतलब सिर्फ इतना सा है कि ये एक मोबाइल ऐप की तरह है जो कागज की बजाय डिजिटल रूप से ये बताने में मदद करेगा कि आपने वैक्सीन लगवाई कि नहीं. न सिर्फ वैक्सीनेशन बल्कि टेस्टिंग का भी इसके पास रिकॉर्ड होगा. इसके लिए बकायदा ये रजिस्टर्ड लैब से जुड़ा होगा. कुल मिलाकर ये पास आपकी हवाई यात्रा को दस्तावेजी तौर पर मैनेज करेगा.

ये भी पढ़ें: Ramsar sites: भारत के चार और wetlands को मिली रामसर स्थल….

इजरायल शुरू किया था वैक्सीन पासपोर्ट 

हो सकता है आप सोच रहे हों कि आखिर इसकी जरूरत क्या है, अगर सबकुछ ठीक चल रहा है, लोग वैक्सीन लगवा रहे हैं और फिर यात्रा कर रहे हैं तो इसकी जरूरत क्यों है, तो इस सवाल का जवाब ये है कि विदेशों से आने वाले कई लोग कोरोना संक्रमित मिले हैं, पहली लहर और दूसरी लहर में आम तौर पर ऐसा ही देखने को मिला. ऐसे में दुनिया के कई देशों ने ये विकल्प सोचा कि ऐसी कोई व्यवस्था लाई जाए जिससे यात्री के स्वास्थ्य के बारे में पूरी जानकारी मिल जाए, इसी को ध्यान में रखते हुए वैक्सीन पासपोर्ट की चर्चा शुरू हुई और इजरायल ने तो लागू भी कर दिया. मतलब हिन्दुस्तान से अगर आप इजरायल जाते हैं तो आपको वैक्सीन पासपोर्ट की जरूरत पड़ेगी.

IATA पास में होंगी ये जानकारियां 

आम तौर पर IATA पास (IATA Travel Pass) में आपके हेल्थ से जुड़ी जानकारी जैसे- वैक्सीनेशन का ई-सर्टिफिकेट, ई-पासपोर्ट की कॉपी और कोरोना टेस्ट की रिपोर्ट अपलोड होगी. जिसकी मदद से संबंधित देश के अधिकारी और एयरलाइंस को यात्री के स्वास्थ्य के बारे में पूरी जानकारी मिल पाएगी. फिलहाल स्पाइसजेट ने इंडिया से माले जाने वाले यात्रियों के लिए इसे लागू किया है.   

 

ये विदेशी एयरलाइंस भी हैं शामिल 

फिलहाल इस पहल में इंडिगो और स्पाइसजेट के अलावा ब्रिटिश एयरवेज, एयर फ्रांस, सिंगापुर एयरलाइंस और कतर एयरवेज के अलावा कई इंटरनेशनल एयरलाइंस शामिल हैं. हालांकि इसकी सबसे बड़ी खामी ये है कि जिस देश में वैक्सीन की किल्लत है, जिस गरीब देश में वैक्सीनेशन का काम धीरे चल रहा है वहां के लोग वैक्सीन पासपोर्ट (Vaccine Passport) कैसे ले पाएंगे.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

iOS: http://apple.co/2ZeQjTt 

No comments

leave a comment