Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Saturday / October 16.
Homeन्यूजLakhimpur Kheri Violence: सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से मांगे कई सवालों के जवाब, कल फिर होगी सुनवाई

Lakhimpur Kheri Violence: सुप्रीम कोर्ट ने यूपी सरकार से मांगे कई सवालों के जवाब, कल फिर होगी सुनवाई

SC ON Lakhimpur Kheri Violence
Share Now

लखीमपुर खीरी हिंसा केस (Lakhimpur Kheri Violence) में सुप्रीम कोर्ट ने उत्तर प्रदेश सरकार(UP Government) से कई सवालों के जवाब मांगे हैं. एफआईआर से लेकर गिरफ्तारी तक से जुड़े कई सवालों के जवाब सुप्रीम कोर्ट ने मांगे हैं. सुप्रीम कोर्ट ने इस मामले की स्टेट्स रिपोर्ट (Status Report)  8 अक्टूबर तक उत्तर प्रदेश सरकार को जमा करने के निर्देश दिए हैं.

सुप्रीम कोर्ट ने मांगी विस्तृत रिपोर्ट

जानकारी के मुताबिक सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने उत्तर प्रदेश सरकार से एक विस्तृत रिपोर्ट मांगी थी. जिसमें इस बात का जिक्र भी हो कि कितने लोगों की मौत हुई, कितने के खिलाफ एफआईआर दर्ज हुई और किस-किसकी गिरफ्तारी हुई. अब तक की जानकारी के मुताबिक एफआईआर में केन्द्रीय मंत्री के बेटे का नाम शामिल हैं, ख़बर कि आशीष मिश्रा की  तलाश में पुलिस जुटी हुई है.   

जनहित याचिका की तरह दर्ज होना था मामला

चीफ जस्टिस एनवी रमन्ना, जस्टिस सूर्यकांत और जस्टिस हिमा कोहली की बेंच ने सुनवाई के दौरान ये भी कहा कि सुप्रीम कोर्ट के दो वकीलों की चिट्ठी हमें इस मामले पर सुनवाई के लिए मिली थी. जिसके आधार पर हमने पीआईएल (PIL) के तहत इस मामले को दर्ज करने का आदेश दिया था लेकिन कंफ्यूजन की वजह से यह मामला स्वत:  संज्ञान के तहत दर्ज हो गया.

3 अक्टूबर को हुई थी हिंसा

बता दें कि लखीमपुर खीरी (Lakhimpur Kheri Violence) में 3 अक्टूबर को हुई हिंसा में चार किसान और एक पत्रकार समेत 8 लोगों की मौत हो गई. घटना के बाद से सोशल मीडिया पर कई ऐसे वीडियो भी सामने आए जिसमें एक जीप किसानों को कुचलती हुई दिख रही है. इस घटना के बाद से केन्द्रीय मंत्री अजय मिश्रा के बेटे आशीष मिश्रा सवालों के घेरे में हैं. वहीं दूसरी ओर विपक्ष लगातार सरकार पर सवाल खड़े कर रहा है.

ये भी पढ़ें: लखीमपुर हिंसा! प्रियंका गांधी ने यूपी में योगी सरकार के साथ बढ़ाई सपा-बसपा की टेंशन!

राहुल गांधी ने परिजनों से की मुलाकात

बुधवार को कांग्रेस सांसद राहुल गांधी अपनी बहन प्रियंका गांधी के साथ लखीमपुर खीरी पहुंचे, जहां उन्होंने पीड़ित परिजनों से मुलाकात की, वहीं इस घटना के बाद से कई विपक्षी नेता परिजनों से मुलाकात करने पहुंच रहे हैं. उससे पहले प्रशासन की ओर से अनुमति नहीं दिए जाने को लेकर कांग्रेस ने सवाल भी खड़े किए थे.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment