Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / January 25.
Homeन्यूजराष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगाई मुहर, रद्द हुए तीनों कृषि कानून

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने लगाई मुहर, रद्द हुए तीनों कृषि कानून

Krishi Kanoon Bill:All the three agricultural laws were sealed by President Ram Nath Kovind
Share Now

Krishi Kanoon Bill: हाल ही में देश के प्रधानमंत्री ने कृषि कानूनों को रद्द करने का फैसला किया. जिसके बाद से ये उम्मीद लगाई जाने के लगी कि किसानों का आंदोलन खत्म हो जाएगा. लेकिन ऐसा नहीं हुआ प्रधानमंत्री के ऐलान के बाद भी किसानों का आंदोलन जारी है. अब किसान नई मांगों को लेकर जिद पर अड़े हैं.

लेकिन आज कृषि कानून (Krishi Kanoon Bill) वापसी बिल पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने अंतिम मुहर लगा दी है. इसी के साथ तीनों कृषि कानून अब औपचारिक रूर से निरस्त हो गए हैं. इससे पहले संसद सत्र के पहले दिन लोकसभा और राज्यसभा में तीनों कृषि कानून वापसी बिल पारित हो गए थे. एक कानूनों के विरोध में किसान दिल्ली समेत भारत की कई सीमाओं पर धरना दे रहे हैं.

इसे भी पढ़े: संसद में किसानों की मौत पर सरकार का जवाब, कहा- ‘आंदोलन के कारण किसानों की मौत का नहीं हमारे पास कोई रिकोर्ड’

लोकसभा में कृषि कानून को वापस लेने के लिए बिल पारित कराया गया था. लोकसभा के बाद इस बिल को राज्यसभा से भी पारित करा लिया गया है.संसद सदस्यों के भारी हंगामे के बीच ध्वनिमत   से विधेयक को पारित कराया गया है. हालांकि सरकार के इस कदम को लेकर विपक्ष का कहना है कि पांच राज्यसभा चुनाव में होने वाले विधानसभा चुनाव के नुकसान से बचने के लिए बीजेपी सरकार ने ये फैसला लिया है. ताकी आगामी चुनाव में पार्टी को हार का सामना ना करना पड़े.   

आपको बता दें कि 4 दिसंबर को सिंघु बॉर्डर पर होने वाली 40 किसान संगठनों की बैठक रद्द हो गई हैं. किसान मोर्चा ने ये फैसला कानूनों के रद्द करने के बाद लिया है. लेकिन अब भी किसान नेता राकेश टिकैत अपनी मांगो को लेकर सरकार के सामने अपना पक्ष रख रहे हैं. किसान नेता राकेश टिकैत का कहना है कि सरकार एमएसपी समेत अन्य मांगों पर भी विचार करे तभी इस आंदोलन को खत्म किया जाएगा. 

No comments

leave a comment