Ott India News Logo
Recent Posts
Connect with:
Tuesday / November 30.
Homeन्यूजमां अन्नपूर्णा की 100 साल पुरानी मूर्ति कनाडा से आई वापस, काशी विश्वनाथ में होगी स्थापित

मां अन्नपूर्णा की 100 साल पुरानी मूर्ति कनाडा से आई वापस, काशी विश्वनाथ में होगी स्थापित

Maa Annapurna
Share Now

मां अन्नपूर्णा (Maa Annapurna) की 100 साल पुरानी मूर्ति कनाडा से वापस लाई गई है. अब इस प्रतिमा को काशी विश्वनाथ में स्थापित किया जाएगा, जिसे लेकर तैयारियां जोरों पर हैं. केन्द्रीय विदेश राज्यमंत्री मीनाक्षी लेखी ने कहा कि 100 साल पहले मां अन्नपूर्णा की मूर्ति वाराणसी से चोरी हुई थी, वह कनाडा से हाल ही में वापस आई है. 15 नवंबर को मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा काशी विश्वनाथ (Kashi Vishwanath) में स्थापित की जाएगी.

4 दिनों की अन्नपूर्णा यात्रा के बाद स्थापित होगी मूर्ति

प्रतिमा स्थापित करने से पहले आज केन्द्र सरकार मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा (Maa Annapurna Idol) को उत्तर प्रदेश सरकार को सौंपेंगी. जिसे लेकर उत्तर प्रदेश सरकार के एडिशनल चीफ सेक्रेटरी, होम डिपार्टमेंट ने कहा कि उत्तर सरकार 4 दिनों की अन्नपूर्णा देवी यात्रा निकालेगी, जिसके बाद बाबा विश्वनाथ मंदिर में प्रतिमा की स्थापना की जाएगी. जानकारी के मुताबिक पुर्नस्थापना यात्रा के माध्यम से 18 जिलों में भक्त मां के दर्शन कर सकेंगे.

15 नवंबर को होगी मूर्ति की स्थापना

15 नवंबर को देवोत्थान एकादशी के अवसर पर पूरे विधि-विधान मां अन्नपूर्णा की प्रतिमा काशी विश्वनाथ मंदिर में स्थापित की जाएगी. इस दौरान सूबे के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ भी मौजूद रहेंगे. मीडिया रिपोर्ट्स की मानें तो 18वीं शताब्दी में यह प्रतिमा काशी के एक घाट से चोरी हुई थी. उसके बाद मूर्ति को कनाडा ले जाया गया. जहां मैकेंजी आर्ट गैलरी में रेजिना विश्वविद्यालय के संग्रहालय में यह प्रतिमा लगाई गई थी.

ये भी पढ़ें: अमेरिका से ये खास उपहार लेकर लौटे पीएम मोदी, पुरावशेष और कलाकृतियों की देखें तस्वीरें

पुरावशेषों और कलाकृतियों को वापस लाने में जुटी मोदी सरकार

हालांकि बाद में प्रतिमा की पहचान हुई और फिर विश्वविद्यालय की ओर से इसे भारत सरकार को सौंप दिया गया. बता दें कि कलाकृतियों और पुरावशेषों को विदेश से भारत लाने को लेकर सरकार प्रतिबद्ध है. सितंबर के महीने में जब प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी (PM Modi) ने अमेरिका का दौरा किया था तो उस वक्त वहां से कई कलाकृतियां और पुरावशेष लेकर लौटे थे. संयुक्त राज्य अमेरिका की ओर से पीएम मोदी की 157 कलाकृतियां और पुरावशेष भेंट किए गए हैं. साथ ही बाइडेन प्रशासन ने सांस्कृतिक वस्तुओं की चोरी, अवैध व्यापार और तस्करी से निपटने के प्रयासों को और अधिक मजबूत करने की अपनी प्रतिबद्धता भी दोहराई थी.

अधिक रोचक जानकारी के लिए डाउनलोड करें:- OTT INDIA App

Android: http://bit.ly/3ajxBk4

IOS: http://apple.co/2ZeQjTt

No comments

leave a comment